BREAKING NEWS

रामपुर में पहले नहीं होते थे चुनाव, थानों और बूथों पर रहता था सपा के गुंडों का कब्जा : बृजेश पाठक ◾J&K : आजाद बोले- धार्मिक राजनीति ने देश को पहुंचाया गहरा नुकसान, वोट डालने से पहले जांचे 'ट्रैक रिकॉर्ड'◾पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा- विनिर्माण की दुनिया में लगातार आगे बढ़ रहा है भारत◾Assam: सीएम शर्मा ने कहा- डिब्रूगढ़ विवि ने रैगिंग की घटना छिपाने की कोशिश की या नहीं, जांच पुलिस करेगी◾'मोदी सरकार' पर निशाना साधते हुए राहुल बोले- नोटबंदी, GST ने लोगों और छोटे व्यापारियों की कमर तोड़ी◾Gujarat: गुजरात में मिली जहरीली शराब पर भड़के राहुल गांधी- राज्य में फैल हुआ 'मोदी मॉडल'◾ लड़की के साथ दरिंदगी, तीन लोगों ने मिलकर किया दुष्कर्म, पुलिस ने आरोपियों को दबोचा, जानें पूरा मामला ◾Goa: सीएम प्रमोद सांवत ने कहा- ‘द कश्मीर फाइल्स’ पर इफ्फी के जूरी प्रमुख का बयान कश्मीरी हिंदुओं का अपमान◾Air India: एयर इंडिया-विस्तारा के विलय को मिली मंजूरी...सिंगापुर एयरलाइंस की होगी इतनी हिस्सेदारी◾सोशल मीडिया ने देश को आगे बढ़ाया... लेकिन फेक न्यूज का भी तेजी से हुआ चलन, बोले केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ◾BWF Rankings: बीडब्ल्यूएफ रैंकिंग में छठे स्थान पर पहुंचे लक्ष्य सेन, टॉप-20 में गायत्री-त्रिशा ◾MCD पर केजरीवाल का चुनावी एजेंडा, कहा- 'आप पार्टी' को वोट दें.....राजधानी को बनाएंगे स्वच्छ और सुंदर ◾Digital Rupee: RBI का बड़ा ऐलान- 1 दिसंबर को लॉन्च होगा डिजिटल रूपया ◾भाजपा के गुजरात मॉडल पर योगी मॉडल की छाप, छात्राओं को देंगे तमाम तोहफे◾Corruption case: देशमुख की जमानत याचिका पर अदालत ने सुनवाई को 2 दिसंबर तक किया स्थगित ◾10वीं छात्रा के साथ दुष्कर्म, पांच सहपाठियों ने लड़की को दबोचा, किया गैंगरेप, वीडियो बनाकर कर रहे थे blackmail ◾ Akhilesh Yadav: भाजपा के विवादित बयान पर 'सपा' का पलटवार , अखिलेश का ट्वीट- पिक्चर अभी बाकी है ◾Gujarat Assembly Election: सोशल मीडिया पर ‘आप’ सबसे ज्यादा सक्रिय, BJP और कांग्रेस पीछे◾PM मोदी पर मल्लिकार्जुन खरगे ने कसा तंज कहा, आपके रावण के जैसे 100 सिर हैं क्या?◾हैरतअंगेज करने वाला वीडियो, महिला के ऊपर से गुजरी ट्रेन...फिर भी फोन पर करती रही बात, यूजर्स की फट गई आंखे◾

छोटे किसानों की आय बढ़ाने के लिए एफपीओ स्थापित करने को बढ़ावा दे रही सरकार: तोमर

केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने सोमवार को कहा कि सरकार छोटे और सीमांत किसानों की आय बढ़ाने के अपने प्रयासों के तहत देश में और अधिक किसान उत्पादक संगठनों (एफपीओ) की स्थापना पर जोर देगी। सीआईआई-एनसीडीईएक्स के एफपीओ शिखर सम्मेलन को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि सरकार ने पहले ही 6,865 करोड़ रुपये के परिव्यय के साथ 10,000 एफपीओ स्थापित करने की योजना शुरू कर दी है और कार्यक्रम को तेज गति से लागू किया जा रहा है। 

छोटे किसानों की प्रगति सुनिश्चित करने के लिए एफपीओ स्थापित करने का कार्यक्रम  

तोमर ने कहा कि छोटे और सीमांत किसानों की प्रगति सुनिश्चित करने के लिए एफपीओ स्थापित करने का कार्यक्रम बहुत प्रभावी है। लगभग 86 प्रतिशत किसान छोटे और सीमांत हैं जिनकी औसत जोत 1.1 हेक्टेयर से कम की है। तोमर ने कहा कि सरकार, भारतीय कृषि को लाभदायक बनाने और किसानों की समृद्धि के लिए प्रयास कर रही है। 

उन्होंने कहा कि किसानों की आय बढ़ाने के लिए सरकार आसान वित्तपोषण की उपलब्धता, बाजार से जुड़ाव और कृषि विपणन के काम में बिचौलियों को खत्म करने का प्रयास कर रही है। मंत्री ने कहा कि सरकार कृषि क्षेत्र में प्रौद्योगिकी के उपयोग, फसल विविधीकरण को बढ़ावा दे रही है और किसानों को वैश्विक गुणवत्ता मानकों की उच्च मूल्य वाली फसलें उगाने के लिए प्रोत्साहित कर रही है। तोमर ने कहा कि कृषि क्षेत्र में निवेश बढ़ाने के उद्देश्य से, सरकार ने वर्ष 2014 में 6-7 लाख करोड़ रुपये से कृषि ऋण लक्ष्य को बढ़ाकर लगभग 18 लाख करोड़ रुपये कर दिया है। 

सरकार ने पीएम-किसान योजना भी शुरू की है 

उन्होंने कहा कि सरकार ने पीएम-किसान योजना भी शुरू की है, जिसके तहत लगभग 11 करोड़ किसानों के बैंक खातों में 1.82 लाख करोड़ रुपये सीधे हस्तांतरित किए गए हैं। तोमर ने कहा कि कि सरकार ने एक लाख करोड़ रुपये का कृषि बुनियादी ढांचा कोष शुरू किया है, एफपीओ भी इस कोष से वित्त प्राप्त कर सकते हैं। मंत्री ने कहा, एफपीओ का विस्तार करने की जरूरत है क्योंकि हमारे देश में छोटे और सीमांत किसानों की संख्या अधिक है। एफपीओ कृषि लागतों की थोक खरीद, आधुनिक कृषि उपकरणों के सामूहिक उपयोग और कृषि उत्पादों के विपणन के माध्यम से लागत कम करने में किसानों की मदद कर सकते हैं। 

कृषि क्षेत्र का प्रदर्शन बहुत अच्छा रहा है 

मंत्री ने कहा कि वे किसानों की आय बढ़ाने में अहम भूमिका निभा सकते हैं। इसलिए, सरकार एफपीओ कार्यक्रम का विस्तार करना चाहती है। तोमर ने कहा कि सभी अंशधारकों के प्रयास परिणाम दे रहे हैं, इसी का परिणाम है कि भारत लगभग सभी फसलों के उत्पादन में पहले या दूसरे स्थान पर है। उन्होंने कहा कि कोविड-19 महामारी के दौरान रिकॉर्ड खाद्यान्न उत्पादन और पर्याप्त निर्यात के मामले में कृषि क्षेत्र का प्रदर्शन बहुत अच्छा रहा है। 

मंत्री ने एफपीओ पर अध्ययन करने के लिए सीआईआई और अन्य संस्थाओं की सराहना की, जिसने एफपीओ की स्थापना में कुछ कमियों की ओर इंगित किया है। तोमर ने आश्वासन दिया कि सरकार एफपीओ के कामकाज में और सुधार के लिए उद्योग के सुझावों पर विचार करेगी। 

सरकार ने वर्ष 2027-28 तक 10,000 एफपीओ के गठन और उसे बढ़ावा देने को’ केंद्रीय क्षेत्र की योजना को मंजूरी दी और शुरू की है। संकुल आधारित दृष्टिकोण अपनाते हुए, उत्पाद विशेषज्ञता के विकास के लिए एफपीओ के गठन के समय 'एक जिला एक उत्पाद' पर ध्यान केंद्रित किया जाएगा।