BREAKING NEWS

अखिलेश यादव ने BJP सरकार पर लगाया भय फैलाकर लोकतंत्र चलाने का आरोप◾कश्मीर मुद्दे पर आज पाकिस्तान को संबोधित करेंगे इमरान खान◾अमित शाह ने की नक्सलियों के खिलाफ चल रहे अभियानों की समीक्षा, बैठक में कई राज्यों के CM भी रहे शामिल◾INX मीडिया केस: अग्रिम जमानत ठुकराए जाने के खिलाफ चिदंबरम की अपील पर SC का सुनवाई से इनकार◾पूर्व PM मनमोहन सिंह की हटाई गई SPG सुरक्षा, अब मिलेगा सिर्फ Z+ कवर◾मायावती ने कांग्रेस पर बोला तीखा हमला, Article 370 का समर्थन करने की बताई वजह◾सुबोधकांत सहाय बोले- कांग्रेस अनुच्छेद 370 हटाने का नहीं, उसके तरीके का विरोध कर रही◾PM मोदी आज G-7 सम्मेलन के दौरान डोनाल्ड ट्रंप से करेंगे मुलाकात, कश्मीर मुद्दे पर चर्चा संभव◾अधीर रंजन चौधरी का विवादित बयान, बोले- सत्यपाल मलिक को J-K बीजेपी का अध्यक्ष बना देना चाहिए◾कुमारस्वामी ने मुझे दुश्मन समझा और इससे सारी समस्याएं पैदा हुई : सिद्धारमैया◾आईएनएक्स मीडिया मामले में चिदंबरम की अर्जी पर SC में सुनवाई आज, हाईकोर्ट के आदेश को दी है चुनौती◾मंदी को लेकर शत्रुघ्न सिन्हा का केंद्र सरकार पर हमला, कहा-इस गड़बड़ी का कारण क्या है? ◾जसप्रीत बुमराह की आंधी में उड़ा वेस्ट इंडीज, एंटीगा टेस्ट में 318 रन से जीता भारत◾राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री समेत अन्य नेताओं ने सिंधू को शानदार जीत पर बधाई दी ◾PM मोदी ने संयुक्त राष्ट्र प्रमुख एंतोनियो गुतारेस के साथ ‘सार्थक चर्चा’ की◾J&K : केंद्र सरकार ने राज्य के लिए की 85 विकास योजनाओं की शुरुआत◾फ्रांस में PM मोदी ने ब्रिटेन के प्रधानमंत्री जॉनसन से की मुलाकात◾विपक्ष, प्रेस को जम्मू कश्मीर में लोगों पर बल के बर्बर प्रयोग का अहसास हुआ : राहुल◾जेटली के निधन से भाजपा में ‘दिल्ली-4’ दौर हुआ समाप्त ◾जेटली राजनीतिक दिग्गज, देश के लिए अमूल्य संपत्ति थे : लोकसभा अध्यक्ष◾

देश

कांग्रेस विधायक की टिप्पणी से खफा कुमारस्वामी ने पद छोड़ने की दी धमकी

कर्नाटक में कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन में तल्खी के बीच कांग्रेस विधायक की टिप्पणी से नाराज होकर मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी ने सोमवार को इस्तीफा देने की धमकी दी जिसके बाद गठबंधन सहयोगी ने तुरंत कदम उठाते हुए मामले को शांत करने की कोशिश की।

कांग्रेस के महासचिव और कर्नाटक प्रभारी के. सी. वेणुगोपाल ने कहा कि पार्टी आलाकमान को कुमारस्वामी और राज्य सरकार के प्रति पूर्ण आस्था है।

रविवार को एक कार्यक्रम के दौरान सिद्धरमैया को मुख्यमंत्री बनाने के संबंध में कांग्रेस विधायक सोमशेखर की मांग से नाराज कुमारस्वामी ने कहा, ‘‘अगर मेरे काम-काज का तरीका पसंद नहीं है तो मैं इस्तीफा देने को तैयार हूं। मैं भी पद पर बने नहीं रहना चाहता हूं। मुझे कुर्सी का मोह नहीं है।’’

मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस और जेडीएस ने यहां सुशासन देने के लिए सरकार का गठन किया और ‘‘हम अच्छे से अपना काम कर रहे हैं।’’

तृणमूल कांग्रेस के साथ खींचतान के बाद भाजपा ने बंगाल में होने वाली मोदी की रैली का स्थल बदला

एक कार्यक्रम में कांग्रेस विधायक एस. टी. सोमशेखर ने दावा किया था कि यहां और राज्य के अन्य हिस्से में काम ठप पड़ता जा रहा है।

बयान पर प्रतिक्रिया जताते हुए कुमारस्वामी ने कहा, ‘‘हमारी सरकार ने उपनगरीय ट्रेन, एलिवेटेड कॉरिडोर और रिंग रोड के साथ ही एक लाख करोड़ रुपये की परियोजनाएं शुरू कीं।’’

‘ग्रीन लाइन’ के ‘मंत्री स्क्वायर मेट्रो स्टेशन’ पर छह कोच वाले मेट्रो रेल को समर्पित करने के बाद मुख्यमंत्री संवाददाताओं से बात कर रहे थे। वहां पर मौजूद रहे कर्नाटक कांग्रेस के अध्यक्ष दिनेश गुंडू राव ने कहा कि कांग्रेस विधायकों के इस तरह के बयान स्वीकार्य नहीं हैं।

राव ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘आज 8,000 करोड़ रुपये का काम हो रहा है। मैं इस तरह के सार्वजनिक बयानों की निंदा करता हूं और उन्हें ‘कारण बताओ’ नोटिस जारी करूंगा।’’

उन्होंने कहा, ‘‘सुबह एस टी सोमशेखर के बयान पर मेरी नजर गयी। यह अनुशासन का उल्लंघन है। गठबंधन सरकार ने बेंगलुरू में विकास के ढेर सारे काम किए हैं।’’

राव ने कहा कि सोमशेखर बेंगलुरू विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष हैं। उन्होंने कहा, ‘‘उनका सार्वजनिक बयान अनुचित है। मैं इसकी निंदा करता हूं और मैं उनको ‘कारण बताओ’ नोटिस जारी करूंगा ।’’

उन्होंने कहा, ‘‘अगर हमारी सरकार में किसी तरह की कमियां हैं, तो उनको मुख्यमंत्री या उपमुख्यमंत्री जी परमेश्वर से चर्चा करनी चाहिए...हम अनुशासनहीनता बर्दाश्त नहीं करेंगे।’’ राव ने बाद में ट्वीट किया कि सोमशेखर ने अफसोस जताया है और मुख्यमंत्री से माफी मांगी है। बहरहाल, राव ने कांग्रेस नेताओं को अपने बयानों में सावधानी बरतने को कहा है ।

उन्होंने कहा कि सोमशेखर ने ऐसे बयान देकर गठबंधन राजनीति की लक्ष्मणरेरखा पार की। इसे बर्दाश्त नहीं किया जा सकता, खासकर जब वह ऐसे जिम्मेदार पद पर हैं । उन्होंने कहा, ‘‘यह अनुशासनहीनता वाली हरकत है और कार्रवाई शुरू की जाएगी।’’

कांग्रेस महासचिव के सी वेणुगोपाल ने कहा कि कांग्रेस आलाकमान को कर्नाटक सरकार और मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी में पूर्ण आस्था है। इससे पहले, उन्होंने कहा था कि कांग्रेस ऐसे बयानों को बर्दाश्त नहीं करेगी।

उन्होंने कहा, ‘‘अगर स्पष्टीकरण संतोषजनक नहीं हुआ तो पार्टी सख्त अनुशासनात्मक कार्रवाई करेगी। कांग्रेस अनुशासनहीनता वाले इस तरह के बयान और कदम को बर्दाश्त नहीं करेगी।’

सिद्धरमैया को मुख्यमंत्री बनाने की मांग करते हुए सोमशेखर ने रविवार को कहा था कि गठबंधन सरकार पिछले सात महीने से सत्ता में है लेकिन एक भी काम नहीं हुआ है।

विधायक की मांग को खारिज करते हुए सिद्धरमैया ने कहा था कि गठबंधन सरकार पांच साल के लिए है, और उनके मुख्यमंत्री बनने का सवाल ही नहीं उठता। सिद्धरमैया ने कहा, ‘‘मेरे मुख्यमंत्री बनने का सवाल ही नहीं उठता। यह सरकार पांच साल के लिए है। ’’