BREAKING NEWS

ट्रंप की भारत यात्रा को लेकर PM मोदी बोले - अमेरिकी राष्ट्रपति के स्वागत को लेकर हिंदुस्तान उत्सुक◾ट्रम्प की थाली में परोसे जाएंगे गुजराती व्यंजन, सूची में खमण भी शामिल ◾नमस्ते ट्रंप : एयर इंडिया ने जारी की एडवाइजरी - यात्रियों को अहमदाबाद हवाईअड्डा जल्द पहुंचने की जरूरत◾भारत 24वां देश जिसके दौरे पर आ रहे हैं अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप◾डिजिटल कंपनियों पर वैश्विक कर व्यवस्था समावेशी हो: सीतारमण ◾प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के लाभार्थियों के खाते में भेजे गए 50850 करोड़ रुपये◾ट्रम्प की यात्रा से दोनों देशों को मिलेगा एक-दुसरे को पहचानने का मौका : SBI प्रबंध निदेशक◾कांग्रेस नेता शत्रुघ्न सिन्हा ने कश्मीर को लेकर पाक राष्ट्रपति की चिंताओं का समर्थन करने की बात से किया इनकार◾US राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भारत के लिए रवाना, कल सुबह 11.40 बजे पहुंचेंगे अहमदाबाद◾Trump - Modi गुजरात में कल करेंगे रोड शो, एक लाख से अधिक लोगों की मौजूदगी में होगा ‘नमस्ते ट्रंप’, शाह ने की समीक्षा◾भारत के सामने गिड़गिड़ाया चीन, कहा- हमें उम्मीद है कि भारत कोरोना वायरस संक्रमण की वस्तुपरक समीक्षा करेगा◾इंडोनेशिया के विश्वविद्यालय में पढ़ाया जाएगा भाजपा का इतिहास ◾राष्ट्रपति ट्रम्प को आगरा के मेयर भेंट करेंगे 1 फुट लंबी चांदी की चाबी ◾ट्रंप को भेंट की जाएगी 90 वर्षीय दर्जी की सिली हुई खादी की कमीज◾‘नमस्ते ट्रंप’ कार्यक्रम में हिस्सा लेने से पहले साबरमती आश्रम जाएंगे राष्ट्रपति ट्रम्प ◾तंबाकू सेवन की उम्र बढ़ाने पर विचार कर रही है केंद्र सरकार ◾TOP 20 NEWS 23 February : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾मौजपुर में CAA को लेकर दो गुटों में झड़प, जमकर हुई पत्थरबाजी, पुलिस ने दागे आंसू गैस के गोले◾दिल्ली : सरिता विहार और जसोला में शाहीन बाग प्रदर्शन के खिलाफ सड़कों पर उतरे लोग◾पहले शाहीन बाग, फिर जाफराबाद और अब चांद बाग में CAA के खिलाफ धरने पर बैठे प्रदर्शनकारी ◾

कश्मीर मुद्दा मोदी सरकार की सबसे बड़ी नाकामी : कांग्रेस 

नई दिल्ली :  कांग्रेस ने कश्मीर मुद्दे को लेकर आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला और कहा कि इसे उनकी सरकार की सबसे बड़ी  असफलताओं  में से एक बताया। इसके साथ्र ही पार्टी ने आश्चर्य जताया कि उनकी विदेशी यात्राओं से भारत को क्या हासिल हुआ जब वह मानव अधिकारों के कथित उल्लंघन को लेकर संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट को रोकने में नाकाम रहे।  कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने घाटी की स्थिति को लकर अपनी पार्टी की चिंता को रेखांकित किया और सरकार से कहा कि 28 जून को शुरू हो रही अमरनाथ यात्रा के तीर्थयात्रियों की सुरक्षा के लिए उठाए गए कदमों को वह सार्वजनिक करे।

उन्होंने यहां संवाददाता सम्मेलन में सवाल किया , ‘‘ क्या आप (सरकार) तीर्थयात्रियों को सुरक्षा देने में सक्षम हैं ?’’ खेड़ा ने कहा कि कांग्रेस कश्मीर मुद्दे पर सर्वदलीय बैठक के लिए चार साल से इंतजार कर रही है। उन्होंने भाजपा पर आरोप लगाया कि उसने  सांप्रदायिक राजनीति  के प्रयोग के लिए कश्मीर को ‘‘ घृणित प्रयोगशाला  में बदल दिया है। उन्होंने आरोप लगाया कि घाटी की स्थिति केंद्र सरकार की न केवल आंतरिक नीतियों बल्कि इसकी विदेश नीति की भी विफलता है। उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि घाटी की मौजूदा स्थिति 1990 के दशक की तुलना में बदतर हो गयी है। उन्होंने कहा कहा कि कानून व्यवस्था की समस्याओं के कारण चुनाव आयोग अनंतनाग में लोकसभा उपचुनाव कराने में असमर्थ है।

खेड़ा ने कहा कि वर्तमान सरकार के तहत एक उपचुनाव में सिर्फ सात प्रतिशत मतदान हुआ जबकि संप्रग कार्यकाल के दौरान 71 प्रतिशत मतदान हुआ था। उन्होंने कहा , ‘‘ कश्मीर मोदी सरकार की सबसे बड़ी विफलताओं में से एक के रूप में सूचीबद्ध होगा। 1990 के दशक में जो स्थिति थी , वहां की मौजूदा स्थिति शायद उससे भी बदतर हो रही है। ’’ उन्होंने कहा कि 27 दिनों में वहां 57 बड़े हमले हुए हैं। खेड़ा ने दावा किया कि दुनिया इसे एक क्षेत्रीय मुद्दे के रूप में देखती थी वहीं भाजपा ने इसे सांप्रदायिक रंग दिया। उन्होंने आरोप लगाया कि कठुआ में एक मुस्लिम जनजाति की बच्ची के साथ सामूहिक दुष्कर्म और हत्या का जिक्र किया।

उन्होंने दावा किया कि सत्तारूढ़ दल के मंत्रियों ने इस मुद्दे को सांप्रदायिक रंग दिया। कांग्रेस नेता ने कश्मीर पर संयुक्त राष्ट्र की  एक तरफा  रिपोर्ट को लेकर भी प्रधानमंत्री पर निशाना साधा उन्होंने सवाल किया कि देश उनकी तथाकथित सद्भावनापूर्ण विदेशी यात्राओं से क्या फायदा हुआ जिनके बारे में वह जिक्र करते रहते हैं। खेड़ा ने आरोप लगाया , ‘‘ इस तरह की कोई रिपोर्ट शायद स्वतंत्र भारत के इतिहास में कभी नहीं आयी। क्या भारत आपके कारण शर्मिंदा नहीं है। यह आपका ‘‘ अपराध ’’ है मोदी जी कि आपने ऐसी रिपोर्ट आने की अनुमति दी। ’’ उन्होंने सरकार से कश्मीर मुद्दे पर सर्वदलीय बैठक बुलाए जाने की मांग की।

अधिक लेटेस्ट खबरों के लिए यहां क्लिक  करें।