BREAKING NEWS

हिमंत बिस्व सरमा ने असम के 15वें मुख्यमंत्री के रूप में ली शपथ, समारोह में शामिल हुए जेपी नड्डा◾CWC मीटिंग में चुनावी हार पर बोलीं सोनिया- हमें चीजों को करना होगा दुरुस्त, केंद्र से की फ्री वैक्सीन की मांग ◾अमेरिका के हाथ लगी विस्फोटक रिपोर्ट, कोरोना के जरिए जैविक युद्ध लड़ने के लिए चीन ने 2015 में की थी जांच◾देश में कोरोना से हालत ख़राब, 10 राज्यों से आए महामारी के 73 प्रतिशत से अधिक केस◾विधानसभा चुनाव नतीजों पर CWC मीटिंग में मंथन, कोरोना संकट को लेकर भी होगी चर्चा ◾विदेशी सहायता लेने पर राहुल ने की आलोचना, कहा- केंद्र ने अपना काम किया होता तो ये नौबत नहीं आती◾देश में कोरोना मामलों में आई मामूली गिरावट, पिछले 24 घंटे में 3 लाख 66 हजार नए केस, 3748 लोगों की मौत ◾देशभर में कोरोना का कहर बरकरार, जानिये किस राज्य में है सख्त कर्फ्यू और कहां पर लॉकडाउन जैसी पाबंदियां◾राज्यपाल के सामने सरकार के गठन का दावा पेश करने के बाद हिमंत बिस्व सरमा आज लेंगे मुख्यमंत्री पद की शपथ◾विश्वभर में कोरोना का कहर जारी, संक्रमित मामलों की संख्या 15.79 करोड़ के पार, अमेरिका बना सबसे प्रभावित देश ◾कोरोना महामारी से जूझ रहा भारत, संकट से उबरने के लिए लोगों का वैक्सीनेशन ही एकमात्र समाधान : फाउची◾पश्चिम बंगाल : मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का कैबिनेट शपथ ग्रहण आज, 43 विधायक लेंगे शपथ ◾महाराष्ट्र में नीचे आ रहा कोरोना का ग्राफ, 24 घंटे में संक्रमण से 572 मरीजों की मौत, 48 हजार नए केस ◾थरूर ने हर्षवर्धन पर साधा निशाना, कहा- देश की सांस फूल रही है और स्वास्थ्य मंत्री को कुछ और हकीकत दिख रही है◾पश्चिम बंगाल : राज्‍यपाल धनखड़ ने TMC के 4 नेताओं के खिलाफ केस चलाने की दी मंजूरी◾काबुल के स्कूल में हुए आतंकी हमले की भारत ने की निंदा, कहा- आतंकवादियों के अभयारण्यों को ध्वस्त करने की तत्काल जरूरत◾हरियाणा में बढ़ाया गया 1 हफ्ते का लॉकडाउन, 17 मई तक जारी रहेंगी पाबंदियां◾CM केजरीवाल ने हर्षवर्धन को लिखा पत्र, दिल्ली को प्रतिमाह 60 लाख वैक्सीन उपलब्ध कराने की मांग की◾कोविड19 की सामग्री पर जीएसटी हटाने से महंगी होंगी दवाएं : वित्त मंत्री सीतारमण ◾पंजाब: अमरिंदर ने PM मोदी से ऑक्सीजन का कोटा, वैक्सीन की आपूर्ति बढ़ाने का किया अनुरोध◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

बर्ड फ्लू को लेकर FSSAI ने जारी किए दिशानिर्देश, कहा- अधपके अंडे और चिकन खाने से बचें लोग

देश में कोरोना महामारी से जारी जंग के बीच भारत में बर्ड फ्लू की दस्तक ने माहौल और ज्यादा चिंताजनक बना दिया है। वहीं भारतीय खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण (एफएसएसएआई) ने लोगों और खाद्य व्यवसायों से आग्रह करते हुए कहा है कि वे बिलकुल न घबराएं और सुरक्षित खपत के लिए मुर्गी के मांस और अंडे की उचित हैंडलिंग और खाना पकाने को सुनिश्चित करें। 

FSSAI ने खुदरा मांस की दुकानों पर और उपभोक्ताओं द्वारा और पोल्ट्री मांस को संभालने या संसाधित करने में सावधानी बरतने का सुझाव दिया है। इसके साथ ही FSSAI ने यह भी कहा कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने कहा है कि पोल्ट्री मांस और अंडे इत्यादि खाने के लिए सुरक्षित हैं और कोई महामारी विज्ञान डेटा नहीं कहता की पूरी तरह से पका हुआ मांस या अंडे खाने से बर्ड फ्लू हो सकता है। केंद्र सरकार ने कहा कि 9 राज्यों केरल, हरियाणा, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, उत्तराखंड, गुजरात, उत्तर प्रदेश और पंजाब में पोल्ट्री में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है। 

कौआ, प्रवासी, जंगली पक्षियों के लिए 12 राज्यों में एवियन इन्फ्लुएंजा की पुष्टि की गई है। मंत्रालय मत्स्यपालन, पशुपालन और डेयरी ने एक बयान में कहा कि "23 जनवरी, 2021 तक, 9 राज्यों (केरल, हरियाणा, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, उत्तराखंड, गुजरात, उत्तर प्रदेश और पंजाब) में पोल्ट्री बर्ड्स के लिए एवियन इन्फ्लुएंजा (बर्ड फ्लू) के प्रकोप की पुष्टि की गई है।"इसके साथ ही FSSAI ने बर्ड फ्लू की रोकथाम के लिए पोल्ट्री प्रोडक्ट्स को लेकर दिशा-निर्देश जारी किए हैं। 

गाइडलाइन्स के मुताबिक पोल्ट्री में बर्ड फ्लू की पुष्टि वाले क्षेत्रों से लाए गए मांस और अंडे को कच्चा या आंशिक रूप से पकाया नहीं जाना चाहिए। लोगों को आधे उबले अंडे और अधपके चिकन इत्यादि को नहीं खाना चाहिए। साथ ही कच्चे मांस को खुले में नहीं रखना और कच्चे मांस के साथ सीधे संपर्क नहीं रखना चाहिए। लोगों को संक्रमित क्षेत्रों में पक्षियों के साथ सीधे संपर्क में नहीं आना चाहिए, मृत पक्षियों को छूने से बचें और कच्चे चिकन को लेते समय मास्क और ग्लव्स का उपयोग करें। 

साथ ही बर्ड फ्लू संक्रमित क्षेत्रों से प्राप्त अंडे या मुर्गी के मांस को नहीं खरीदना चाहिए और संक्रमित क्षेत्रों में मुर्गी बेचने वाले खुले बाजारों में जाने से बचना चाहिए। खुदरा दुकानों को एवियन इन्फ्लूएंजा के प्रकोप वाले क्षेत्रों से किसी भी जीवित या मृत पोल्ट्री पक्षियों को नहीं लाना चाहिए और इसे खाद्य श्रृंखला में प्रवेश करने की इजाजत नहीं देनी चाहिए। कच्चे मांस के संपर्क में आने वाली सभी सतहों और बर्तनों को धोकर कीटाणुरहित किया जाना चाहिए। चाकू और कटिंग बोर्ड को 2 पक्षियों को काटने और मारने के बीच साफ किया जाना चाहिए। खुदरा पोल्ट्री दुकानों से उत्पन्न सभी कचरे का उचित निपटान किया जाना चाहिए।