BREAKING NEWS

देश भर में कोरोना का प्रकोप जारी, मरने वालों का आंकड़ा 190 के पार, 6500 लोग इससे संक्रमित◾देश भर में कोरोना का कहर का प्रकोप जारी, मरने वालों का आंकड़ा 190 के पार, 6500 लोगों इससे संक्रमित◾कोरोना की चपेट में आया सऊदी का शाही परिवार, किंग सलमान आइसोलेशन में◾Coronavirus : महाराष्ट्र में 24 घंटे के भीतर 25 मौतें, राज्‍य में 1,364 लोग संक्रमित ◾कोविड-19 : राजधानी दिल्ली में कोरोना के 51 नए मामले, राज्य में संक्रमितों की संख्या 720 तक पहुंची◾डॉक्टरों के साथ दुर्व्यवहार करने वालों के खिलाफ की जाएगी सख्त कार्रवाई : CM केजरीवाल◾शिया वक्फ बोर्ड ने तबलीगी जमात पर लगाया गंभीर आरोप, कहा- 1 लाख से ज्यादा लोग मारने की बनाई थी योजना◾कोरोना वायरस : स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा- देश में आवश्यक उपकरणों का स्टॉक मौजूद, PPE और वेंटिलेटर की खरीद शुरु◾देश में कोरोना फैलने के लिए अनिल देशमुख ने दिल्ली पुलिस को ठहराया जिम्मेदार◾कोरोना संकट से जारी जंग में मदद के तौर पर केंद्र सरकार ने राज्यों के लिए आपात पैकेज की दी मंजूरी◾महाराष्ट्र कैबिनेट ने उद्धव ठाकरे को MLC बनाने का लिया निर्णय, राज्यपाल को भेजेंगे प्रस्ताव ◾कोरोना संकट : ओडिशा सरकार ने 30 अप्रैल तक बढ़ाई लॉकडाउन की अवधि, केंद्र से किया ये अनुरोध◾गुजरात में कोरोना के 55 नए मरीज, अकेले अहमदाबाद के 50 लोग हुए संक्रमित◾PM मोदी ने किया ट्रम्प का समर्थन, कहा- मुश्किल वक्त ही दोस्तों को लाती है करीब◾जमात प्रमुख मौलाना साद के ठिकाने का हुआ खुलासा, पुलिस फिलहाल नहीं करेगी पूछताछ ◾झारखंड में कोरोना वायरस से 1 की मौत, मरीजों की संख्या एक दिन में तिगुनी हुई ◾Coronavirus : अमेरिका में मरने वालों की संख्या 14000 के पार, 11 भारतीयों के मौत की पुष्टि◾चीन में कोविड-19 के 63 नए मामलें सामने आए, अबतक करीब 3,335 लोगों की हुई मौत ◾पूरे विश्व कोरोना वायरस का कहर जारी, अब तक वायरस से संक्रमितों की संख्या 15 लाख से अधिक हुई ◾कोविड-19 : देश में 5,734 संक्रमित मामलों की पुष्टि वहीं 166 लोगों की अब तक मौत◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaLast Update :

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

मुंबई के पूर्व पुलिस आयुक्त राकेश मारिया का दावा : लश्कर की योजना मुंबई हमले को हिंदू आतंकवाद के तौर पर पेश करने की थी

मुंबई के पूर्व पुलिस आयुक्त राकेश मारिया ने दावा किया है कि लश्कर-ए-तैयबा ने 26/11 के मुंबई आतंकी हमले को 'हिंदू आतंकवाद' के रूप में पेश करने तथा पाकिस्तानी आतंकवादी मोहम्मद अजमल कसाब को बेंगलुरु के समीर चौधरी के रूप में मारे जाने की योजना बनाई थी। 

मारिया ने सोमवार को जारी अपने संस्मरण ‘‘लेट मी से इट नाउ’’ में 26/11 के मुंबई हमले में उनके द्वारा की गई जांच का जिक्र किया। उस हमले की योजना लश्कर ने बनाई थी और उसमें पाकिस्तान का हाथ भी होने का पता चला था। 

पुस्तक के अंशों के अनुसार, (पाकिस्तानी) आईएसआई और लश्कर जेल में ही कसाब को खत्म करने का प्रयास कर रहे थे क्योंकि वह हमले की कड़ी उन समूहों से जोड़ने वाले प्रमुख सबूत था और दाऊद इब्राहिम के गिरोह को उसे खत्म करने का जिम्मा सौंपा गया था। 

मुंबई आतंकी हमले को 'हिंदू आतंकवाद' के रूप में पेश करने की लश्कर की योजना का ब्यौरा देते हुए मारिया ने लिखा, 'यदि सब कुछ योजना के अनुसार होता, तो कसाब चौधरी के रूप में मर जाता और मीडिया हमले के लिए 'हिंदू आतंकवादियों' को दोषी ठहराती।’’ 

उन्होंने दावा किया कहा कि आतंकवादी संगठन ने आतंकवादियों को भारतीय पते के साथ फर्जी पहचान पत्र भी दिए थे। 

आतंकी हमले के बाद जारी की गयी कसाब की एक तस्वीर के बारे में मारिया ने कहा, 'यह केंद्रीय एजेंसियों का काम था। सुरक्षा को देखते हुए मुंबई पुलिस ने पूरी कोशिश की कि मीडिया के सामने किसी विवरण का खुलासा नहीं हो।’’ 

तस्वीर में कसाब की दाहिनी कलाई पर लाल रंग का धागा बंधा हुआ था जिसे पवित्र हिंदू धागा माना जाता है। इस बात ने कई लोगों को यह भरोसा करने के लिए प्रेरित किया कि षडयंत्रकारियों ने 26/11 हमले को 'हिंदू आतंकवाद' के रूप में पेश करने का प्रयास किया था। 

मारिया ने अपनी किताब में लिखा, ‘‘अखबारों में बड़ी बड़ी सुर्खियां बनतीं जिनमें दावा किया जाता कि किस प्रकार हिंदू आतंकवादियों ने मुंबई पर हमला किया। 

शीर्ष टीवी पत्रकार उसके परिवार और पड़ोसियों से बातचीत करने के लिए बेंगलुरु पहुंच जाते। लेकिन अफसोस, ऐसा नहीं हो सका वह पाकिस्तान में फरीदकोट का अजमल आमिर कसाब था।’’ 

उन्होंने यह भी कहा कि मुंबई के कांस्टेबल शहीद तुकाराम ओम्बले द्वारा कसाब को जिंदा पकड़ लेने से वह योजना नाकाम हो गयी। 

पुस्तक के अनुसार कसाब लूटपाट के लिए लश्कर में शामिल हुआ था और उसका जिहाद से कोई लेना-देना नहीं था। हालांकि ऐसी शिक्षा दी गयी थी ताकि कसाब को विश्वास हो कि भारत में मुसलमानों को नमाज पढ़ने की अनुमति नहीं है। 

मारिया ने पुस्तक में उल्लेख किया कि जब कसाब को मेट्रो सिनेमा के पास एक मस्जिद की यात्रा करायी गयी जो वह चौंक गया। 

पूर्व पुलिस अधिकारी के अनुसार, मुंबई पर हमला करने के लिए कसाब को मिशन पर भेजे जाने से पहले एक हफ्ते की छुट्टी और 1.25 लाख रुपये दिए गए थे। कसाब ने वह पैसे अपनी बहन की शादी के लिए अपने परिवार को दिया।