BREAKING NEWS

न्यायालय से संपर्क करने से पहले राज्यपाल को सूचित करने की कोई जरूरत नहीं : येचुरी◾ममता ने एनपीआर,जनसंख्या पर केन्द्र की बैठक में नहीं लिया भाग◾सिंध में हिंदू समुदाय की लड़कियों के अपहरण को लेकर भारत ने पाक अधिकारी को किया तलब◾नड्डा का 20 जनवरी को निर्विरोध भाजपा अध्यक्ष चुना जाना तय◾हमें कश्मीर पर भारत के रुख को लेकर कोई शंका नहीं है : रूसी राजदूत◾IND vs AUS : भारत की दमदार वापसी, ऑस्ट्रेलिया को 36 रनों से हराया, सीरीज में बराबरी◾दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए 48 और नामांकन दाखिल◾राउत को इंदिरा गांधी के बारे में टिप्पणी नहीं करनी चाहिए थी : पवार◾कश्मीर में शहीद सलारिया का सैन्य सम्मान से अंतिम संस्कार, दो महीने की बेटी ने दी मुखाग्नि ◾बुलेट ट्रेन परियोजना के लिये भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया के खिलाफ याचिकाओं पर न्यायालय करेगा सुनवाई ◾चुनाव में ‘कांग्रेस वाली दिल्ली’ के नारे के साथ प्रचार में उतरी कांग्रेस◾यूपी सीएम योगी ने हिमस्खलन में कुशीनगर के शहीद जवान की मृत्यु पर गहरा शोक व्यक्त किया◾TOP 20 NEWS 17 January : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾निर्भया के गुनहगारों का नया डेथ वारंट जारी, 1 फरवरी को सुबह 6 बजे होगी फांसी◾दिल्ली चुनाव के लिए BJP ने जारी की 57 उम्मीदवारों की पहली सूची◾निर्भया केस : स्मृति ईरानी ने राष्ट्रपति का जताया आभार, केजरीवाल पर साधा निशाना◾CAA के विरोध प्रदर्शन में जामा मस्जिद पहुंचे चंद्रशेखर, समर्थकों के साथ मिलकर पढ़ी संविधान प्रस्तावना◾आरोपी की दया याचिका को पर राष्ट्रपति के फैसले का निर्भया के पिता ने किया स्वागत◾आजम खान के बेटे को सुप्रीम कोर्ट से झटका, हाईकोर्ट के फैसले पर रोक लगाने से इनकार◾शिवाजी या इंदिरा का नाम कभी भी सियासी फायदे के लिए नहीं लिया : शिवसेना◾

सटीक नहीं होता लोकसभा चुनाव का एग्जिट पोल, जानिए पिछले ट्रैक रिकॉर्ड !

मतदान सर्वेक्षण (एग्जिट पोल) पर अगर भरोसा किया जाए तो नरेंद्र मोदी सरकार की सत्ता में वापसी होने जा रही है। मगर अतीत में देखा गया है कि चुनाव सर्वे एजेंसियों का अनुमान असली नतीजों के करीब नहीं पहुंच पाते। वर्ष 2014 में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) 'मोदी लहर' पर सवार होकर 336 सीटों के साथ सत्ता में आई थी।

मगर बड़े मतदान सर्वेक्षकों में सिर्फ टुडेज चाणक्य ने राजग का आकड़ा 300 के पार जाने का अनुमान लगाया था। इसको छोड़कर बाकी सबका अनुमान गलत साबित हो गया था। चाणक्य ने राजग को 340 सीटें मिलने का अनुमान लगाया था और भाजपा को 291 दिया था, जबकि भाजपा 282 सीटें जीती। उस बार एबीपी-नीलसन ने राजग को 281 सीटें दी थी, जबकि टाइम्स नाउ ने 249 दिया था।

bjp

सीएनएएन-आईबीएन-सीएसडीएस लोकनीति ने राजग को 272-280 के बीच दिखाया था। अन्य के अनुमानों पर गौर करें तो हेडलाइंस टुडे और इंडिया टीवी-सी वोटर ने राजग को क्रमश: 261-283 और 289 सीटें मिलने का अनुमान लगाया था। इसी तरह, वर्ष 2009 में सबका अनुमान गलत साबित हो गया था।

लोकसभा चुनाव 2019 : एग्जिट पोल में फिर Modi सरकार , NDA 300 पार

एग्जिट पोल में बताया गया था कि राजग, संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) से सत्ता छीन लेगा, जबकि संप्रग ने सत्ता पर अपकी पकड़ बरकरार रखी और कांग्रेस 2004 में मिली 145 सीटों के मुकाबले बढ़त लेकर 206 तक जा पहुंची। स्टार न्यूज-एसी नीलसन का अनुमान था कि राजग को 197 सीटें मिलेंगी, मगर 159 सीटें मिली थीं। टाइम्स नाउ ने उसे 183 दिया था। अन्य सर्वेक्षणों में एनडीटीवी और हेडलाइंस टुडे ने राजग को क्रमश: 177 व 180 दिया था।

वर्ष 2004 में आउटलुक-एमडीआरए और स्टार-सी वोटर ने अनुमान लगाया था कि अटल बिहारी वाजपेयी भाजपा की 290 और राजग की 275 सीटों के साथ सत्ता में वापसी करने जा रहे हैं, मगर ऐसा हो न पाया। अन्य मतदान सर्वेक्षकों में आजतक और एनडीटीवी ने भी अनुमान लगाया था कि राजग कांग्रेस से बेहतर प्रदर्शन करते हुए 248 से 250 सीटें ले आएगा, मगर गलत साबित हो गया।