BREAKING NEWS

चरमपंथ से शिक्षा का मंदिर स्कूल भी अछूता नहीं, मरम्मत के पैसे से कट्टरपंथी प्राचार्य ने बनवा दी मजार◾आदेश गुप्ता ने केजरीवाल पर साधा निशाना, कहा- AAP का इतिहास हमेशा से ही हिंदू धर्म के अपमान करने का रहा ◾पाकिस्तान में बाढ़ से हाहाकार! नहीं थम रहा प्रकोप, मरने वालों की संख्या इतने हजारों तक पहुंची ◾ हरियाणा उपचुनाव : आदमपुर जीतने के लिए 'आप' ने झोंकी ताकत, प्रचार के लिए भारी संख्या में उतारेंगी विधायक ◾लद्दाख : भूस्खलन की चपेट में आए सेना के तीन वाहन, 6 जवानों की मौत◾एंटीलिया मामले में सचिन वाजे पर UAPA के तहत चलेगा केस, दिल्ली HC ने खारिज की याचिका ◾हिंदुओं पर हमलों करने वालों के खिलाफ संयुक्त होकर लड़ना होगा - सांसद स्टारर ◾क्या है कर्नाटक में कांग्रेस का 'प्लान 60'? 'भारत जोड़ो यात्रा' में सोनिया के शामिल होने का खुला राज◾BJP सांसद की याचिका पर JMM नेता शिबू सोरेन को दिल्ली हाई कोर्ट का नोटिस◾केजरीवाल के मंत्री पर बीजेपी ने लगाया बड़ा आरोप, कहा - राम और कृष्ण की पूजा ना करने की दिलाई शपथ◾दिल्ली : केंद्रीय विद्यालय में 11 साल की छात्रा के साथ गैंगरेप, आरोपियों के खिलाफ POCSO एक्ट के तहत केस दर्ज◾गहलोत गुट के मंत्रियों पर सोनिया गांधी ने दिखाई नरमी, फिर टूटेगा पायलट का सपना?◾दिल्ली में Anti Dust अभियान शुरू, 14 नियमों का पालन जरूरी, उल्लंघन करने पर पांच लाख का जुर्माना◾Karnataka : दशहरे पर भीड़ ने मदरसे में घुसकर की जबरन पूजा, मुस्लिम संगठनों ने दी चेतावनी ◾मुंबई से 120 करोड़ रुपए की ड्रग्स जब्त, Air India के पूर्व पायलट समेत 2 गिरफ्तार◾झारखंड के दुमका में फिर लड़की के साथ हैवानियत की हदें पार, शादी से मना करने पर प्रेमी ने पेट्रोल डालकर जलाया ◾Rupee Value : नहीं संभल रहा रुपया, डॉलर के मुकाबले 82.33 के रिकॉर्ड निचले स्तर पर पहुंचा◾कोरोना वायरस : देश में पिछले 24 घंटे में संक्रमण के 1,997 नए मामले दर्ज, 9 लोगों की मौत◾अमेरिका : 20 वर्षीय भारतीय-अमेरिकी स्टूडेंट की हत्या, आरोपी कोरियाई रूममेट गिरफ्तार◾उत्तराखंड हिमस्खलन : अब तक 19 शव बरामद, 80 घंटे बाद भी रेस्क्यू ऑपरेशन जारी◾

केंद्र और राज्यों की सत्ता से भाजपा को हटाना आवश्यक, पार्टी सांप्रदायिक ध्रुवीकरण के आधार पर चुनाव लड़ रही : येचुरी

मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के महासचिव सीताराम येचुरी ने आज कहा कि देश और संविधान बचाने के लिए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को सत्ता से हटाना आवश्यक है और इसके लिए उनकी पार्टी का पूरा प्रयास है कि गैरभाजपायी मतों का देश के विभिन्न राज्यों के आगामी विधानसभा चुनावों में बटवारा नहीं हो।

उत्तर प्रदेश में भाजपा को पराजित करने का दम उन्हें समाजवादी पार्टी (सपा) में दिख रहा

माकपा के मध्यप्रदेश राज्य स्तरीय सम्मेलन में शामिल होने आए येचुरी ने यहां पत्रकार वार्ता में कहा कि उत्तरप्रदेश और अन्य राज्यों के विधानसभा चुनावों के मद्देनजर उनकी पार्टी का पूरा प्रयास है कि गैरभाजपायी मतों का विभाजन नहीं हो। उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश में भाजपा को पराजित करने का दम उन्हें समाजवादी पार्टी (सपा) में दिख रहा है और उनकी पार्टी वहां पर सपा को सहयोग करेगी। इसके साथ ही प्रयास होगा कि गैरभाजपायी विचारधारा वाले अन्य दल भी एकसाथ आएं।

 भाजपा जीतती है तो हमारा देश और संविधान और खतरे में आ जाएगा

येचुरी ने कहा कि देश और संविधान बचाने के लिए केंद्र और राज्यों की सत्ता से भाजपा को हटाना आवश्यक है। यदि आने वाले समय में भी भाजपा जीतती है तो हमारा देश और संविधान और खतरे में आ जाएगा। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि देश में भाजपा सांप्रदायिक ध्रुवीकरण के आधार पर चुनाव लड़ रही है। हालाकि उन्होंने यह भी कहा कि अब देश के लोग खासतौर से उत्तरप्रदेश के निवासी भी असलियत समझ चुके हैं। जनता अब भावनात्मक मुद्दों की बजाए‘रोजी रोटी’के सवाल पर ध्यान देने लगी है।

 हमारी पार्टी ने सदैव संविधान विरोधी कार्य करने वाली सरकारों या दलों का विरोध किया

माकपा नेता ने एक सवाल के जवाब में कहा कि हमारी पार्टी ने सदैव संविधान विरोधी कार्य करने वाली सरकारों या दलों का विरोध किया है। वर्तमान में भाजपा का विरोध कर रहे हैं और एक समय जब कांग्रेस की सरकार ने संविधान विरोधी कार्य किए थे, तब हमने उसका भी विरोध किया था। उनका आरोप है कि भाजपा के नेतृत्व में केंद्र की सरकार बड़े उद्योगपतियों को प्रश्रय देकर आम लोगों के हितों के विपरीत नीतियों पर कार्य कर रही है।

इसके पहले कल यहां माकपा का तीन दिवसीय 16वां राज्य स्तरीय सम्मेलन शुरू हुआ। सम्मेलन के उद्घाटन श्री येचुरी ने कहा कि अमरीका की अगुवायी में साम्राज्यवादी देश विश्व पर अपना नियंत्रण पाना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि देश की मोदी सरकार भी दुनिया में‘अमरीकी कठपुतली’के रूप में जानी जाने लगी है। सम्मेलन में माकपा के अन्य नेता भी शिरकत कर रहे हैं। इस दौरान महंगायी, बेरोजगारी और जनहित के अन्य मुद्दे उठाए गए।

UP चुनाव: जिस दल को मिला पूर्वांचल का साथ... उसके सिर सजा जीत का ताज, जानें अब तक कैसा रहा इतिहास