BREAKING NEWS

Udaipur Murder Case: : उत्तर प्रदेश में भी बढ़ाई गई सतर्कता◾Maharashtra News: हमारे पास 50 विधायकों का समर्थन......., एकनाथ शिंदे का बड़ा दावा◾ कन्हैयालाल की हत्या पर बोले औवेसी- घटना आतंकी कृत्य ◾उदयपुर में हत्या के मामले पर अनुराग ठाकुर बोले- गहलोत हमेशा अपनी जिम्मेदारी से बचते रहते है ◾Vice President Election: उपराष्ट्रपति चुनाव की रूपरेखा तैयार, 6 अगस्त को होगा मतदान, इस दिन भरा जाएगा नामांकन ◾ युवाओं को अग्निवीर बनने का चढ़ रहा जुनून, छह दिन में वायुसेना को प्राप्त हुए दो लाख से ज्यादा आवेदन ◾Kanhaiya Lal Murder: कन्हैया लाल का हुआ अंतिम संस्कार, उदयपुर हत्याकांड की जांच एनआईए को सौंपी गई ◾GST के दायरे में आएंगे खाद्य पदार्थ, राहुल बोले-PM का ‘गब्बर सिंह टैक्स’ बना ‘गृहस्थी सर्वनाश टैक्स’ ◾बिहार में ओवैसी को बड़ा झटका, AIMIM के चार विधायक RJD में शामिल ◾नवाब मलिक और अनिल देशमुख ने किया SC का रुख, शक्ति परीक्षण में भाग लेने की मांगी अनुमति◾मुकेश अंबानी को सुरक्षा देने के मामले में SC ने त्रिपुरा HC के फैसले पर लगाई रोक, जानिए क्या है मामला ◾कराह उठा हर कोई, राक्षस से ऊपर बढ़कर किया गया कन्हैयालाल का कत्ल, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में बड़ा खुलासा ◾उदयपुर हत्याकांड को लेकर उमा भारती ने गहलोत सरकार को घेरा, प्रज्ञा बोली- कांग्रेस अभी भी जिंदा है देश शर्मिंदा है◾कन्हैयालाल मर्डर केस : राज्यवर्धन राठौर बोले-राजस्थान में कांग्रेस की नंपुसक सरकार◾ जीटीए चुनाव में तृणमूल कांग्रेस ने खोला खाता, एक सीट जीती , मतगणना जारी ◾'दोषियों को तुरंत ठोंक देना चाहिए', कन्हैयालाल की हत्या पर बोले प्रताप सिंह खाचरियावास◾असम में बाढ़ राहत कार्य के लिए शिवसेना के बागी विधायकों ने दिए 51 लाख रुपए, कल पेश करेंगे विश्वास मत ◾उदयपुर : NIA अपने हाथ में लेगी कन्हैया लाल हत्याकांड की जांच, गृह मंत्रालय का निर्देश◾उदयपुर हत्याकांड पर बोले CM गहलोत- यह कोई मामूली घटना नहीं, जांच के लिए गठित की SIT ◾नवीन कुमार जिंदल को मिली जान से मारने की धमकी, ईमेल में भेजा उदयपुर हत्याकांड का वीडियो◾

Precautionary Dose को लेकर NTAGI की बैठक में कल होंगे अहम फैसले! जानें किन मुद्दों पर होगी चर्चा

टीकाकरण पर राष्ट्रीय तकनीकी सलाहकार समूह (एनटीएजीआई) बुधवार को इस विषय पर चर्चा करेगा कि शिक्षा, रोजगार, खेल प्रतिस्पर्धा और कारोबार के लिए विदेश जाने वालों को कोविड-19 टीके की एहतियाती खुराक (तीसरी खुराक या बूस्टर खुराक) लगाने की अनुमति दी जाए या नहीं। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि एनटीएजीआई कोविड-19 टीके की दूसरी खुराक और एहतियाती खुराक लेने के लिए नौ महीने के मौजूदा अंतर को घटाकर सभी के लिए छह महीने पर भी मंथन करेगा।

विदेश जाने वालों को दी जाएगी एहतियाती खुराक?

आधिकारिक सूत्रों ने बताया, ‘‘वैज्ञानिक सबूतों और यहां एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर किए गए अध्ययनों पर गौर करने के बाद कुछ विशेषज्ञों की राय है कि एहतियाती खुराक के लिए समय सीमा सभी के लिए दूसरी खुराक के बाद मौजूदा नौ महीने से घटाकर छह महीने की जानी चाहिए।’’

उन्होंने कहा, ‘‘इसके अलावा (स्वास्थ्य) मंत्रालय को ऐसे कई अनुरोध आए हैं जिसमें रोजगार, विदेशी शिक्षण संस्थानों में प्रवेश, खेल प्रतियोगिताओं में हिस्सा लेने, द्विपक्षीय और बहुपक्षीय बैठकों में भारत के आधिकारिक प्रतिनिधिमंडल का हिस्से के रूप में जाने वालों या कारोबारी उद्देश्यों से तत्काल विदेश यात्रा पर जाने वालों को एहतियाती खुराक लेने की अनुमति दी जाए।’’

12 साल के बच्चों के टीकाकरण आंकड़ों का करेंगे विश्लेषण

एनटीएजीआई पांच से 12 साल उम्र के बच्चों के कोविड-19 टीका आंकड़ों का विश्लेषण भी कर सकता है। आधिकारिक सूत्रों ने बताया, ‘‘एनटीएजीआई की स्थायी तकनीकी उप समिति (एसटीएसाी) ने शुक्रवार को दूसरी और एहतियाती खुराक के बीच की अवधि को घटाकर छह महीने करने पर चर्चा की थी लेकिन कोई फैसला नहीं हो सका।’’ 

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद और अंतरराष्ट्रीय अनुंसधान संस्थानों से संकत मिला है कि टीके की दोनों खुराक लेने के छह महीने के बाद शरीर में उत्पन्न एंटीबॉडी कम हो जाती है और बूस्टर खुराक देने से प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है।

18 साल से अधिक उम्र के लोगों को लेकर भी होगा फैसला 

गौरतलब है कि इस समय 18 साल से अधिक उम्र के वे लोग जिन्होंने टीके की दूसरी खुराक लेने के बाद नौ महीने की अवधि पूरी कर ली है वे एहतियाती खुराक (बूस्टर) के लिए प्राप्त हैं। सूत्रों ने बताया कि अंतिम फैसला एनटीएजीआई की अनुशंसा के आधार पर होगा जिसकी बैठक बुधवार को होगी।