BREAKING NEWS

कृषि बिल पर विपक्ष बोल रहा है झूठ, किसानों के कंधे पर रखकर चला रहे हैं बंदूक : पीएम मोदी ◾पीएम मोदी , अमित शाह और जेपी नड्डा ने पंडित दीनदयाल उपाध्याय को जयंती पर किया नमन◾कृषि बिल को लेकर राहुल और प्रियंका का केंद्र पर वार- नए कानून किसानों को गुलाम बनाएंगे ◾जम्मू-कश्मीर : अनंतनाग जिले में सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में दो आतंकवादी किये गए ढेर◾ड्रग्स मामले में रकुलप्रीत सिंह से NCB के सवाल-जवाब, चैट सामने आने के बाद भेजा गया था समन◾देश में पिछले 24 घंटे में 86052 नए कोरोना मामलों की पुष्टि, संक्रमितों का आंकड़ा 58 लाख के पार◾कृषि विधेयकों के खिलाफ देशभर में किसानों का विरोध प्रदर्शन, दिल्ली में बढ़ाई गई सुरक्षा ◾TOP 5 NEWS 25 SEPTEMBER : आज की 5 सबसे बड़ी खबरें ◾World Corona : पॉजिटिव केस का आंकड़ा सवा 3 करोड़ के करीब, 9 लाख 81 हजार से अधिक लोगों की मौत ◾बिहार विधानसभा चुनाव : EC आज करेगा तारीखों की घोषणा, चुनाव आयोग की साढ़े 12 बजे PC◾आज का राशिफल (25 सितम्बर 2020)◾पंजाब, हरियाणा के किसान कृषि विधेयकों के खिलाफ 25 सितम्बर को करेंगे विरोध प्रदर्शन◾MP में किसानों के फसल कर्ज माफी पर बोले राहुल - कांग्रेस ने जो कहा, सो किया◾KXIP VS RCB (IPL 2020) : रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की करारी हार, किंग्स इलेवन पंजाब ने RCB को 97 रनों से हराया◾भारत-चीन सीमा विवाद : दोनों पक्ष सैनिकों को पीछे हटाने के लिए वार्ता जारी रखेंगे - विदेश मंत्रालय◾ड्रग्स केस: गोवा से मुंबई पहुंचीं दीपिका पादुकोण, शनिवार को NCB करेगी पूछताछ◾ KXIP vs RCB IPL 2020 : पंजाब ने बैंगलोर को दिया 207 रनों का टारगेट, केएल राहुल ने जड़ा शतक◾महाराष्ट्र में कोरोना के 19164 नए केस, 17185 मरीज हुए ठीक◾जाप ने जारी किया चुनावी घोषणा पत्र, बेरोजगारों को रोजगार देने का किया वादा ◾COVID-19 से संक्रमित मनीष सिसोदिया डेंगू से भी पीड़ित हुए, लगातार गिर रही है ब्लड प्लेटलेट्स◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

भारत-चीन सीमा विवाद पर विपक्षी नेताओं से बंद कमरे में हो सकती है बातचीत, केंद्र ने दिए संकेत

चीन के साथ लगातार बढ़ते तनाव के बीच केंद्र सरकार इस मामले में विपक्ष से बंद कमरे में बातचीत कर सकती है। सरकार ने इस मसले पर संसद में विस्तृत चर्चा कराने को लेकर अनिच्छा जाहिर की। सरकार का कहना है कि इतने संवेदनशील मुद्दे पर सार्वजनिक तौर पर चर्चा कराना ठीक नहीं है। उनके मुताबिक अगर इस मामले पर बात करने की जरूरत पड़ी तो विपक्षी नेताओं के साथ वह बंद कमरे में बातचीत करेंगे।

हालांकि सरकार ने विपक्षी दलों के साथ बातचीत को लेकर अभी कोई अंतिम फैसला नहीं लिया है। लेकिन जरूरत पड़ने पर ऐसा किया जा सकता है। एक नेता ने कहा कि “एक वरिष्ठ मंत्री ने मुझे यह कहने के लिए बुलाया था कि यदि वे सहमत होते हैं तो सरकार अलग-अलग दलों के नेताओं के लिए एक संक्षिप्त बैठक के बारे में सोच रही है। प्रस्ताव पर अभी निर्णय नहीं हुआ है।

लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने इस तरह की बैठक की उपयोगिता पर सवाल उठाया। उन्होंने कहा "यदि समाचार पत्र चर्चा कर सकते हैं, सार्वजनिक चर्चा कर सकते हैं और बाकी सभी लोग चर्चा कर सकते हैं, तो भारतीय संसद ऐसी स्थिति पर चर्चा क्यों नहीं कर सकती है?" 

बता दें, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भारत-चीन सीमा स्थिति पर मंगलवार को लोकसभा में एक बयान दिया, लेकिन विपक्षी नेताओं को किसी भी स्पष्टीकरण की अनुमति नहीं दी गई। अधीर रंजन चौधरी और शशि थरूर सहित नाराज कांग्रेस नेताओं ने संसद परिसर में महात्मा गांधी की मूर्ति के सामने धरना दिया।