BREAKING NEWS

एलएसी विवाद : कल होगी भारत-चीन के बीच लेफ्टिनेंट जनरल स्तर की चौथी बैठक◾बौखलाए चीन ने निकाली खीज, अमेरिका के शीर्ष अधिकारियों - नेताओं पर वीजा प्रतिबंध लगाया ◾कांग्रेस विधायक दल की बैठक में गहलोत के समर्थन में प्रस्ताव पारित, हाईकमान के नेतृत्व में जताया विश्वास ◾पायलट को मनाने में लगे राहुल और प्रियंका, कई वरिष्ठ नेताओं ने भी किया संपर्क ◾बच गई राजस्थान की कांग्रेस सरकार, मुख्यमंत्री गहलोत ने विधायकों के संग दिखाया शक्ति प्रदर्शन◾सीबीएसई बोर्ड की 12वीं कक्षा के परिणाम घोषित, 88.78% परीक्षार्थी रहे उत्तीर्ण ◾श्रीपद्मनाभ स्वामी मंदिर प्रबंधन पर शाही परिवार का अधिकार SC ने रखा बरकरार◾सियासी संकट के बीच CM गहलोत के करीबियों पर IT का शकंजा, राजस्थान से लेकर दिल्ली तक छापेमारी◾राहुल ने केंद्र पर साधा सवालिया निशाना, कहा- क्या भारत कोरोना जंग में अच्छी स्थिति में है?◾जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग में सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ जारी, एक आतंकवादी ढेर ◾देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 8 लाख 78 हजार के पार, साढ़े पांच लाख से अधिक लोगों ने महामारी से पाया निजात ◾दुनियाभर में कोरोना संक्रमितों के आंकड़ों में बढ़ोतरी का सिलसिला जारी, मरीजों की संख्या 1 करोड़ 29 लाख के करीब ◾CM शिवराज ने किया मंत्रिमंडल में विभागों का बंटवारा, नरोत्तम मिश्रा बने MP के गृह मंत्री◾असम में बाढ़ और भूस्खलन में चार और लोगों की मौत, करीब 13 लाख लोग प्रभावित◾चीन से तनाव के बीच सेना के आधुनिकीकरण के तहत अमेरिका से 72,000 असॉल्ट राइफल खरीद रहा भारत◾पूर्वी लद्दाख में तनाव कम करने के लिए बुधवार तक होगी लेफ्टिनेंट जनरल स्तर की वार्ता◾राजस्थान : कांग्रेस महासचिव अविनाश पांडे का दावा- गहलोत सरकार के पास 109 विधायकों का समर्थन ◾सचिन पायलट ने 30 विधायकों के समर्थन का दावा किया, कांग्रेस बोली- सुरक्षित है गहलोत सरकार ◾विकास दुबे के लिए मुखबिरी करने के आरोपी पुलिसकर्मी को खुद के एनकाउंटर का डर, SC में दी याचिका◾सचिन पायलट की खुली बगावत, विधायक दल की बैठक में नहीं होंगे शामिल, बोले- अल्पमत में है गहलोत सरकार◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

कर्नाटक पोंजी योजना धोखाधड़ी : कंपनी के 7 निदेशक पकड़े गए, SIT गठित

बेंगलुरू : कर्नाटक में निवेश कंपनी द्वारा हजारों लोगों को धोखा देने के आरोप में कंपनी के सात निदेशकों को बुधवार को हिरासत में लिया गया। वहीं कर्नाटक सरकार ने मामले की तहकीकात करने के लिए 11 सदस्य विशेष जांच दल (एसआईटी) का गठन किया है। 

पुलिस के उच्च स्तरीय सूत्रों ने बताया कि अलग अलग इलाकों से सात लोगों को हिरासत में लिया गया है। इससे पहले, सरकार ने दिन में 11 सदस्यीय एसआईटी के गठन का ऐलान किया था। 

बेंगलुरू की आईएमए ज्वैलर्स कंपनी का मालिक मोहम्मद मंसूर खान एक ऑडियो में कथित रूप से खुदकुशी की धमकी देकर गायब हो गया था। 

पुलिस ने आईएमए ज्वैलर्स और खान के खिलाफ मामले दर्ज किए हैं और खान का पता लगाने के लिए टीमें बनाई हैं। 

मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने बुधवार को ट्वीट किया कि एसआईटी की अगुवाई, पुलिस उपमहानिरीक्षक बीआर रविकांत गौड़ा करेंगे। 

निवेशक, कंपनी के शिवाजीनगर इलाके में स्थित दफ्तर में लगातार तीन दिन से डेरा डाले हुए हैं ताकि पुलिस और सरकार पर दबाव बने और उनका पैसा वापस मिले। 

इस बीच, पुलिस उपायुक्त राहुल कुमार शाहपुरवाड ने कहा कि अबतक कंपनी के खिलाफ 13,000 शिकायतें मिली हैं। 

खान का एक ऑडियो क्लिप आया है जिसमें वह आरोप लगा रहा है कि उसने शिवाजीनगर से कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक और पूर्व मंत्री आर रोशन बेग को 400 करोड़ रुपये दिए हुए हैं जो वह नहीं लौटा रहे हैं। 

बेग ने आरोपों को खारिज करते हुए कहा उनके सियासी विरोधियों ने उनकी छवि को खराब करने के लिए चीजें गढ़ी हैं। बेग और भारतीय जनता पार्टी ने मामले की सीबीआई जांच की मांग की है।