BREAKING NEWS

भारत, फिलीपीन ने आतंकवाद से लड़ाई में सहयोग जारी रखने की प्रतिबद्धता जतायी ◾एनएससीएन (आईएम) ने मोदी पर जताया भरोसा◾पवार का दावा, इंदापुर सीट पर हर्षवर्धन को मनाने की कोशिश की ◾PM मोदी ने बॉलीवुड कलाकारों और फिल्म निर्माताओं से की मुलाकात◾18 राज्यों की 51 विधानसभा सीटों और दो लोकसभा सीटों पर 21 अक्टूबर को होगी वोटिंग◾कांग्रेस ने बीजेपी पर साधा निशाना - UP में 'जगंल राज', तिवारी की हत्या के मामले में हो कार्रवाई◾मोदी लोगों को बताएं, किसने पाकिस्तान को दो भागों में बांटा : कांग्रेस◾हरियाणा चुनाव के मद्देनजर दिल्ली में सुरक्षा चुस्त ◾महाराष्ट्र, हरियाणा में फीका रहा कांग्रेस का चुनाव प्रचार ◾कांग्रेस की गलत नीतियों ने देश को कर दिया बर्बाद : PM मोदी◾हरियाणा ,महाराष्ट्र के विधानसभा चुनाव के लिए थमा चुनाव प्रचार, 21 अक्टूबर को होगा मतदान , मतगणना 24 अक्टूबर को◾हरियाणा चुनाव 2019 : गोपाल कांडा के भाई के समर्थन में उतरीं सपना चौधरी, भाजपा नाराज◾सीतारमण बोली- सुस्ती के प्रभाव को कम करने के लिए सम्मलित प्रयास हो ◾TOP 20 NEWS 19 October : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾रेवाड़ी में बोले मोदी- कांग्रेस 1964 में वादा करने के बावजूद अनुच्छेद 370 समाप्त करने में नाकाम रही◾कमलेश तिवारी हत्याकांड: CM योगी बोले- इस मामले में शामिल आरोपियों को नहीं छोड़ेंगे◾प्रधानमंत्री जनता से बोलें कि कांग्रेस सरकार ने पाकिस्तान के दो टुकड़े किए : कपिल सिब्बल◾अमित शाह की राहुल को चुनौती, बोले- घोषणा करें कि सत्ता में वापसी के बाद अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को करेंगे लागू◾हरियाणा चुनाव: PM मोदी बोले- कांग्रेस ने अपनी गलत नीतियों से देश को किया बर्बाद ◾प्रियंका का तंज- भाजपा के मंत्रियों का काम अर्थव्यवस्था सुधारना है, 'कॉमेडी सर्कस' चलाना नहीं◾

देश

राजमार्ग परियोजनाओं के लिए 2024 तक 1.25 करोड़ रुपये की ऋण सुविधा देगी एलआईसी : नितिन गडकरी

देश के बुनियादी ढांचा क्षेत्र की वित्तपोषण की जरूरतों को पूरा करने के नवोन्मेषी तरीकों के तहत बीमा क्षेत्र की दिग्गज कंपनी जीवन बीमा निगम (एलआईसी) ने 2024 तक राजमार्ग परियोजनाओं के लिए 1.25 लाख करोड़ रुपये की ऋण सुविधा देने का फैसला किया है। केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने यह जानकारी दी। मंत्रालय 8.41 लाख करोड़ रुपये की महत्वाकांक्षी भारतमाला परियोजना का समय पर क्रियान्वयन करना चाहता है। इसके जरिये अखिल भारतीय स्तर पर राजमार्गों का ‘ग्रिड’ बिछाया जा सकेगा। 

मंत्रालय इस परियोजना के लिए पेंशन और बीमा कोषों सहित वित्तपोषण के विभिन्न स्रोतों तक पहुंचना चाहता है। गडकरी ने कहा, ‘‘एलआईसी ने हमें एक साल में 25,000 करोड़ रुपये और पांच साल में 1.25 लाख करोड़ रुपये की ऋण सुविधा की पेशकश की है। इस पर वे सैद्धान्तिक रूप से सहमत हैं। हम राजमार्ग निर्माण में इस कोष का इस्तेमाल करेंगे।’’ एलआईसी के चेयरमैन आर कुमार ने पिछले सप्ताह गडकरी से मुलाकात की थी। 

मंत्री ने कहा कि इस ऋण सुविधा का इस्तेमाल भारतमाला परियोजना के लिए किया जाएगा जिसकी संशोधित लागत 8.41 लाख करोड़ रुपये पर पहुंच गई है। भारतमाला परियोजना की शुरुआती लागत 5.35 लाख करोड़ रुपये थी। बाद में भूमि अधिग्रहण की लागत की वजह से इसमें इजाफा हो गया। पहले चरण में 34,800 किलोमीटर का उन्नयन किया जाएगा। इसमें राष्ट्रीय राजमार्ग विकास परियोजना (एनएचडीपी) का शेष 10,000 किलोमीटर भी शामिल है। 

गडकरी ने कहा कि भारतमाला परियोजना का वित्तपोषण उपकर, टोल राजस्व, बाजार से कर्ज, निजी क्षेत्र की भागीदारी, बीमा कोष, पेंशन कोष, मसाला बांड और अन्य पहल के जरिये किया जाएगा। एलआईसी से ऋण सुविधा ऐसी ही एक पहल है। शुरुआती योजना के अनुसार इसके लिए कोष 30 साल की अवधि के लिए जुटाया जाएगा और प्रत्येक दस साल में ब्याज दरों में संशोधन होगा। एक अधिकारी ने कहा कि भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) तथा एलआईसी के अधिकारी मिलकर इसके तौर तरीके तय करेंगे। यह कर्ज एनएचएआई द्वारा जारी बांड के रूप में होगा। गडकरी ने कहा, ‘‘हमारे पास कोष की कमी नहीं है।‘‘ 

उन्होंने कहा कि जैसे ही परियोजनाएं पूरी होंगी उनका मौद्रिकरण किया जाएगा और उससे हासिल कोष को पुन: राजमार्ग निर्माण में लगाया जाएगा। एनएचएआई परिचालन में आ चुके राजमार्ग खंडों की नीलामी के तीसरे चरण में निगाह टीओटी (टोल, परिचालन और स्थानांतरण) माडल पर चल रहे कुल 566 किलोमीटर के नौ मार्ग खंड नीलाम करना चाह रही है। इससे 4,995 करोड़ रुपये हासिल होने की उम्मीद है। ये खंड उत्तर प्रदेश , बिहार , झारखंड और तमिलनाडु में पड़ते हैं।