BREAKING NEWS

विश्व के 191 देशों में कोरोना का कहर तेज, अब तक 14 लाख से अधिक लोगों ने गंवाई जान ◾सोनिया और राजीव के विश्वासपात्र रहे अहमद पटेल थे कांग्रेस के असली संकटमोचक◾Weather update : जम्मू-कश्मीर और हिमाचल प्रदेश में बर्फबारी से उत्तर भारत में बढ़ी ठंड ◾देश में कोरोना एक्टिव केस में बढ़ोतरी, संक्रमितों का आंकड़ा 92 लाख के पार ◾सेना प्रमुख नरवणे ने पूर्वोत्तर की सीमाओं पर सेना की परिचालन संबंधी तैयारियों का लिया जायजा ◾'अश्विनी मिन्ना' मेमोरियल अवार्ड में आवेदन करने के लिए क्लिक करें ◾TOP 5 NEWS 25 NOVEMBER : आज की 5 सबसे बड़ी खबरें ◾कांग्रेस नेता अहमद पटेल के निधन पर PM मोदी और राहुल गांधी समेत कई नेताओं ने जताया शोक ◾कांग्रेस के कद्दावर नेता अहमद पटेल का 71 साल की उम्र में निधन, एक महीना पहले हुए थे कोरोना पॉजिटिव◾आज का राशिफल ( 25 नवंबर 2020 )◾लालू प्रसाद राजग के विधायकों को फोन पर मंत्री पद का लालच दे रहे : सुशील मोदी ◾चक्रवाती तूफान 'निवार' के 12 घंटों में भीषण रूप लेने की आशंका◾अयोध्या का हवाईअड्डा भगवान राम के नाम पर, कैबिनेट से मिली मंजूरी ◾मैं खुश हूँ की केंद्र सरकार ने किसान संगठनों को बातचीत के लिए बुलाया है : अमरिंदर सिंह◾अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने ट्रंप के सत्ता हस्तांतरण पर कहा 'चुनाव बीत गया'◾मुफ्ती और अब्दुल्ला परिवार ने अपनी संपत्ति बनाने के लिए निजी कंपनियों की तरह काम किया :भाजपा ◾संजय राउत के बयान पर फडणवीस बोले- शिवसेना ने ‘लव जेहाद’ पर अपना रूख ‘नरम’ कर लिया है◾राकांपा प्रमुख शरद पवार बोले- शिवसेना विधायक सरनाईक के खिलाफ ईडी की कार्रवाई विपक्ष की निराशा है◾नेशनल कांफ्रेस के नेताओं ने सरकारी जमीन का किया अतिक्रमण : अनुराग ठाकुर◾'लव जिहाद' के खिलाफ अध्यादेश लाई योगी सरकार, जल्द बनेगा कानून ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

आगामी संसद सत्र में सांसदों को कोरोना जांच कराने पर ही मिलेगा संसद में प्रवेश : प्रहलाद पटेल

केंद्रीय पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री प्रहलाद पटेल ने यहां रविवार को कहा कि आगामी संसद सत्र में सांसदों को अपनी, परिवार और कर्मचारियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पेश करने पर ही सदन में प्रवेश मिलेगा।

अपने संसदीय क्षेत्र दमोह में कार्यकर्ताओं की वर्चुअल बैठक के बाद रविवार को पटेल ने संवाददाताओं से चर्चा के दौरान कहा कि कुछ दिनों बाद शुरू होने वाले संसद के सत्र में देशभर के सांसदों को अपनी, अपने परिवार व कार्यालय कर्मचारियों की कोरोना टेस्ट रिपोर्ट पेश करनी होगी, उसके बाद ही उन्हें संसद में प्रवेश मिलेगा।

साथ ही संसद के सभी लोगों का जब तक कोरोना टेस्ट नहीं होगा, तब तक वे संसद परिसर में प्रवेश नहीं कर सकते। पटेल का मानना है कि दुविधा के कारण लोग अपना कोरोना टेस्ट नहीं करा रहे हैं, जिससे उन्हें मुक्त होना चाहिए। वे लोग जो जानकारी रखते हैं या जिनमें जानकारी का अभाव है, वैसे तो पिछले पांच माह में जागरण हुआ है, उसमें वह यह नहीं कह सकता कि जानकारी की कमी है।

परिवार का एक सदस्य संक्रमित निकलता है तो परिवार के बाकी लोगों को भी जांच करानी होती है। सांसदों के लिए भी यह व्यवस्था है, तो यह नियम सभी पर लागू होगा, इसलिए भयभीत होने की जरूरत नहीं है।

केंद्रीय मंत्री पटेल के मुताबिक, अपने संसदीय क्षेत्र के मुख्यालय दमोह को एक बार फिर से विधिवत सेनिटाइज करने की जरूरत है और मुहिम भी शुरू होगी। इसके लिए कार्यकर्ता घर-घर संपर्क करेंगे, यह सिर्फ प्रशासन का काम नहीं है।