BREAKING NEWS

शीना बोरा मर्डर केस में इंद्राणी मुखर्जी हुई जेल से रिहा, जानें कैसे और क्यों कराई थी अपनी ही बेटी की हत्या ?◾गुजरात में चुनाव जीतने के लिए नरेश पटेल को उतार सकती है कांग्रेस, सोनिया गांधी से मुलाकात के बाद होगा एलान ◾कांग्रेस का मोदी सरकार पर तीखा वार, कहा- चीन मसले पर देश को अंधेरे में न रखे केंद्र◾Maharashtra News: राज ठाकरे का ऐलान- नहीं करेंगे 5 जून को अयोध्या का दौरा, जानें- इसके पीछे की वजह◾ RR vs CSK: MS Dhoni ने टॉस जीतकर चुनी बल्लेबाजी, यहां देखें दोनों टीमों की प्लेइंगXI◾CM शिवराज चौहान बोले- आंगनवाड़ी के बच्चों के लिए मागूंगा खिलौने, जानें- क्यों कही ये बात◾ ज्ञानवापी की लड़ाई! वाराणसी कोर्ट में ही होगी सुनवाई, SC ने जिला जज को ट्रांसफर किया केस◾Delhi News: झंडेवालान साइकिल मार्केट में आग से मचा हाहाकार!10 दुकाने हुई खाक, दमकल की गाड़ियां मौके पर मौजूद◾डिजिटल हुई UP विधानसभा... नजारा देख अखिलेश के उड़े होश! बोले- आया तो लगा कोई IT सेंटर हो ◾ जेल चले गुरू......पटियाला कोर्ट में सिद्धू ने किया सरेंडर, 34 साल पुराने केस में हुई 1 साल की सजा◾स्टार प्रचारक थे पटेल... पार्टी ने दिया था हेलीकॉप्टर, कांग्रेस छोड़ने पर मेवानी ने कसा हार्दिक पर तंज ◾कन्नड भाषा का कनाडा में हुआ बोल-बाला, सांसद आर्य ने अपनी मातृ भाषा में दिया भाषण, वीडियों हुआ वायरल◾हिंदू पक्ष ने दाखिल किया लिखित जवाब, SC ने कहा- जिला न्यायाधीश ही सुने ज्ञानवापी मस्जिद का मामला ◾हैदराबाद एनकाउंटर को SC के जांच आयोग ने बताया फर्जी, तेलंगाना HC को सौंपा गया मामला ◾नड्डा बोले- जनता ने मोदी सरकार पर किया अटूट विश्वास, 5G की स्पीड से हुआ विकास, गहलोत पर भी साधा निशाना◾SC ने दिल्ली HC के फैसले से हटाई रोक, आवारा कुत्तों को खाना खिलाने के मामले में सुनाया यह फैसला ◾चीन को करारी भाषा में प्रतिक्रिया देना जरूरी, नरम नजरिए से नहीं चलेगा काम : राहुल◾ Flight Emergency Landing: यात्रियों की अटकी सांस! उड़ान भरते ही हवा में बंद हुआ विमान का इंजन◾कल से दो दिवसीय अरुणाचल प्रदेश के दौरे पर जाएंगे गृह मंत्री शाह, विकास परियोजनाओं का करेंगे उद्घाटन ◾ATM Cash Withdrawal : बदल गया ATM से कैश निकालने का तरीका, RBI ने लागू किया ये नियम ◾

गृह मंत्री अमित शाह ने रबी फसलों की एमएसपी में वृद्धि को बताया ‘ऐतिहासिक’

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने गेहूं व चना सहित रबी की छह फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) में वृद्धि किए जाने के फैसले को ‘ऐतिहासिक’ करार देते हुए सोमवार को इसे किसानों की आय दोगुनी करने की दिशा में केंद्र सरकार का सार्थक प्रयास बताया। 

उन्होंने सिलसिलेवार ट्वीट कर संसद से पारित कृषि उपज व्यापार और वाणिज्य (संवर्द्धन और सुविधा) विधेयक-2020 और कृषक (सशक्तिकरण एवं संरक्षण) कीमत आश्वासन समझौता और कृषि सेवा पर करार विधेयक-2020 का विरोध करने के लिए विपक्षी दलों को आड़े हाथों लिया और कहा कि इन कृषि सुधार विधेयकों का विरोध करने वाले लोग असल में किसानों की खुशहाली के विरोधी हैं। 

शाह ने कहा कि मोदी सरकार का हर दिन, हर क्षण किसानों और गरीबों के कल्याण के प्रति समर्पित रहा है तथा आज छह रबी फसलों की एमएसपी बढ़ाकर उसने अपने उसी संकल्प को पुनः दोहराया है। उन्होंने कहा, ‘‘मोदी जी ने रबी फसलों की एमएसपी में ऐतिहासिक वृद्धि कर किसानों की आय को दोगुना करने की दिशा में सार्थक प्रयास किया है।’’ 

कांग्रेस पर निशाना साधते हुए शाह ने कहा कि जो लोग किसानों को भड़का कर अपनी खोई राजनीतिक जमीन ढूंढ़ने का प्रयास कर रहे हैं, उन्होंने 2009-14 तक सत्ता में रहते हुए किसानों से मात्र 1.25 लाख मीट्रिक टन दाल खरीदी जबकि मोदी सरकार ने 2014-19 में 76.85 लाख मीट्रिक टन दाल खरीदी। 

उन्होंने कहा कि इतना बड़ा फर्क उनके ढोंग और मोदी जी के समर्पण को साफ दर्शाता है। मोदी सरकार के कृषि सुधार विधेयकों का विरोध करने वाले लोग असल में किसानों की खुशहाली और उनकी उपज के सही मूल्य के विरोधी हैं। यह लोग नहीं चाहते कि देश का पेट भरने वाला अन्नदाता कभी उनके समान समृद्ध और सशक्त हो पाए। लेकिन मोदी सरकार किसानों को उनका अधिकार देकर रहेगी।’’ 

कांग्रेस सहित कई अन्य विपक्षी दल इस विधेयक को किसान विरोधी बताते हुए इसका विरोध कर रहे हैं। कांग्रेस का कहना है कि इन दोनों विधेयकों के कारण देश के किसानों में एमएसपी पर खरीद को लेकर आशंकाएं उत्पन्न हो गई हैं जिन्हें सरकार को दूर करना चाहिए।

केंद्र सरकार ने रबी फसलों के एमएसपी में की वृद्धि, किसान जहां चाहें अपने उत्पाद बेच सकेंगे : नरेंद्र तोमर