BREAKING NEWS

IPL 2020 : राजस्थान रायल्स ने किंग्स इलेवन पंजाब को 4 विकेट से हराया ◾महाराष्ट्र में कोरोना का कोहराम बरकरार, बीते 24 घंटे में 18,056 नए केस, 380 की मौत ◾IPL 2020 RR vs KXIP : पंजाब की तूफानी बल्लेबाजी, राजस्थान को दिया 224 रनों का लक्ष्य◾मप्र उपचुनाव : कांग्रेस ने 9 और उम्मीदवारों की दूसरी लिस्ट की जारी, भाजपा के तीन नेताओं को मिला टिकट◾कोविड-19 : सत्येंद्र जैन ने कहा- पिछले 10 दिनों में दिल्ली में मृत्यु दर एक फीसदी से नीचे रही◾संसद से पारित तीनों कृषि संबंधी विधेयकों को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दी मंजूरी◾IPL 2020 RR vs KXIP : राजस्थान ने जीता टॉस, पंजाब को दिया बल्लेबाजी का न्योता◾फिल्मकार अनुराग कश्यप की गिरफ्तारी में देरी होने पर पायल घोष ने उठाए सवाल ◾बिहार के पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय जेडीयू में हुए शामिल, कहा- नहीं समझता राजनीति◾विधानसभा चुनाव के लिए बिहार में तैनात होंगे 30,000 जवान, गृह मंत्रालय ने दिए निर्देश◾मतदाताओं को लुभाने की कवायद में जुटे राजनीतिक दल, तेजस्वी ने 10 लाख युवाओं को नौकरी देने का किया वादा◾पूर्व सैन्य अधिकारी होने के बावजूद एक दक्ष नेता के तौर पर जसवंत ने हमेशा दिखाई राजनीतिक ताकत◾चीन को जवाब देने के लिए भारत पूरी तरह तैयार, लद्दाख में तैनात किए T-90 और T-72 टैंक◾मन की बात : PM मोदी बोले-देश का कृषि क्षेत्र, हमारे किसान, गांव आत्मनिर्भर भारत का आधार◾जिस गठबंधन में शिवसेना और अकाली दल नहीं, मैं उसको NDA नहीं मानता : संजय राउत◾देश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 60 लाख के करीब, पिछले 24 घंटे में 1124 लोगों की मौत◾राहुल गांधी का PM मोदी पर तंज- काश, कोविड एक्सेस स्ट्रैटेजी ही मन की बात होती◾क्या ड्रग चैट्स का होगा खुलासा, एनसीबी ने दीपिका, सारा और श्रद्धा के फोन किए जब्त ◾पूर्व केंद्रीय मंत्री जसवंत सिंह का निधन, पीएम मोदी ने शोक व्यक्त किया◾पूर्व केंद्रीय मंत्री उमा भारती कोरोना से संक्रमित, खुद को किया क्वारनटीन◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

कसौली गोलीकांडः महिला अफसर की हत्या का आरोपी गिरफ्तार

नई दिल्ली: हिमाचल के कसौली गोलीकांड में पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है, वहां अवैध निर्माण पर कार्रवाई करने गई एक महिला सहायक टाउन प्लानर शैल बाला शर्मा की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। हिमाचल प्रदेश और दिल्ली की संयुक्त पुलिस टीम ने शैल बाला शर्मा की हत्या के आरोपी को मथुरा से गिरफ्तार कर लिया है। वारदात के करीब 48 घंटे बाद आरोपी विजय ठाकुर को पकड़ने में पुलिस को सफलता मिली।प्रशासनिक अधिकारियों और पुलिस बल के सामने ही आरोपी होटल मालिक ने करीब चार राउंड फायरिंग की थी।जिसमें एक गोली महिला अधिकारी शैल बाला शर्मा के मुंह पर और एक गोली लोक निर्माण विभाग के बेलदार गुलाब सिंह के सीने पर जा लगी।

बताया जा रहा है कि आरोपी की गिरफ्तारी मोबाइल लोकेशन की वजह से हुई है। दरअसल आरोपी का एक रिशतेदार बीती रात से हिमाचल पुलिस के आला अधिकारियों से विजय ठाकुर के आत्मसर्मपण करने की बात अपने मोबाइल से कर रहा था। उसके बाद उसने विजय ठाकुर से भी अपने मोबाइल से बात की। इस दौरान पुलिस ने मोबाइल को ट्रैक करना शुरू किया तो उसकी लोकेशन हिमाचल प्रदेश से बाहर आने लगी। अचानक पता चला कि इसी फोन से वृंदावन में भी बात हो रही है। उसी समय पुलिस एक गुपचुप प्लान के तहत अपनी एक टीम को दिल्ली रवाना कर दिया। आज दिन में एक बार फिर पुलिस अधिकारियों के साथ उसी रिशतेदार ने दोबारा सपंर्क साधा व आरोपी के सरेंडर करने की मंशा जाहिर की। तो उस समय साफ हो गया कि मोबाइल वृंदावन के आसपास ही एक्टिव है। उसी आधार पर उत्तर प्रदेश पुलिस से मदद लेने के बजाए हिमाचल व दिल्ली पुलिस की संयुक्त टीम ने आरोपी को वृंदावन से दबोच लिया। उसे एक होटल से दो घंटे के सर्च ऑपरेशन के बाद गिरफ्तार किया गया। उस समय वह भेष बदल कर रह रहा था व अपने बाल भी कटवा लिये थे।

बताया जा रहा है कि हिमाचल पुलिस ने इस लिए यूपी पुलिस को मदद नहीं ली कि पुलिस को जो इनपुट मिले थे,उसमें यह बात थी कि आरोपी वृंदावन के होटल में रूका है। लेकिन ठिकाने का पता नहीं था। इसी वजह से यहां दो टीमों ने सारे होटलों कां खंगाला तो एक होटल में शक के आधार पर विजय ठाकुर को पकड़ा गया तो पूछताछ के आगे वह ज्यादा नहीं टिक पाया।

उधर, कसौली फायरिंग मामले में डीसी सोलन विनोद कुमार ने आज कहा कि इसमें चूक तो हुई है। जिम्मेदारी प्रशासन की बनती थी, इसलिए प्रशासन मामले की जिम्मेदारी लेता है। पत्रकारों से बातचीत करते हुए डीसी विनोद कुमार ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के आदेशों के बाद अवैध कब्जे हटवाने के लिए प्रशासन, पुलिस की टीम बनाई गई थी। अब देखते हैं कि चूक कहां हुई है। उन्होंने कहा कि इस बारे जांच कमेटी बिठा दी गई है। उन्होंने यह भी कहा कि पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल उठ रहे हैं। इसके लिए जांच कमेटी बिठाई गई है।

सुप्रीम कोर्ट ने लगाई  राज्य सरकार को कड़ी फटकार 

महिला अधिकारी की हत्या करने की घटना पर सुप्रीम कोर्ट ने स्वत: संज्ञान लेते हुए राज्य सरकार को कड़ी फटकार लगाई थी। कोर्ट ने अफसर को सुरक्षा उपलब्ध नहीं कराने पर भी राज्य सरकार को फटकार लगाई थी। कोर्ट ने कहा था कि इस तरह की घटना को बर्दाश्त नहीं किया जा सकता और राज्य सरकार को इस मामले की पूरी रिपोर्ट कोर्ट में सौंपने को आदेश दिया था।

  हमारी मुख्य खबरों के लिए यह क्लिक करे