BREAKING NEWS

कोरोना की वजह से स्थगित हुई UGC-NET की परीक्षा, 15 दिन पहले होगा नई तारीखों का ऐलान◾कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए झारखंड में 22 अप्रैल से एक सप्ताह का लॉकडाउन ◾दिल्ली मेट्रो ने लॉकडाउन के लिए परिचालन योजना में फिर किया बदलाव, पीक आवर्स में होगा 15 मिनट का गैप ◾कोरोना से संक्रमित हुए राहुल गांधी, संपर्क में आए लोगों से की सावधानी बरतने की अपील◾दिल्ली में महामारी का कहर : अरविंद केजरीवाल की पत्नी कोरोना पॉजिटिव, होम क्वारंटाइन में गए CM◾UP में वीकेंड लॉकडाउन का ऐलान, शुक्रवार रात से लगातार 35 घंटे तक जारी रहेगा कोरोना कर्फ्यू◾राहुल समेत दिग्गज कांग्रेस नेताओं का आरोप - टीकाकरण को लेकर सरकार की रणनीति भेदभाव वाली◾केजरीवाल ने लोगों से की अपील, कहा- लॉकडाउन आपकी सुरक्षा के लिए लगाया गया, संक्रमण से बचकर रहें◾UP के पांच शहरों में लॉकडाउन लगाने के इलाहबाद HC के फैसले पर SC ने लगाई रोक◾सिब्बल का वार-चुनाव जीतने के लिए PM अपनी सभी शक्तियों का कर रहे हैं प्रयोग लेकिन कोविड के लिए नहीं◾5 शहरों में लॉकडाउन लगाने के इलाहाबाद HC के आदेश के खिलाफ SC पहुंची योगी सरकार◾राहुल ने केंद्र को याद दिलाई जिम्मेदारी, कहा- प्रवासी मजदूरों के खातों में रुपये जमा करे सरकार◾देशभर में बेकाबू हुआ कोरोना, मुख्य चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा कोरोना से संक्रमित ◾कोरोना : ICSE ने कैंसिल की 10वीं बोर्ड की परीक्षा, बाद में एग्जाम का विकल्प भी लिया वापस ◾देश में कोरोना संक्रमण के 2 लाख 59 हजार नए मामलों की पुष्टि, पिछले 24 घंटे में 1761 लोगों की मौत ◾दिल्ली में लॉकडाउन के बीच पलायन करने के लिए मजबूर हुए प्रवासी मजदूर, आनंद विहार बस स्टैंड पर लगी भीड़ ◾विश्व में कोरोना महामारी का प्रकोप जारी, संक्रमितों का आंकड़ा 14.18 करोड़ के पार◾विदेश मंत्री जयशंकर और टोनी ब्लिंकन ने अफगानिस्तान, म्यांमा में सुरक्षा संबंधी मामलों पर चर्चा की◾कोरोना वैक्सीन की कमी के बीच पंजाब सरकार ने केंद्र से तत्काल आपूर्ति करने का किया अनुरोध ◾गुजरात में सामने आये कोविड-19 के सर्वाधिक 11,403 मामले आए◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

कृषि एवं ग्रामीण क्षेत्र की मजबूती पर सरकार का फोकस, योजनाएं छोटे किसानों के लिए बेहद लाभकारी : तोमर

कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा है कि कृषि एवं ग्रामीण क्षेत्र की मजबूती और प्रगति पर सरकार का पूरा फोकस है। इसके लिए अनेक महत्वाकांक्षी योजनाएं और कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं, जो छोटे किसानों के लिए काफी लाभकारी हैं। तोमर ने गुरुवार को एशिया पैसिफिक रूरल एंड एग्रीकल्चर क्रेडिट एसोसिएशन (अप्राका) और राष्ट्रीय कृषि एवं ग्रामीण बैंक (नाबार्ड) द्वारा संयुक्त रूप से आयोजित “क्षेत्रीय नीति फोरम” की बैठक का उद्घाटन किया। 

अप्राका 24 देशों का संघ है, जिसमें इन देशों के केंद्रीय बैंक, नियामक प्राधिकरण, एआरडीबी, सहकारी बैंक महासंघ, वाणिज्यिक बैंक, कृषि वित्त से जुड़ी सरकारी एजेंसियां आदि 87 संस्थाएं सदस्य हैं। अप्राका का उद्देश्य विभिन्न विकासात्मक बैंकों, केंद्रीय बैंकों, कृषि व ग्रामीण विकास से जुड़ी अन्य एजेंसियों में कृषि को बढ़ावा देने के लिए बेहतर समझ और सहयोग विकसित करना हैं। 

“क्षेत्रीय नीति फोरम” का विषय ‘कृषि व्यवसाय क्लस्टरों को बढ़ावा देने और ऋण बढ़ोतरी के साधनों के लिए विकास सहयोग’ रहा। फोरम में दो उप विषय थे- “लघु किसानों का समूहीकरण और कृषि विकास में इसकी भूमिका” तथा “गारंटी तंत्र: किसानों के समूहों और मूल्य श्रृंखला की अन्य एजेंसियों के लिए क्रेडिट संवर्धन समाधान”।

श्री तोमर ने कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था कृषि और गांव आधारित है, जिसकी तरक्की के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लगातार कोशिशें कर रहे हैं। हम भली-भांति जानते हैं कि जब तक गांवों में रोजगार और पैसा नहीं होगा, तब तक कृषि आगे नहीं बढ़ेगी। दूरदर्शी प्रधानमंत्री ने इसी कड़ी में जन-धन खातों की योजना प्रारंभ की, उनके प्रयास स्वरूप करोड़ों लोगों को बैंकिंग संपर्क में लाया गया। नयी व्यवस्था में पारदर्शिता है, बिचौलिए खत्म हुए हैं। 

उन्होंने भारत सहित एशिया-प्रशांत क्षेत्र के देशों द्वारा महामारी से निपटने के लिए की गई पहलों, विशेष रूप से ग्रामीण गरीबों पर महामारी के प्रभाव को कम करने के लिए उठाए गए उपायों की सराहना की। उन्होंने फोरम को सरकार के आत्मनिर्भर भारत अभियान की जानकारी दी, जिसमें विशेष रूप से किसान उत्पादक संगठनों (एफपीओ) पर ध्यान केंद्रित किया गया है। 

करीब 6865 करोड़ रुपए खर्च कर 10 हजार नये एफपीओ बनाए जा रहे हैं। साथ ही, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (पीएम- किसान) योजना में लगभग पौने 11 करोड़ किसानों के बैंक खातों में 1.15 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा की राशि जमा कराई गई है।