BREAKING NEWS

राजू श्रीवास्तव की हालत स्थिर, डॉक्टर उनका बेहतर इलाज कर रहे हैं : शिखा श्रीवास्तव◾कोलकाता में ममता से मिले पूर्व भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी◾महाराष्ट्र : रायगढ़ तट से मिली संदिग्ध नाव, AK-47 समेत कई हथियार बरामद ◾रोहिंग्याओं पर राजनीति! भाजपा ने कहा- केजरीवाल रोहिंग्याओं को ‘रेवड़ी’ बांट रहे, राष्ट्रीय सुरक्षा के समझौते को तैयार◾जयशंकर ने कहा- भारत स्वतंत्र, समावेशी व शांतिपूर्ण हिंद प्रशांत की परिकल्पना करता है◾गहलोत का भाजपा पर फूटा गुस्सा- देश को हिंदू राष्ट्र बनाया तो होगा पाकिस्तान जैसा हाल◾रायगढ़ में नाव को लेकर बवाल! फडणवीस बोले- खराब मौसम के कारण नाव अनियंत्रित होकर बहते हुए..... ◾ कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष ने कहा, कर्नाटक में कांग्रेस एकजुट, अकेले और सामूहिक नेतृत्व में लड़ेंगे विधानसभा चुनाव◾पता लगाएं किसने रोहिंग्या को फ्लैट में स्थानांतरित करने का फैसला किया? सिसोदिया ने गृहमंत्री को लिखा पत्र ◾रोहिंग्याओं को लेकर बवाल, थरूर बोले-मुद्दे पर सरकार में असमंजस देश के लिए कलंक◾Jagdeep Dhankhar: उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ से गुलाम नबी आजाद ने अहम मुलाकात की◾राहुल गांधी का भाजपा पर कटाक्ष, बोले- पीएम नरेंद्र मोदी को ऐसी राजनीति पर नहीं आती शर्म◾बीमा भारती के लेसी सिंह पर लगाए आरोपों पर भड़के नीतीश, कहा-अगर इधर-उधर का मन है तो अपना सोचें◾Maharashtra: अवैध शराब पर राज्य के गृह विभाग को वासुदेव के खिलाफ रिपोर्ट मिली, जल्द होगा निलंबित.....बोले फडणवीस ◾Gujarat News: AAP पार्टी का मास्टर प्लान! गुजरात विधानसभा चुनाव के लिए 9 उम्मीदवारों की दूसरी सूची सांझा की ◾नीतीश के एक और मंत्री विवादों में, कृषि मंत्री सुधाकर सिंह पर लगा भ्रष्टाचार का आरोप◾Defamation Case : मुंबई कोर्ट का आदेश- संजय राउत को वीडियो कांफ्रेंस के जरिए किया जाए पेश ◾फेक न्यूज पर मोदी सरकार का एक्शन, एक पाकिस्तानी समेत 8 YouTube चैनल किए ब्लॉक ◾बाहुबली मुख्तार अंसारी पर बड़ी कार्रवाई, दिल्ली और UP में कई ठिकानों पर ED की रेड◾पश्चिम बंगाल : टेरर कनेक्शन पर एक्शन, STF ने अलकायदा के 2 आतंकियों को किया गिरफ्तार◾

जत्थेदार ज्ञानी गुरबचन सिंह ने दिया कौम के नाम संदेश

बंदी छोड़ दिवस (दिवाली) के अवसर पर गुरूवार को श्री अकाल तख्त के जत्थेदार ज्ञानी गुरबचन सिंह ने श्री हरिमंदिर साहब की दर्शनीय डयोढी से कौम के नाम संदेश जारी कर कहा कि गांवों से शराब के ठेके बंद किए जाएं तथा लोग कर्ज लेकर सामाजिक रस्में अदा करने की फिजूलखर्ची बंद करें।

इस अवसर पर शिरोमणी गुरुद्वारा प्रबंधक समिति (एसजीपीसी) के प्रधान प्रो. किरपाल सिंह बडूंगर, सच्चखंड श्री हरिमन्दर साहब के मुख्य ग्रंथी ज्ञानी जगतार सिंह, दमदमी टकसाल के प्रमुख ज्ञानी हरनाम सिंह खालसा और कथा वाचक भाई रणजीत सिंह गौहर ने भी बंदीछोड़ दिवस की मुबारकबाद दी।

जत्थेदार ज्ञानी गुरबचन सिंह ने कौम के नाम दिए संदेश में जहाँ श्री गुरु ग्रंथ साहब जी की बेअदबी की घटनाओं को रोकने के लिए गुरुद्वारा प्रबंधक समितियों को सचेत और सावधान होने के लिए कहा, वहीं कौम को नशों और सामाजिक कुरीतियों के विरुद्ध कड़ा संघर्ष शुरु करने का भी न्योता दिया। उन्होने कहा कि समय -समय पर श्री अकाल त़ख्त साहब की द्वारा संदेश और आदेश जारी करने के बावजूव श्री गुरु ग्रंथ साहब जी के पवित्र स्वरूपों की हो रही बेअदबी की घटनाएं रुकने का नाम नहीं ले रही है। उन्होने कहा कि इन घटनाओं को रोकने के लिए गुरुद्वारा समितियाँ सचेत हों तथा गुरूद्वारा में सी.सी.टी.वी। कैमरे लगवाएं।

ज्ञानी गुरबचन सिंह ने कहा कि ग्राम पंचायतें अपने गांवों में से शराब के ठेके हटाने के लिए सर्वसम्मती से प्रस्ताव पास कर पंजाब सरकार के संबंधित विभाग के पास भेजें। उन्होने सिख समुदाए को सामाजिक रस्मों को सादे ढंग से निभाने के लिए प्रेरित करते हुए कहा कि ऐसी रस्मों पर फिजूल खर्ची बंद करें तथा विवाह तथा अन्य कार्यक्रम गुरूद्वारों में ही आयोजित करें। उन्होने कहा कि फिजूलखर्ची रोकने से किसानों द्वारा की जा रही आत्महत्याओं में भी कमी आएगी।

ज्ञानी सिंह ने कहा कि केंद्र और पंजाब सरकार देश की अलग -अलग जेलों में बंद सत्रा पूरी कर चुके बेकसूर सिख कैदियो को तुरंत रिहा करे। उन्होने पंथक संगठनों को भी आपसी टकराव छोड़कर पंथक एकता करने का न्यौता दिया।

एसीजीपीसी के प्रधान प्रो। किरपाल सिंह बडूंगर ने कहा कि श्री गुरु नानक देव जी ने हिन्दुस्तान की बोली, सभ्याचार और रीति -रिवात्र बचाने के लिए जो मिशन आरंभ किया था उसे छठे बादशाह श्री गुरु हरगोबिन्द साहब जी ने ओर आगे बढ़ाते हुए त्रुल्म और अन्याय के विरुद्ध आवात्र बुलंद की थी। उन्होने कहा कि श्री गुरु हरगोबिन्द साहब ने लोगों को एक नयी रोशनी, नये जत्रबे और नये जोश के रूबरू किया। उन्होने संगत से अपील करते हुए कहा कि धार्मिक, सामाजिक, राजनैतिक, आर्थिक और वैज्ञानिक क्रांति का आधार बाँधने वाले गुरू साहिबान की तरफ से दिखाऐ हुए मार्ग को अपनाना आज की बड़ी त्ररूरत है।

इस अवसर पर एसजीपीसी के वरिष्ठ उपप्रधान बलदेव सिंह कायमपुर, महासचिव भाई अमरजीत सिंह चावला, राम सिंह और सुरजीत सिंह भिट्टेवड्ड, सदस्य भाई रजिन्दर सिंह मेहता, बावा सिंह गुमानपुरा, अजायब सिंह अभ्यासी, जगसीर सिंह मांगेआना, सचिव डा. रूप सिंह, अवतार सिंह सैंपला, मनजीत सिंह, अतिरिक्त सचिव सुखदेव सिंह और हरभजन सिंह मनावें आदि उपस्थित थे।