BREAKING NEWS

बिकनी गर्ल को टिकट देने से कांग्रेस की आलोचना, हिंदू महासभा ने मॉडल की उम्मीदवारी को बताया अपमान ◾तमिलनाडु में अब हर रविवार को रहेगा संपूर्ण लॉकडाउन, 31 जनवरी तक बढ़ाई गईं पाबंदियां◾बाहरी नेताओं के SP में शामिल होने से कोई मनमुटाव नहीं, नंदा का दावा- कुशल रणनीति से शांत हुआ असंतोष ◾मुस्लिम विरोधी बयानबाजी से भाजपा को कोई फायदा नहीं होने वाला, जयंत चौधरी ने सरकार पर लगाया आरोप ◾UP विधानसभा चुनाव: BJP प्रचार अभियान में इन शहरों को दे रही तवज्जों, हिंदुत्व के एजेंडे पर दिखाई दे रहा फोकस◾दिल्ली में लगाई गई पाबंदियों का कोरोना के प्रसार पर हुआ असर, अस्पतालों में भर्ती होने वालों की संख्या स्थिर : जैन ◾अनुराग ठाकुर का सपा पर तंज, बोले- समाजवाद का असली खेल या तो प्रत्याशी को जेल या फिर बेल◾क्या है BJP की सबसे बड़ी कमियां? जनता ने दिया जवाब, राहुल बोले- नफरत की राजनीति बहुत हानिकारक ◾खुद PM मोदी ने हमें दिया है ईमानदारी का सर्टिफिकेटः अरविंद केजरीवाल◾UP : कोरोना की स्थिति नियंत्रित,CM योगी ने लोगों से की अपील- भीड़ में जाने से बचें और सावधानी बरतें◾देशव्यापी टीकाकरण अभियान का एक वर्ष पूरा हुआ, पीएम मोदी समेत इन दिग्गज नेताओं ने ट्वीट कर दी बधाई ◾Lata Mangeshkar Health Update: जानें अब कैसी है भारत की कोयल की तबीयत, डॉक्टर ने दिया अपडेट ◾यूपी के चुनावी दंगल में AIMIM ने जारी की उम्मीदवारों की पहली सूची, सभी मुस्लिम चेहरे को तरजीह, देखें लिस्ट◾गोवा में AAP को बहुमत नहीं मिला तो पार्टी गैर-भाजपा के साथ गठबंधन बनाने के बारे में सोचेगी : CM केजरीवाल◾UP चुनाव की टक्कर में OBC का चक्कर, जानें किसके सिर पर सजेगा जीत का ताज और किसे मिलेगी मात ◾योगी सरकार के पूर्व मंत्री दारासिंह चौहान ने ज्वाइन की साइकिल, कुछ दिन पहले ही छोड़ा था बीजेपी का साथ ◾टीकाकरण अभियान का एक साल पूरा, नड्डा बोले- असंभव कार्य को संभव किया और दुनिया ने देश की सराहना की ◾पीएम मोदी की सुरक्षा चूक मामले में की जा रही राजनीति सही नहीं : मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा◾राजस्थान: कोरोना की बढ़ती रफ्तार से सरकार चिंतित, मंत्री बोले- लोगों को कोविड प्रोटोकॉल का करना होगा पालन ◾टिकट न मिलने से नाखुश SP कार्यकर्ता ने की आत्मदाह की कोशिश, प्रदेश मुख्यालय के बाहर मची खलबली ◾

स्वास्थ्य मंत्रालय ने 6 राज्यों को लिखा पत्र, कोविड संक्रमण पर अंकुश लगाने का किया आग्रह

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने शनिवार को उन छह राज्यों को संक्रमण के प्रसार को नियंत्रित करने के लिए आवश्यक कदम उठाने और मृत्यु दर को कम करने का निर्देश दिया, जहां कोविड-19 के सबसे अधिक मामले सामने आ रहे हैं। अधिकारियों ने शनिवार को यह जानकारी दी।

केंद्र सरकार 6 राज्यों को लिखा पत्र

केरल, जम्मू-कश्मीर, तमिलनाडु, कर्नाटक, ओडिशा और मिजोरम को स्थिति को नियंत्रण में रखने के लिए टेस्ट-ट्रैक-ट्रीट-वैक्सीन-कोविड उपयुक्त व्यवहार की रणनीति के अनुसार आवश्यक कदम उठाने के लिए कहा गया है। मंत्रालय ने छह राज्यों को संबोधित अलग-अलग पत्रों में कहा है कि चिंता के नए वैरिएंट यानी वैरिएंट ऑफ कंसर्न - ओमिक्रॉन के संदर्भ में, सभी राज्यों को अंतरराष्ट्रीय यात्रियों की निगरानी बढ़ाने की सलाह दी गई है। राज्यों को हाल में उभर रहे हॉटस्पॉट की निरंतर निगरानी, पॉजिटिव व्यक्तियों की शीघ्र और व्यापक संपर्क ट्रेसिंग और 14 दिनों तक मामले के फॉलो-अप के लिए भी कहा गया है। इसके अलावा सभी पॉजिटिव मामलों में जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए नमूने संबंधित लैब में शीघ्र भेजने का निर्देश जारी किया गया है।

राज्यों को यह सलाह भी दी गई है कि पर्याप्त परीक्षण के माध्यम से मामलों की शीघ्र पहचान की जानी चाहिए। स्वास्थ्य बुनियादी ढांचे की तैयारी की समीक्षा और सबसे महत्वपूर्ण रूप से आईईसी और सामुदायिक संवेदीकरण पर ध्यान केंद्रित करने को भी कहा गया है। केरल सरकार को लिखे पत्र में, स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि राज्य के 14 में से 13 जिले दक्षिणी राज्य में साप्ताहिक नए मामलों की उच्च मात्रा की रिपोर्ट कर रहे हैं। चार जिले - तिरुवनंतपुरम (11.61 प्रतिशत), वायनाड (11.25 प्रतिशत), कोझीकोड (11 प्रतिशत) और कोट्टायम (10.81 प्रतिशत) - 10 प्रतिशत से अधिक की उच्च साप्ताहिक पॉजिटिविटी रेट दिखा रहे हैं। अन्य नौ जिले 5-10 प्रतिशत के बीच साप्ताहिक पॉजिटिविटी रेट की रिपोर्ट कर रहे हैं। कर्नाटक को लिखे पत्र में, मंत्रालय ने चिंता व्यक्त की है कि राज्य ने साप्ताहिक नए मामलों में 1,664 मामलों से 2,272 की मामूली वृद्धि दर्ज की है, साथ ही इसी अवधि में साप्ताहिक नई मौतों में 22 से 29 की वृद्धि हुई है।

मंत्रालय ने कहा, "बेंगलुरु शहर में साप्ताहिक नई मौतों में वृद्धि हुई है, 25 नवंबर को समाप्त सप्ताह में 8 नई मौतों की अपेक्षा 2 दिसंबर को समाप्त सप्ताह में 14 मौतें दर्ज हुई हैं।" ओडिशा को इसी तरह के पत्र में, केंद्र ने आयोजित साप्ताहिक परीक्षण के घटते रुझानों पर चिंता व्यक्त की है। राज्य ने 26 नवंबर को समाप्त सप्ताह में जहां 4,01,164 परीक्षण किए थे, वहीं 3 दिसंबर को समाप्त सप्ताह में कुल 3,88,788 परीक्षण ही किए जा सके हैं। राज्य के साप्ताहिक परीक्षणों में 3.1 प्रतिशत की गिरावट के कारण मंत्रालय ने चिंता व्यक्त की है। राज्य सरकार को लिखे पत्र में मंत्रालय ने कहा, "मिजोरम में 11 में से आठ जिलों में 10 प्रतिशत से अधिक की उच्च साप्ताहिक पॉजिटिविटी देखी गई है।"

मथुरा : 6 दिसंबर से पहले प्रशासन की कड़ी सुरक्षा व्यवस्था, छावनी में तब्दील हुई कृष्ण नगरी