BREAKING NEWS

पाकिस्तान को भारत के साथ वार्ता से कभी गुरेज नहीं: विदेश कार्यालय ◾भारत में कोविड-19 के 1.77 करोड़ से अधिक टीके लगाए गए ◾भाजपा ने निर्वाचन आयोग से बंगाल के स्थानीय निकायों में नियुक्त राजनीतिक लोगों को हटाने की मांग की ◾तमिलनाडु : भाजपा ने चुनाव आयोग से किया अनुरोध, राहुल गांधी के चुनाव प्रचार करने पर लगाई जाए रोक◾फिल्म कंपनियों के हिसाब में 300 करोड़ की हेरा-फेरी, तापसी के पास से 5 करोड़ कैश लेने के सबूत मिले◾गृहमंत्री अमित शाह ने भाजपा सीईसी बैठक से पहले मोदी से की मुलाकात ◾जयशंकर ने द्विपक्षीय संबंध मजबूत करने को लेकर बांग्लादेश के विदेश मंत्री के साथ की वार्ता ◾अहमदाबाद टेस्ट : भारतीय स्पिनरों ने झटके 8 विकेट, पहले दिन का खेल खत्म होने तक भारत का स्कोर 24/1 ◾EPFO - केंद्र ने तय की पीएफ पर ब्याज दर, छह करोड़ लोगों को मिलेगा लाभ ◾बंगाल BJP में पुराने नेताओं और नए शामिल होने वालों के बीच दरार ने बढ़ाई टेंशन, उभरी अंदरूनी कलह ◾अगले विधानसभा चुनाव में जीतेंगे 350 से ज्यादा सीटें, EVM सिस्टम करेंगे खत्म : अखिलेश यादव ◾UP विधानसभा के बाहर तैनात सब-इंस्पेक्टर ने खुद को मारी गोली, मौके पर ही मौत◾अहमदाबाद टेस्ट : इंग्लैंड की पहली पारी 205 रन पर ढेर , अक्षर ने झटके 4 विकेट◾शिवसेना पश्चिम बंगाल में नहीं लड़ेगी चुनाव, राउत ने कहा- 'शेरनी' ममता के साथ मजबूती से खड़ी है पार्टी◾केरल: BJP के CM उम्‍मीदवार होंगे ‘मेट्रो मैन’ ई श्रीधरन, हाल ही में हुए थे पार्टी में शामिल◾राहुल के मुहावरों का जावड़ेकर ने मुहावरों से दिया जवाब-सौ चूहे खाकर बिल्ली हज को चली◾मोटे अनाजों को लोकप्रिय बनाने के लिए अग्रिम मोर्चे पर जुटा भारत सम्मानित महसूस कर रहा है : PM मोदी ◾झारखंड के जंगलों में IED ब्लास्ट में तीन जवान शहीद, दो घायल ◾कृषि एवं ग्रामीण क्षेत्र की मजबूती पर सरकार का फोकस, योजनाएं छोटे किसानों के लिए बेहद लाभकारी : तोमर◾ईज ऑफ लिविंग : रहने के लिए सबसे अच्छे शहरों की रेस में बेंगलुरू रहा सर्वश्रेष्ठ, दिल्ली टॉप 10 में भी नहीं ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

वित्त मंत्री सीतारमण ने कहा- मोदी सरकार के जन केंद्रित आर्थिक कार्यक्रमों की बुनियाद रही है जन धन योजना

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने प्रधानमंत्री जन धन योजना के छह वर्ष पूर्ण होने पर इस योजना को मोदी सरकार के जन केंद्रित आर्थिक कार्यक्रमों की बुनियाद बताते हुये आज कहा कि उनका मंत्रालय सामाजिक-आर्थिक रूप से उपेक्षित वर्गों और हाशिए पर मौजूद लोगों को सहायता प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है। वित्त मंत्री ने इस मौके पर कहा कि वित्तीय समावेशन सरकार की एक राष्ट्रीय प्राथमिकता है क्योंकि यह समावेशी विकास के लिए मार्ग प्रशस्त करता है।

यह इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि यह गरीबों को उनकी बचत को औपचारिक वित्तीय प्रणाली में लाने का मार्ग प्रशस्त करता है। साथ ही यह उन्हें गांवों में रहने वाले उनके परिवारों को आसानी से धन भेजने की सुविधा उपलब्ध कराता है जिससे उन्हें अपने परिवारों को अधिक ब्याज लेने वाले ऋण से निकालने में मदद मिलती है। इसी प्रतिबद्धता के साथ शुरू की गई प्रधानमंत्री जन धन योजना (पीएमजेडीवाई) एक महत्वपूर्ण पहल है जो दुनिया में सबसे बड़ वित्तीय समावेशन पहलों में से एक है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 15 अगस्त 2014 को अपने स्वतंत्रता दिवस के संबोधन में पीएमजेडीवाई की घोषणा की थी। 28 अगस्त को इस कार्यक्रम की शुरुआत करते हुए प्रधानमंत्री ने इस अवसर को एक दुष्चक्र से गरीबों की मुक्ति के एक जश्न के रूप में निरूपित किया था।

वित्त मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री जन धन योजना मोदी सरकार के जन केंद्रित आर्थिक कार्यक्रमों की बुनियाद रही है। चाहे प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण हो अथवा कोविड-19 संबंधी वित्तीय सहायता, पीएम-किसान, मनरेगा के तहत मजदूरी में वृद्धि, जीवन एवं स्वास्थ्य बीमा कवर, प्रत्येक वयस्क को बैंक खाता प्रदान करने के लिए उठाया गया पहला कदम था जिसे पीएमजेडीवाई ने लगभग पूरा कर लिया है।