BREAKING NEWS

देश में कोरोना के 4067 मामलों में से 1445 तबलीगी जमात से सम्बन्धित : स्वास्थ्य मंत्रालय◾केंद्र का बड़ा फैसला, PM सहित कैबिनेट मंत्रियों और सांसदों के वेतन में 30 फीसदी की होगी कटौती◾PM मोदी ने की वीडियो लिंक के जरिये पहली बार कैबिनेट की बैठक की अध्यक्षता◾कोरोना की चपेट में आई मुकेश अंबानी की संपत्ति, 2 महीने में 28 प्रतिशत गिरकर हुई 48 अरब डॉलर◾कांग्रेस प्रवक्ता बोले- पेट्रोल-डीजल पर मुनाफा जनता के साथ साझा करें सरकार◾मौलाना साद को क्राइम ब्रांच ने भेजा दूसरा नोटिस, पहले नोटिस में नहीं दिए थे सवालों के जवाब◾BJP स्थापना दिवस पर PM मोदी बोले- कोरोना महामारी के खिलाफ लड़ाई में जीत हो यही देश का लक्ष्य और संकल्प है◾BJP विधायक ने PM मोदी की सोशल डिस्टेंसिंग की अपील की उड़ाई धज्जियां, समर्थकों के साथ सड़क पर निकाला जुलूस◾इंसानों के बाद जानवरों पर कोरोना की मार, न्यूयॉर्क के चिड़ियाघर की बाघिन हुई संक्रमित ◾कोविड-19 : देश में संक्रमितों की संख्या 4000 के पार, 109 लोगों की अब तक मौत◾BJP स्थापना दिवस पर PM मोदी, नड्डा और शाह ने कार्यकर्ताओं को दी शुभकामनाएं, कहा- एकजुट होकर देश को कोविड-19 से करें मुक्त◾भोपाल में कोविड-19 से 52 वर्षीय व्यक्ति की हुई मौत, कोरोना से मरने वालो का आकंड़ा 14 हुआ ◾ब्रिटेन के PM बोरिस जॉनसन कोरोना वायरस से संबंधी जांचों के लिए अस्पताल में हुए भर्ती ◾अमेरिका में कोरोना वायरस से संक्रमितो की संख्या 3,37,274 हुई, पिछले 24 घंटो में 1200 लोगों ने गवाई जान ◾प्रधानमंत्री मोदी के आह्वान पर उनकी मां ने भी दीया जलाया◾लॉकडाउन: दिल्ली पुलिस ने शब-ए-बारात के दिन मुस्लिम समुदाय के लोगों से घरों में रहने का आग्रह किया◾PM मोदी की अपील पर देश भर में घरों के बल्ब और ट्यूबलाइट बंद होने से बिजली ग्रिड पर नहीं पड़ा कोई असर, सबकुछ सामान्य◾कश्मीर से कन्याकुमारी तक लोगों ने कोरोना से लड़ने का लिया संकल्प◾कोविड 19 : कोरोना के खिलाफ एकजुट दिखा भारत, मोदी की अपील पर देशवासियों समेत कई बड़े नेताओं ने जलाए दीये ◾रक्षा प्रमुख अध्यक्ष जनरल बिपिन रावत ने दिल्ली में कोविड-19 शिविर का किया दौरा◾

हैदराबाद गैंगरेप: आरोपियों के एनकाउंटर पर नेताओं ने दी यह प्रतिक्रिया, जाने किसने क्या कहा

हैदराबाद में महिला चिकित्सक से गैंगरेप के चार आरोपियों की पुलिस के साथ कथित मुठभेड़ में मौत के हो गई है। मुठभेड़ में मारे गए आरोपियों को लेकर अलग-अलग दल के नेताओं की प्रतिक्रया सामने आई है। कई नेताओं ने इस घटना को सही ठहराते हुए तेलंगाना पुलिस की तारीफ की है, तो वहीं कुछ नेताओं ने इस घटना को देश के लिए भयानक बताया है। इस घटना पर सपा सांसद जया बच्चन ने कहा कि ‘‘देर आए दुरुस्त आ।’’

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने तेलंगाना में महिला पशुचिकित्सक से रेप और हत्या के सभी चार आरोपियों को मुठभेड़ में मारे जाने पर कहा, जब एक अपराधी भागने की कोशिश करता है, तो पुलिस के पास कोई अन्य विकल्प नहीं बचता है, यह कहा जा सकता है कि न्याय किया गया है। वहीं कांग्रेस नेता एवं लोकसभा सांसद शशि थरूर ने कहा कि न्यायेतर हत्याएं स्वीकार्य नहीं है। 

उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘सैद्धांतिक रूप से सहमत हूं। हमें और जानने की जरूरत है, उदाहरण के लिए अगर आरोपियों के पास हथियार थे तो पुलिस का गोली चलाना सही था। विस्तृत जानकारी मिलने तक इसकी निंदा करना सही नहीं है, लेकिन कानून के समाज में न्यायेतर हत्याएं स्वीकार्य नहीं है।’’

राष्ट्रीय महिला आयोग की प्रमुख रेखा शर्मा ने कहा कि आरोपियों के मारे जाने से खुश हूं, लेकिन न्याय उचित कानूनी तरीके से किया जाना चाहिए। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, बलात्कार के मामले जो देर से प्रकाश में आए हैं, लोग गुस्से में हैं कि क्या यह उन्नाव या हैदराबाद है, इसलिए लोग एनकाउंटर पर खुशी व्यक्त कर रहे हैं। यह भी कुछ चिंता की बात है, जिस तरह से लोगों ने आपराधिक न्याय प्रणाली में अपना विश्वास खो दिया है। आपराधिक न्याय प्रणाली को मजबूत करने के लिए सभी सरकारों को एक साथ मिलकर कार्रवाई करनी होगी।

 राष्ट्रीय जनता दल (राजद) की नेता राबड़ी देवी ने इस घटना पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा, हैदराबाद में जो हुआ वह अपराधियों के खिलाफ निवारक के रूप में कार्य करेगा, हम इसका स्वागत करते हैं। बिहार में भी महिलाओं के खिलाफ अपराधों के मामले बढ़ रहे हैं। यहां राज्य सरकार शिथिल है और कुछ नहीं कर रही है।

बीजेपी सांसद मेनका गांधी ने इस तेलंगाना पुलिस की इस कार्यवाही पर सवाल खड़े करे हुए कहा, जो भी हुआ है बहुत भयानक हुआ है देश के लिए। इसका समाधान एनकाउंटर नहीं है। जूडिशल सिस्टम के तहत सजा मिलनी चाहिए। वहीं योग गुरु बाबा रामदेव ने इस मामले पर बोलते हुए कहा, पुलिस ने जो किया है वह बहुत ही साहसपूर्ण है और मुझे कहना होगा कि न्याय दिया गया है। 

निर्दलीय सांसद नवनीत राणा ने कहा, एक मां, एक बेटी और एक पत्नी होने के नाते, मैं इसका (तेलंगाना मुठभेड़) स्वागत करती हूं, वरना वे सालों जेल में रहते। निर्भया का नाम भी निर्भया नहीं था, लोगों ने नाम दिया है, मुझे लगता है उसे नाम देने के बजाये इन्हे ऐसा अंजाम देना ज़रूरी है।इस पर कानूनी सवाल अलग बात है, लेकिन मुझे यकीन है कि देश के लोग अब शांति पर हैं। 

वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के सांसद कामुरु रघु राम कृष्ण राजू ने कहा, आरोपी गोली मारकर हत्या करने के योग्य थे। भगवान दयालु हैं कि उन्हें गोली मार दी गई, यह एक अच्छा सबक है। उन्होंने भागने की कोशिश की और वे मारे गए। किसी भी एनजीओ को इसका विरोध नहीं करना चाहिए और यदि वे ऐसा करते हैं, तो वे राष्ट्र-विरोधी हैं।