BREAKING NEWS

RCB vs GT ( IPL 2022 ) : कोहली के बल्ले से निकली आरसीबी की जीत और प्लेऑफ की उम्मीद◾पंजाब में कांग्रेस को पड़ी दोहरी मार : सिद्धू को एक साल की सजा, जाखड़ ने थामा भाजपा का दामन◾भारतीय मुक्केबाज निकहत जरीन बनीं विश्व चैंपियन , PM मोदी ने दी बधाई ◾ इंडोनेशिया के ऐलान से भारत को राहत, जल्द ही कम हो सकते हैं खाने के तेल के दाम◾ अदालत में दाखिल याचिका को लेकर भड़के ओवैसी, बोले- मुसलमानों के खिलाफ अविश्वास पैदा करने की हो रही कोशिश◾Gyanvapi News: ज्ञानवापी मस्जिद पर अभिनेत्री कंगना बोलीं- काशी के कण- कण में बसे हुए हैं भगवान शिव◾ RCB vs GT: गुजरात टाइटंस ने टॉस जीतकर किया बल्लेबाजी का फैसला, यहां देखे दोनो टीमों की प्लेइंग इलेवन◾Quad Summit 2022: टोक्यो में शुरू होगा मोदी का मिशन, 24 मई को जाएंगे जापान, दिग्गज नेताओं के साथ होगी बातचीत ◾UP: स्वतंत्रता सेनानियों पर भावुक होकर योगी बोले- पिछली सरकारो ने इनके आदर्शों पर नहीं किया काम◾DU को संबोधित करते हुए शाह ने कहा: नहीं होनी चाहिए राजनीतिक लड़ाई, जिक्र किया- रक्षा नीति का.... ◾Gyanvapi Survey: वाराणसी अदालत में 23 मई को होगी अगली सुनवाई, दर्ज की जा चुकी है सर्वे रिपोर्ट ◾ अमित शाह से मिले CM भगवंत मान, PAK से ड्रोन घुसपैठ को लेकर MHA से की ये बड़ी मांग◾1988 रोड रेज केस : एक साल की सजा पर बोले सिद्धू-कानून का सम्मान करूंगा◾Delhi High Court ने लगाई घर-घर राशन योजना पर रोक, कहा: दिल्ली सरकार नहीं कर सकती केंद्र के राशन का इस्तेमाल ◾'कुछ नेता ही कांग्रेस के राष्ट्रीय नेतृत्व को कर रहे हैं गुमराह', इस्तीफे के बाद बोले हार्दिक◾जिसका शिवपाल को था इंतजार.. वो घड़ी आ गई! आजम की जमानत का चाचा-भतीजे पर कैसा होगा असर? ◾SC से रिहाई के बाद फिर जेल जा सकते हैं आजम खान, जानिए किस मामले में फंस सकते हैं SP नेता ◾Delhi News: राजधानी फिर हुई धुआं-धुंआ! मुस्तफाबाद की फैक्ट्री में लगी भीषण आग, दमकल की गाड़ियां मौके पर मौजूद◾नवजोत सिंह सिद्धू को SC से मिला बड़ा झटका, 34 वर्ष पुराने रोडरेज मामले में मिली एक वर्ष की सजा ◾कांग्रेस का हाथ छोड़ हार्दिक पटेल खोल रहे पार्टी की पोल.. BJP में शामिल होने पर कही यह बात ◾

महंगाई की मार : सर्दी खत्म होते ही बढ़ने लगे आलू, गोभी के दाम, सब्जियों की कीमत ने तोड़ी कमर

सर्दी का सीजन समाप्त होने के साथ आलू और गोभी समेत सीजन की अन्य सब्जियों के दाम बढ़ने लगे हैं। वहीं, परवल, खीरा, तोरई और भिंडी के दाम इतने उंचे हैं कि आम उपभोक्ता के बजट के बाहर है। सर्दी के सीजन में आलू, गोभी, मूली, बैगन, पालक, मटर और टमाटर ही सस्ती सब्जियां थीं जो आम उपभोक्ताओं की पहुंच में थीं। मगर, मार्च में इन सब्जियों के दाम में वृद्धि का रुख रहा है। यहां तक कि आलू, जिसका इस साल बंपर पैदावार होने का अनुमान है, के दाम में भी बढ़ोतरी होने लगी है। 

नोएडा के सब्जी विक्रेता पप्पू कुमार ने बताया कि कि अब जो आलू बाजार में आने लगा है उसमें नमी कम है, इसलिए कारोबारी आलू का भंडारण भी करने लगे हैं, इसलिए दाम में वृद्धि होने लगी है। वहीं, गोभी, मटर, मूली का अब ऑफ सीजन आ गया है, इसलिए आवक कम होने लगी है। 

वहीं, करेला, भिंडी, तोरई और खीरा और परवल की नई फसल की आवक जोर पकड़ने में अभी कम से कम एक महीना लगेगा। हालांकि, इनकी खुदरा कीमतों में इस महीने 10 से 20 रुपये प्रति किलो की गिरावट आई है। वहीं, आलू, गोभी, टमाटर, बैगन समेत सर्दी के सीजन की तमाम सब्जियों के दाम मार्च महीने में अब तक 10-20 रुपये किलो बढ़ गए हैं। 

इस साल फरवरी में देश में खुदरा महंगाई दर 5.03 फीसदी दर्ज की गई जोकि पिछले तीन महीने की उंचाई पर है जबकि थोक महंगाई दर फरवरी में 4.17 फीसदी दर्ज की गई जोकि बीते 27 महीने की उंचाई पर है। खुदरा और थोक महंगाई दरों में वृद्धि की एक बड़ी वजह खाने-पीने की चीजों के दाम में बढ़ोतरी रही है। दाल और खाने के तेल के दाम में बढ़ोतरी पहले से ही जारी है और अब इस महीने सब्जियों के दाम भी बढ़ने लगे हैं। सब्जियों के दाम में बढ़ोतरी से आम उपभोक्ताओं की चिंता बढ़ गई है। 

सब्जियों के थोक कारोबारी कहते हैं कि दाल महंगी होने से सब्जियों की खपत ज्यादा हो गई है इसलिए गोभी, टमाटर समेत दूसरी सब्जियों के दाम में बढ़ोतरी होने लगी है, जबकि आलू के थोक दाम में मामूली बढ़ोतरी हुई है। वहीं, प्याज के दाम घट गए हैं। 

ग्रेटर नोएडा निवासी गृहणी प्रीति सिंह कहती है कि नवंबर से लेकर मार्च तक आमतौर पर सब्जियां सस्ती मिलती हैं, लेकिन इस साल पूरे सीजन में गोभी को छोड़कर कोई भी सब्जी सस्ती नहीं हुई और अब आलू-गोभी का भी भाव बढ़ने लगा है जिससे आने वाले दिनों में रसोई का बजट और बिगड़ सकता है। 

दिल्ली-एनसीआर में मंगलवार को सब्जियों के दाम (रुपये प्रति किलो) 

आलू- 20 से 25 रुपये 

फूलगोभी - 25 रुपये से 30 रुपये 

प्याज - 35 से 40 

करेला - 120 रुपए 

परवल - 140 रुपए 

तोरई - 120 रुपए 

बैगन - 40 रुपए 

खीरा - 150 रुपए 

शिमला मिर्च - 80 रुपए 

गाजर - 30 रुपए 

मटर - 40 रुपए 

बींस - 80 रुपए 

सेम - 60 रुपए 

भिंडी - 120 रुपए 

पालक - 40 रुपए 

मूली -30 से 40 रुपए 

लौकी - 40 रुपए 

Source : IANS