BREAKING NEWS

गृहमंत्री अमित शाह ने लोकसभा में पेश किया नागरिकता संशोधन विधेयक◾शिवसेना नागरिकता संशोधन विधेयक का करेगी समर्थन: संजय राउत ◾हैदराबाद एनकाउंटर मामले पर बुधवार को सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट◾कर्नाटक उपचुनाव : कांग्रेस नेता शिवकुमार ने मानी हार, बोले-लोगों ने दलबदलुओं को किया स्वीकार◾विभाजनकारी चालक के साथ कैब की सवारी है ‘कैब’ विधेयक: कपिल सिब्बल ◾शिवसेना ने केंद्र पर लगाया हिंदुओं-मुसलमानों का ‘अदृश्य विभाजन’ करने का आरोप◾कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी का जन्मदिन आज, PM मोदी समेत कई नेताओं ने दी बधाई◾दिल्ली: अनाज मंडी में 24 घंटे बाद फिर लगी इमारत में आग, मौके पर पहुंची दमकल की गाड़ियां◾कर्नाटक उपचुनाव : येदियुरप्पा का दावा- भाजपा जीतेगी 15 में से 13 सीटें◾कर्नाटक उपचुनाव : मतगणना जारी, परिणाम तय करेंगे BJP का भविष्य ◾असम में नागरिकता संशोधन विधेयक के खिलाफ 16 संगठनों का मंगलवार को बंद का आह्वान ◾दिल्ली : आग की त्रासदी के बाद अस्पताल में भयावह दास्तां ◾दिल्ली अग्निकांड : दमकलकर्मी ने इमारत में फंसे 11 लोगों को बचाया ◾दिल्ली अग्निकांड : इमारत का पिछले हफ्ते हुआ था सर्वेक्षण, ऊपरी मंजिलों पर ताला लगा हुआ था - अधिकारिक सूत्र◾नागरिकता संशोधन विधेयक सोमवार को लोकसभा में पेश करेंगे शाह◾प्रियंका गांधी वाड्रा ने UP में त्वरित सुनवायी अदालत के गठन में देरी पर सवाल उठाया ◾भाजपा ने अपने सांसदों के लिए व्हिप किया जारी , 11 दिसंबर तक सदन में रहें मौजूद ◾तिरुवनंतपुरम टी-20 : शिवम के अर्धशतक पर भारी सिमंस की पारी, विंडीज ने की बराबरी◾मोदी ने पूर्वोत्तर राज्यों, जम्मू-कश्मीर व लद्दाख को सर्वोच्च प्राथमिकता दी : जितेंद्र सिंह ◾PM मोदी ने महिलाओं को सुरक्षित महसूस कराने में प्रभावी पुलिसिंग की भूमिका पर जोर दिया ◾

देश

सरकार चाहे कोई बनाए, किसानों का काम हम पूरा करेंगे : गडकरी

 nitin gadkari gst

नागपुर : केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि महाराष्ट्र में चाहे किसी की भी सरकार बने लेकिन किसानों के हित में हम काम करेंगे। 

कृषि उत्पादों को प्रदर्शित करने वाली प्रदर्शनी एग्रोविज़न का उद्घाटन करने के मौके पर केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री बोल रहे थे। 

उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में कौन अगली सरकार बना रहा है उसमें रुचि लेने के बजाय मीडिया को किसानों के मुद्दे पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए। 

गडकरी ने कहा, ‘‘किसी की भी सरकार बने काम बेहतर तरीके से होना चाहिए। महाराष्ट्र की सत्ता में चाहे कोई भी आए, हम किसानों के हित में काम करेंगे। किसान अधिक महत्वपूर्ण है... कौन सरकार में है इसका औचित्य नहीं है।’’ 

केंद्रीय मंत्री की टिप्पणी कांग्रेस, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) और शिवसेना के बीच महाराष्ट्र में सरकार बनाने के मुद्दे पर चल रही गहन बातचीत के बीच आई है। राज्य में 12 नवंबर से राष्ट्रपति शासन लागू है। 

कार्यक्रम में मौजूद लोगों से बात करते हुए उन्होंने कहा, ‘‘ प्याज के आयात को मंजूरी देने संबंधी मंत्रिमंडल के फैसले पर मुझे दुख होता है। मैंने पूछा कि आखिर यह स्थिति क्यों आई जब हमें प्याज का आयात करने की जरूरत पड़ी। पहले दाम दो रुपये प्रति किलो तक गिर जाने पर प्याज फेंका गया। ऐसा होने की वजह यह है कि हमारे पास भंडारण सुविधा नहीं है। 

गडकरी ने कहा कि दस साल पहले शुरू एग्रोविज़न के पीछे का उनका सपना था कि विदर्भ के किसानों की खुदकुशी रुक जाए। 

उन्होंने कहा, ‘‘किसानों को उन्नत और संपन्न बनाने के लिए सबसे महत्वपूर्ण है सिंचाई सुविधा। विदर्भ में जल संरक्षण के लिए हमने कई कार्यक्रम शुरू किए हैं। 

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि भंडारा में पुल सह बैराज बनाने को मंजूरी दी गई है और लातूर में ऐसे ही एक पुल सह बैराज से सुनिश्चित होगा कि जिले में दोबारा ट्रेन से पानी पहुंचाने की जरूरत नहीं पड़े। 

उन्होंने कहा, ‘‘ अगर राज्य में सिंचाई क्षमता में सुधार किया जाए तो किसान खुदकुशी नहीं करेंगे। जब मैं केंद्रीय जल संसाधन मंत्री था तब मैंने देवेंद्र फडणवीस (तत्कालीन मुख्यमंत्री) के अनुरोध पर 40,000 करोड़ रुपये जारी किए थे।