BREAKING NEWS

PM मोदी G-7 शिखर सम्मेलन के लिए पहुंचे फ्रांस◾सचिवालय से हटाया गया जम्मू कश्मीर का झंडा ◾राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री ने सिंधू को दी बधाई◾TOP 20 NEWS 25 August : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾पीवी सिंधु का सुनहरा कारनामा, बैडमिंटन वर्ल्ड चैम्पियनशिप जीतने वाली पहली भारतीय ख़िलाड़ी ◾अब संसद में नहीं गूंजेगी अरुण जेटली की आवाज, खलेगी कमी : राहुल गांधी◾दवाओं की कोई कमी नहीं, फोन पर पाबंदी से जिंदगियां बचीं : सत्यपाल मलिक◾निगमबोध घाट पर पूरे राजकीय सम्मान के साथ अरुण जेटली का अंतिम संस्कार किया गया◾मन की बात: PM मोदी ने दो अक्टूबर से प्लास्टिक कचरे के खिलाफ जन आंदोलन का किया आह्वान ◾लोकतांत्रिक अधिकारों को समाप्त करने से अधिक राजनीतिक और राष्ट्र-विरोधी कुछ नहीं : प्रियंका गांधी◾जी-7 शिखर सम्मेलन में शामिल होने के लिए PM मोदी फ्रांस रवाना◾सोनिया गांधी ने कहा- सीट बंटवारे को जल्द अंतिम रूप दें महाराष्ट्र के नेता◾व्यक्तिगत संबंधों के कारण से सभी राजनीतिक दलों में अरुण जेटली ने बनाये थे अपने मित्र◾अनंत सिंह को लेकर पटना पहुंची बिहार पुलिस, एयरपोर्ट से बाढ़ तक कड़ी सुरक्षा◾पाकिस्तान के राष्ट्रपति आरिफ अल्वी बोले- कश्मीर में आग से खेल रहा है भारत◾निगमबोध घाट पर होगा पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का अंतिम संस्कार◾भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए मुख्य संकटमोचक थे अरुण जेटली◾PM मोदी को बहरीन ने 'द किंग हमाद ऑर्डर ऑफ द रेनेसां' से नवाजा, खलीफा के साथ हुई द्विपक्षीय वार्ता◾मोदी ने जेटली को दी श्रद्धांजलि, बोले- सत्ता में आने के बाद गरीबों का कल्याण किया◾जेटली के आवास पर तीन घंटे से अधिक समय तक रुके रहे अमित शाह ◾

देश

मोदी-शी की अनौपचारिक शिखर बैठक से पहले अगले महीने चीन का दौरा करेंगे जयशंकर

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग के बीच अक्टूबर में भारत में होने वाली दूसरी अनौपचारिक शिखर बैठक के लिए जमीन तैयार करने के वास्ते विदेश मंत्री एस जयशंकर के अगले महीने चीन की यात्रा पर जाने की संभावना है। सरकारी सूत्रों ने यह जानकारी दी।    

सूत्रों ने बताया कि बीजिंग में जयशंकर चीन के स्टेट काउंसिलर एवं विदेश मंत्री वांग यी के साथ क्षेत्रीय और वैश्चिक मुद्दों के अलावा द्विपक्षीय संबंधों के विभिन्न पहलुओं पर चर्चा करेंगे। 

सूत्रों ने कहा कि यात्रा का प्राथमिक उद्देश्य मोदी और शी के बीच दूसरी अनौपचारिक शिखर बैठक के लिए जमीन तैयार करना होगा, जो अक्टूबर के दूसरे सप्ताह में होने की संभावना है। 

अनौपचारिक शिखर सम्मेलन में, दोनों नेताओं के भारत-चीन संबंधों को और व्यापक बनाने पर ध्यान केंद्रित करने की संभावना है जिसमें दोनों देशों के लोगों के बीच संपर्क बढ़ाने और व्यापार तथा निवेश में सहयोग का विस्तार करना शामिल होगा। 

सीमा के सिक्किम सेक्टर के डोकलाम में दोनों देशों की सेनाओं के बीच 73 दिनों के गतिरोध के बाद द्विपक्षीय संबंधों में भारी तनाव के बाद दोनों नेताओं के बीच चीनी शहर वुहान में अप्रैल में पहली अनौपचारिक शिखर बैठक हुई थी। 

भारत में चीन के नए राजदूत सुन वीदोंग ने बीजिंग में कहा कि दोनों देशों में दो मजबूत नेताओं के सत्ता में रहने से दोनों देशों के संबंध नई ऊंचाइयों तक पहुंचना तय है। 

उन्होंने भारतीय पत्रकारों के एक समूह से कहा कि पिछले साल वुहान में अपनी पहली अनौपचारिक शिखर बैठक में शी और मोदी द्वारा प्रदान किए गए रणनीतिक मार्गदर्शन के तहत चीन-भारत संबंधों ने ‘‘विकास की एक बहुत अच्छी और शानदार गति’’ हासिल की है। 

उन्होंने कहा, ‘‘इस साल दोनों नेता एक और अनौपचारिक बैठक करने जा रहे हैं। मुझे विश्वास है, यह हमारे द्विपक्षीय संबंधों में सर्वोच्च प्राथमिकता होगी जो निश्चित रूप से हमारे संबंधों को नई ऊंचाइयों पर ले जाएगी।’’ 

मोदी और शी ने पिछले महीने किर्गिस्तान की राजधानी बिश्केक में शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) शिखर सम्मेलन के मौके पर द्विपक्षीय बैठक की थी। 

मई में हुए आम चुनावों में भाजपा की भारी जीत के बाद मोदी के फिर से सत्ता में आने के बाद दोनों नेताओं के बीच यह पहली बैठक थी। मोदी ने बैठक को 'अत्यंत सफल' बताया था।