BREAKING NEWS

कांग्रेस ने नफरत के खिलाफ ‘वैचारिक युद्ध’ का लिया निर्णय, AICC मीटिंग में हुए ये तीन अहम फैसले ◾लालू ने नीतीश को बताया 'सबसे अहंकारी', कांग्रेस के साथ तकरार के लिए 'छुटभैए' नेताओं को ठहराया जिम्मेदार ◾आर्यन का गोसावी के साथ संबंधों से इनकार, NCB ने जमानत का किया विरोध, लगाए ये बड़े इल्जाम ◾योगी का केजरीवाल पर तंज- राम को गाली देने वालों को अब आ रही अयोध्या की याद, पहले संभालिए दिल्ली ◾शिक्षित युवा पाकिस्तान के साथ अपनी पहचान क्यों चुनते हैं? केंद्र पता लगाए: महबूबा मुफ्ती◾अखिलेश यादव ने सरकार पर लगाया आरोप, कहा-भाजपा का 'झूठ का फूल' अब बना 'लूट का फूल' ◾मलिक ने लगाई आरोपों की झड़ी, कहा- सेलिब्रिटीज के फोन टैप करवाते हैं वानखेड़े, चलाते हैं 'वसूली गिरोह'◾नवाब मलिक के दावों को क्रांति वानखेड़े ने बताया गलत, बोलीं-मेरे पति एक ईमानदार अफसर◾पंजाब की सियासत में अमरिंदर खेलेंगे दाव? पूर्व मुख्यमंत्री कल कर सकते हैं नई राजनीतिक पार्टी की घोषणा ◾लखीमपुर हत्याकांड : SC का आदेश- गवाहों को दें सुरक्षा, जांच में तेजी लाए सरकार◾कांग्रेस-RJD की लड़ाई को सुशील मोदी ने बताया 'नूराकुश्ती', बोले-चुनाव के बाद हो जाएंगे एक◾दिल्ली : NCB प्रमुख से मुलाकात करने पहुंचे वानखेड़े, मलिक के आरोपों पर बोले DDG- करेंगे आवश्यक कार्रवाई ◾अनिल विज का मुफ्ती पर तीखा हमला- PAK की जीत पर पटाखे फोड़ने वालों का DNA नहीं हो सकता भारतीय ◾BJP खुद को मानती है केंद्रीय जांच एजेंसियों का आका, याद रखें कि लोकतंत्र में हमेशा होता है बदलाव : शिवसेना◾सोनिया की अगुवाई में AICC मीटिंग, कहा- सरकार की ज्यादतियों के खिलाफ और तेज करनी चाहिए लड़ाई ◾जम्मू-कश्मीर में आतंक गतिविधियों का सिलसिला जारी, बांदीपोरा विस्फोट में 5 नागरिक घायल◾समीर वानखेड़े ने फर्जी दस्तावेज से हासिल की सरकारी नौकरी, होनी चाहिए जांच : नवाब मलिक◾देश में कोरोना के मामलों में गिरावट, पिछले 24 घंटे में 356 मरीजों की हुई मौत ◾पाकिस्तानी पत्रकार संग दोस्ती को लेकर छिड़ा विवाद तो कैप्टन ने शेयर की सुषमा, सोनिया और मुलायम की तस्वीर◾दुनियाभर में कोरोना के मामले 24.4 करोड़ से अधिक, अब तक 6.83 अरब से ज्यादा लोगों का हुआ वैक्सीनेशन ◾

IISC ने जताई आशंका, कहा- भारत में कोरोना संभवत: यूरोप, पश्चिम एशिया के क्षेत्रों से आया

भारतीय विज्ञान संस्थान (आईआईएससी) ने एक अध्ययन के बाद कहा है कि हो सकता है कि भारत में नया कोरोना वायरस यूरोप, ओसीनिया और पश्चिम एशिया क्षेत्रों से आया हो। आईआईएससी ने यह बात 294 भारतीय विषाणु जीनोम का अध्ययन करने के बाद कही। अध्ययन करने वाली टीम में कुमार सोमसुंदरम, अंकित लॉवर्डे और मैनाक मंडल शामिल थे।

अध्ययन का उद्देश्य विश्व के अन्य देशों की तुलना में भारत में पाए जाने वाले सार्स-कोव-2 विषाणुओं के बीच आनुवंशिक विविधता का पता लगाना था। टीम ने कहा कि भारत में नए कोरोना वायरस का संभावित मूल मुख्यत: यूरोप, पश्चिम एशिया, ओसीनिया और दक्षिण एशिया क्षेत्रों से प्रतीत होता है जिसका प्रसार ऐसे देशों से अधिक होता है जहां की लोग अधिक यात्रा करते हैं।

इसने यह भी उल्लेख किया कि विश्व में नए कोरोना वायरस की चपेट में 50 लाख से अधिक लोग आए हैं, वहीं भारत में इसने हाल ही में एक लाख का आंकड़ा पार किया है। टीम के अनुसार, भारत में संक्रमण की निम्न दर का कारण लंबे समय तक लागू रहा लॉकडाउन, प्रभावी भौतिक दूरी, कोविड-19 के रोगियों की सटीक पहचान और उन्हें पृथक-वास में रखकर उचित उपचार जैसे कारक हो सकते हैं।

UP शिक्षक भर्ती मामले में जिम्मेदारी लें CM योगी, करें ठोस कार्रवाई : प्रियंका गांधी

इसने कहा, ‘‘विभिन्न क्षेत्रों अथवा देशों से विषाणु जीनोम अनुक्रम की तुलना से हमें विषाणुओं में आनुवंशिक विविधता का पता लगाने में मदद मिलती है। इससे विषाणु की प्रचंडता, बीमारी का स्तर और मूल तथा देशों के बीच सार्स-कोव-2 के प्रसार के बारे में जानने में सहायता मिलेगी।’’

बता दें कि देश में पिछले 24 घंटे के अंदर कोरोना वायरस के 9 हजार से ज्यादा मामले सामने आए है। वहीं 331 लोगों की मौत हुई। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार मंगलवार तक देश में कोरोना के 2 लाख 66 हज़ार 598 मरीज है, जबकि इस बीमारी से अब तक 7 हजार 466 लोगों की मौत हो चुकी है।

आंकड़ों के मुताबिक 9987 नए मामलों को मिलाकर देश में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 266598 हो गई जबकि इस बीमारी से 7466 लोगों की अब तक मौत हो चुकी है। देश में इस समय कोविड-19 के 129917 सक्रिय मामले हैं, जबकि 129215 लोग इस महामारी से निजात पाने में कामयाब हुए हैं।