BREAKING NEWS

इस्तीफा देने से पहले सोनिया को अमरिंदर ने लिखी थी चिट्ठी, हालिया घटनाक्रमों पर पीड़ा व्यक्त की◾सिद्धू के सलाहकार का अमरिंदर पर वार, कहा-मुझे मुंह खोलने के लिए मजबूर न करें◾पंजाब : मुख्यमंत्री पद की रेस में नाम होने पर बोले रंधावा-कभी नहीं रही पद की लालसा◾प्रियंका गांधी का योगी पर हमला, बोलीं- जनता से जुड़े वादों को पूरा करने में असफल क्यों रही सरकार ◾पंजाब कांग्रेस की रार पर बोली BJP-अमरिंदर की बढ़ती लोकप्रियता के डर से लिया गया उनका इस्तीफा◾कैप्टन के भाजपा में शामिल होने के कयास पर बोले नेता, अमरिंदर जताएंगे इच्छा, तो पार्टी कर सकती है विचार◾कौन संभालेगा पंजाब CM का पद? कांग्रेस MLA ने कहा-अगले 2-3 घंटे में नए मुख्यमंत्री के नाम का होगा फैसला◾पंजाब में हो सकती है बगावत? गहलोत बोले-उम्मीद है कि कांग्रेस को नुकसान पहुंचाने वाला कदम नहीं उठाएंगे कैप्टन ◾CM योगी ने साढ़े चार साल का कार्यकाल पूरा होने पर गिनाईं अपनी सरकार की उपलब्धियां◾राहुल ने ट्वीट किया कोरोना टीकाकरण का ग्राफ, लिखा-'इवेंट खत्म'◾अंबिका सोनी ने पंजाब CM की कमान संभालने से किया इनकार, टली कांग्रेस विधायक दल की बैठक◾अफगानिस्तान में आगे बुनियादी ढांचा निवेश को जारी रखने के बारे में पीएम मोदी करेंगे निर्णय : नितिन गडकरी◾Today's Corona Update : देश में पिछले 24 घंटे में संक्रमण के 30,773 नए मामलों की पुष्टि, 309 लोगों की हुई मौत◾पंजाब के बाद अब राजस्थान और छत्तीसगढ़ पर टिकी निगाहें, क्या होगा उलटफेर?◾पंजाब के बाद राजस्थान कांग्रेस में हलचल, CM गहलोत के OSD लोकेश शर्मा ने दिया इस्तीफा◾तीन दिन की अंतरिक्ष की सैर कर वापस लौटे यात्री, अटलांटिक सागर में लैंड हुआ कैप्सूल◾ योगी सरकार के साढ़े चार साल हुए पूरे, CM योगी आज उपलब्धियों का रिपोर्ट कार्ड करेंगे पेश ◾दुनियाभर में जारी है कोरोना महामारी का प्रकोप, संक्रमितों का आंकड़ा 22.81 करोड़ से अधिक ◾कई अफगान दूतावासों ने तालिबान सरकार से तोड़ा संपर्क, कामगारों ने मेजबान देशों में मांगी थी शरण ◾अमरिंदर सिंह का इस्तीफा, विधायक दल ने नया नेता चुनने के लिए सोनिया को अधिकृत किया◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

जम्मू-कश्मीर में संघर्ष विराम के उल्लंघन पर भारत ने पाक राजनयिक को किया तलब

दिवाली के त्यौहार के मौके पर जम्मू-कश्मीर में अकारण संघर्ष विराम उल्लंघन पर कड़ा विरोध जताने के लिए भारत ने शनिवार को पाकिस्तान उच्चायोग के उपराजदूत को तलब किया।

विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा, "आज विदेश मंत्रालय ने पाकिस्तान के उच्चायोग के उपराजदूत को तलब किया और कई क्षेत्रों पर पाकिस्तानी सेना द्वारा अकारण संघर्ष विराम का उल्लंघन करने को लेकर कड़ा विरोध दर्ज जताया। 13 नवंबर 2020 को जम्मू और कश्मीर में नियंत्रण रेखा (एलओसी) के विभिन्न सेक्टर में किए गए संघर्ष विराम में 4 निर्दोष नागरिकों की मौत हो गई और 19 लोग गंभीर रूप से घायल हुए।"

मंत्रालय ने आगे कहा, "पाकिस्तानी बलों द्वारा निर्दोष नागरिकों को जानबूझकर निशाना बनाने की भारत सख्ती से निंदा करता है।" भारत ने अपने बयान में कहा है कि यह बहुत ही निराशाजनक है कि पाकिस्तान ने जम्मू-कश्मीर में शांति भंग करने और जम्मू-कश्मीर में भारी गोलीबारी करने के लिए त्यौहार का मौका चुना।

इसके अलावा भारत ने सीमा पार से हो रही आतंकवादी घुसपैठ को समर्थन देने के लिए पाकिस्तान का कड़ा विरोध किया, जिसमें पाकिस्तान की सेना द्वारा दी गई कवर फायरिंग भी शामिल है। साथ ही पाकिस्तान को एक बार फिर से अपने नियंत्रण वाले क्षेत्र का भारत के खिलाफ आतंकवाद में इस्तेमाल न करने की द्विपक्षीय प्रतिबद्धता की याद भी दिलाई।

राष्ट्रपति ने दिवाली की पूर्व संध्या पर देशवासियों को शुभकामनाएं दी