BREAKING NEWS

अनुभवहीनता और गलत नीतियों के कारण देश में आर्थिक मंदी - कमलनाथ◾वायुसेना प्रमुख ने अभिनंदन की शीघ्र रिहाई का श्रेय राष्ट्रीय नेतृत्व को दिया ◾न तो कोई भाषा थोपिए और न ही किसी भाषा का विरोध कीजिए : उपराष्ट्रपति का लोगों से अनुरोध◾अनुच्छेद 370 फैसला : केंद्र के कदम से श्रीनगर में आम आदमी दिल से खुश - केंद्रीय मंत्री◾TOP 20 NEWS 20 September : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾राहुल का प्रधानमंत्री पर तंज, कहा- ‘हाउडी मोदी’ कार्यक्रम ‘आर्थिक बदहाली’ को नहीं छिपा सकता◾रेप के अलावा चिन्मयानंद ने कबूले सभी आरोप, कहा-किए पर हूं शर्मिंदा◾डराने की सियासत का जरिया है NRC, यूपी में कार्रवाई की गई तो सबसे पहले योगी को छोड़ना पड़ेगा प्रदेश : अखिलेश यादव◾नीतीश कुमार ने विधानसभा चुनाव में NDA की बड़ी जीत का किया दावा, कहा- गठबंधन में दरार पैदा करने वालों का होगा बुरा हाल◾कॉरपोरेट कर में कटौती ‘ऐतिहासिक कदम’, मेक इन इंडिया में आयेगा उछाल, बढ़ेगा निवेश : PM मोदी◾PM मोदी और मंगोलियाई राष्ट्रपति ने उलनबटोर स्थित भगवान बुद्ध की मूर्ति का किया अनावरण◾कांग्रेस नेता ने कारपोरेट कर में कटौती का किया स्वागत, निवेश की स्थिति बेहतर होने पर जताया संदेह◾वित्त मंत्री की घोषणा से झूमा शेयर बाजार, सेंसेक्स 1900 अंक उछला◾पीड़िता की आत्मदाह की धमकी और जनता के दबाव में हुई चिन्मयानंद की गिरफ्तारी : प्रियंका गांधी ◾यौन शोषण के आरोप में 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजे गए चिन्मयानंद, 3 और गिरफ्तार◾सरकार ने घरेलू कंपनियों के लिए कॉरपोरेट कर की दर घटाकर की 25.17 प्रतिशत : वित्तमंत्री◾कश्मीर मुद्दे को उठाकर पाकिस्तान नीचे गिरेगा, तो हम ऊंचा उठेंगे : सैयद अकबरुद्दीन ◾शाहजहांपुर यौन शोषण केस में आरोपी स्वामी चिन्मयानंद गिरफ्तार◾अमेरिका : व्हाइट हाउस के नजदीक गोलीबारी में 1 की मौत, 5 घायल◾LIC का पैसा घाटे वाली कंपनियों में लगा रही है मोदी सरकार : प्रियंका गांधी ◾

देश

भारतीय व चीनी सेनाओं ने बातचीत के जरिए सुलझाया पैंगोंग गतिरोध

भारत और चीन के सैनिकों के बीच बुधवार को पूर्वी लद्दाख में पैंगोंग झील के तट पर धक्का-मुक्की हुई थी लेकिन सैन्य सूत्रों ने बताया कि इस मसले को बातचीत के जरिए जल्द ही सुलझा लिया गया। 

सूत्रों ने बृहस्पतिवार को बताया कि इलाके में भारतीय सैनिकों की गश्त पर चीन के सैनिकों ने आपत्ति जताई थी लेकिन भारतीय सैनिकों ने इस ओर ध्यान नहीं दिया और दोनों देशों के सैनिकों के बीच धक्का-मुक्की हुई।

 

उन्होंने बताया कि सुबह की इस घटना के बाद दोनों पक्षों ने और सैनिकों को बुला लिया। शाम तक दोनों पक्षों के बीच गतिरोध कायम रहा। 

हालांकि दोनों पक्षों के बीच प्रतिनिधि स्तर की बातचीत के बाद देर शाम इस विवाद को हल कर लिया गया। 

यह घटना ऐसे समय हुयी जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ दूसरी अनौपचारिक शिखर बैठक के लिए चीनी राष्ट्रपति शी चिनपिंग अगले महीने भारत की यात्रा पर आने वाले हैं। 

सूत्रों ने बताया कि कल प्रतिनिधिमंडल स्तर की बातचीत के बाद दोनों पक्षों के बीच विवाद सुलझ गया। 

सूत्रों के मुताबिक इस घटना का कारण भारत और चीन के बीच वास्तविक नियंत्रण रेखा को लेकर भिन्न भिन्न नजरिया है । 

एक सूत्र ने बताया कि इस तरह की घटनाओं के समाधान के लिए एक तय तंत्र है। 

इस घटना के बारे में पूछे जाने पर विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि यह गौर करना महत्वपूर्ण है कि मामले का कितनी जल्दी हल कर लिया गया। 

उन्होंने कहा, ‘‘मामला सुलझ गया है। मैं समझता हूं कि यह गौर करना जरूरी है कि इस तरह के मुद्दों को हल करने के लिए भारत और चीन के बीच मौजूदा तंत्र हैं।’’ 

कुमार ने कहा, ‘‘यह गौर करना भी महत्वपूर्ण है कि मामला कितनी जल्दी सुलझ गया। इसका मतलब है कि भारत और चीन के बीच जो तंत्र मौजूद है, वह बहुत अच्छी तरह से काम कर रहा है।’’ 

भारत और चीन के बीच करीब 4,000 किमी लंबी सीमा है जिसका एक बड़ा हिस्सा विवादित है। जम्मू-कश्मीर के लद्दाख क्षेत्र में दोनों देश एलएसी द्वारा अलग किए गए हैं। 

अगस्त 2017 में, भारतीय सेना ने पेंगोंग के किनारे चीनी घुसपैठ को नाकाम कर दिया था। चीनी सैनिकों के एक समूह ने दो क्षेत्रों में भारतीय इलाके में प्रवेश करने की कोशिश की थी। इस दौरान दोनों पक्षों ने एक-दूसरे पर पत्थर फेंके थे। घटना का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था।