BREAKING NEWS

महामारी के बीच चुनाव आयोग ने ‘अपने भरोसे के दम’ पर बिहार चुनाव कराया : EC◾भारत ने फ्रांस के राष्ट्रपति मैक्रों पर व्यक्तिगत हमलों की कड़ी निंदा की ◾MI vs RCB : मुंबई इंडियंस ने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को 5 विकेट से हराया◾ED ने सोना तस्करी मामले में निलंबित IAS शिवशंकर को किया गिरफ्तार◾PM का पुतला जलाये जाने वाले बयान पर भाजपा ने बताया राहुल की 'राजनीतिक औकात' ◾केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी को हुआ कोरोना, ट्वीट कर दी जानकारी◾महबूबा मुफ्ती को एक और बड़ा झटका, पीडीपी नेता रमजान हुसैन भाजपा में हुए शामिल ◾बिहार विधानसभा चुनाव - पहला चरण में 71 सीटों पर मतदान संपन्न, शाम पांच बजे तक 51.91 प्रतिशत मतदान ◾कमल नाथ का तीखा तंज - भाजपा ने सिंधिया को 'दूल्हा' तो बना दिया, 'दामाद' नहीं बनने देगी ◾चीन ने भारत के साथ सीमा गतिरोध को द्विपक्षीय मुद्दा बताया, अमेरिकी रणनीति की निंदा की◾राष्ट्रपति कोविंद ने दिल्ली विश्वविद्यालय के कुलपति को किया निलंबित◾'अश्विनी मिन्ना' मेमोरियल अवार्ड में आवेदन करने के लिए क्लिक करें ◾बगहा रैली में राहुल गांधी का पीएम पर वार - 'झूठ बोलने में नरेंद्र मोदी का कोई मुकाबला नहीं'◾पटना रैली में मोदी का प्रहार - 'जिनका प्रशिक्षण कमीशनखोरी का हो, वो बिहार का विकास नहीं सोच सकते'◾लद्दाख को चीन के भूभाग के हिस्से में दिखाने पर ट्विटर का जवाब पर्याप्त नहीं : संसदीय पैनल ◾बिहार विधानसभा चुनाव : दोपहर एक बजे तक पहले चरण में 71 सीटों पर 33.10 प्रतिशत मतदान ◾Bihar Election : कृषि मंत्री कमल निशान वाला मास्क पहन वोट डालने पहुंचे, दर्ज होगा मामला ◾पीएम मोदी ने मुजफ्फरपुर रैली में RJD पर बोला तीखा हमला, तेजस्वी को बताया जंगलराज का युवराज◾दरभंगा रैली में बोले PM मोदी, पूर्व की सरकारों का मंत्र रहा, पैसा हज़म-परियोजना खत्म◾बिहार चुनाव : 11 बजे तक 18.48 फीसदी मतदान,जानिए कहां कितने प्रतिशत हुई वोटिंग◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

LAC विवाद : भारत और चीन ने पूर्वी लद्दाख से पूरी तरह और जल्द सैनिकों के पीछे हटने पर जतायी सहमति

भारत और चीन के बीच के हुए विवाद के बाद पूर्वी लद्दाख में अवरोध की स्थिति उत्पन्न को लेकर करीब एक महीने के बाद संघर्ष वाले क्षेत्र से ‘‘पूरी तरह और जल्द’’ सैनिक पीछे हटने पर सहमति व्यक्त की । दोनों देशों ने कहा कि द्विपक्षीय संबंधों के सम्पूर्ण विकास के लिये पूर्ण रूप से शांति बहाली जरूरी है।  दोनों देशों ने सीमा के मामलों पर विचार विमर्श एवं समन्वय के कार्यकारी ढांचे के तहत आज आनलाइन माध्यम से हुई ताजा राजनयिक वार्ता के दौरान क्षेत्र की स्थिति की समीक्षा की।

दोनों देशों की यह बैठक ऐसे समय हुई जब इस तरह की खबरें आ रही थी कि पीछे हटने की प्रक्रिया आगे की ओर नहीं बढ़ पा रही है, जैसा कि 14 जुलाई की कोर कमांडर स्तर की पिछले दौर की वार्ता के बाद उम्मीद की जा रही थी ।

विदेश मंत्रालय ने कहा कि शुक्रवार की बैठक के बाद दोनों पक्षों ने इस बात पर सहमति व्यक्त की कि त्वरित ढंग से पूरी तरह से पीछे हटने की प्रक्रिया को सुनिश्चित करने के लिये आगे के कदम तय करने के वास्ते वरिष्ठ सैन्य कमांडरों की एक और बैठक हो सकती है।

मंत्रालय ने अपने बयान में कहा, ‘‘ इन्होंने इस बात पर सहमति व्यक्त की कि द्विपक्षीय समझौते और प्रोटोकाल के अनुरूप वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर सैनिकों का पूरी तरह से पीछे हटना और भारत चीन सीमा पर तनाव समाप्त करना तथा शांति स्थापित करना द्विपक्षीय संबंधों का सम्पूर्ण विकास सुनिश्चित करने के लिये आवश्यक है। ’’

विदेश मंत्रालय ने कहा कि दोनों पक्षों ने कहा कि यह पांच जुलाई को दो विशेष प्रतिनिधियों के बीच टेलीफोन पर हुई बातचीत के दौरान बनी सहमति के अनुरूप है।

गौरतलब है कि पांच जुलाई को राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोवाल और चीन के विदेश मंत्री वांग यी ने टेलीफोन पर करीब दो घंटे तक पूर्वी लद्दाख में दोनों देशों के बीच तनाव को कम करने के लिये चर्चा की थी । दोनों पक्षों ने इस वार्ता के बाद छह जुलाई के बाद पीछे हटने की प्रक्रिया शुरू की थी ।

बहरहाल, विदेश मंत्रालय ने कहा कि शुक्रवार की बातचीत में दोनों पक्षों ने इस बात पर सहमति व्यक्त की कि अब तक वरिष्ठ कमांडरों की बैठक में बनी सहमति को गंभीरता से लागू किया जाए ।