BREAKING NEWS

बिहार में लगे राहुल गांधी के पोस्टर, लिखा-आरक्षण खत्म करने का सपना नहीं होगा सच◾आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत बोले- 'राष्ट्रवाद' शब्द में हिटलर की झलक◾निर्भया मामला : दोषी विनय ने तिहाड़ जेल में दीवार पर सिर मारकर खुद को नुकसान पहुंचाने की कोशिश की◾चीन में कोरोना वायरस का कहर जारी, मरने वालों की संख्या 2000 के पार◾मनमोहन ने की Modi सरकार की आलोचना, कहा - सरकार आर्थिक मंदी को स्वीकार नहीं कर रही है◾अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की भारत यात्रा के मद्देनजर J&K में सुरक्षा बल सतर्क◾राम मंदिर का मॉडल वही रहेगा, थोड़ा बदलाव किया जाएगा : नृत्यगोपाल दास ◾मुंबई के कई बड़े होटलों को बम से उड़ाने की धमकी, ई-मेल भेजने वाला लश्कर-ए-तैयबा का सदस्य◾‘हिंदू आतंकवाद’ की साजिश वाली बात को मारिया ने 12 साल तक क्यों नहीं किया सार्वजनिक - कांग्रेस◾सरकार को अयोध्या में मस्जिद के लिए ट्रस्ट और धन उपलब्ध कराना चाहिए - शरद पवार◾संसदीय क्षेत्र वाराणसी में फलों फूलों की प्रदर्शनी देख PM मोदी हुए अभिभूत, साझा की तस्वीरें !◾दुनिया भर में कोरोना वायरस का प्रकोप, विश्व में अब तक 75,000 से अधिक लोग वायरस से संक्रमित◾आर्मी हेडक्वार्टर को साउथ ब्लॉक से दिल्ली कैंट ले जाया जाएगा : सूत्र◾INDO-US के बीच व्यापार समझौता ‘अटका’ नहीं है : डोनाल्ड ट्रंप ने कहा - जल्दबाजी में यह नहीं किया जाना चाहिये◾कन्हैया ने BJP पर साधा निशाना , कहा - CAA से गरीबों एवं कमजोर वर्गों की नागरिकता खत्म करना चाहती है Modi सरकार◾महंत नृत्य गोपाल दास बने श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष , नृपेंद्र मिश्रा को निर्माण समिति की कमान◾पंजाब में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले सिद्धू के AAP में जाने की अटकलें , भगवंत बोले- कोई वार्ता नहीं हुई◾पंजाब में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले नवजोत सिद्धू AAP में जाने की अटकलें , भगवंत बोले- कोई वार्ता नहीं हुई◾प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अगले माह जाएंगे बांग्लादेश दौरे पर◾विनायक दामोदर सावरकर पर बड़े विमर्श की तैयारी, अमित शाह संभालेंगे कमान◾

ओवैसी के सवाल का गृह मंत्रालय ने दिया जवाब , कहा - अर्द्धसैनिक बलों में भर्ती के लिए धर्म पैमाना नहीं

गृह मंत्रालय (Home Ministry) ने आज कहा कि केंद्रीय अर्द्धसैनिक बलों में भर्ती के लिए धर्म कोई पैमाना नहीं है। गृह मंत्रालय का बयान एआईएमआईएम के नेता असदुद्दीन ओवैसी द्वारा केंद्र पर मुसलमानों की उपेक्षा करने का आरोप लगाने के बाद आया है।

ओवैसी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मांग की थी कि वह बताएं कि कितने मुस्लिमों को केंद्रीय अर्द्धसैनिक बलों समेत अन्य क्षेत्रों में सरकारी नौकरियां मिली हैं।

गृह मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने कहा , ‘‘ अर्द्धसैनिक बलों में भर्ती के लिए धर्म पैमाना नहीं है। भर्ती प्रक्रिया में किसी धर्म के लिए कोई गुंजाइश नहीं है। ’’

हैदराबाद में किए गए संवाददाता सम्मेलन में ओवैसी ने पूछा था , ‘‘ बीते चार बरस में केंद्र के तहत आने वाले क्षेत्रों चाहे वे बैंक हों , रेलवे हो, केंद्रीय अर्द्धसैनिक बल हों ... कितने अल्पसंख्यकों को भर्ती किया गया। ’’

सीआरपीएफ , बीएसएफ , सीआईएसएफ , आईटीबीपी , एसएसबी , एनएसजी और असम रायफल्स केंद्रीय अर्द्धसैनिक बल हैं और ये गृह मंत्रालय के मातहत काम करते हैं। इनकी कुल क्षमता करीब 10 लाख है।