BREAKING NEWS

आंध्र प्रदेश में कोरोना के 10 हजार से अधिक नए मामले की पुष्टि, 77 की मौत◾लाखों दीपों से जगमगा उठी रामनगरी, पुष्पों से सजा शहर◾जम्मू कश्मीर पर बड़बोली टिप्पणी करने को लेकर भारत ने चीन को दी सख्त नसीहत◾महाराष्ट्र : मुंबई में तेज हवा के साथ भारी बारिश, कई इलाकों में रेड अलर्ट◾महाराष्ट्र में कोरोना का प्रकोप जारी, 24 घंटे में 334 लोगों की मौत, 10309 नए मामले◾प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने रिया चक्रवर्ती को भेजा सम्मन, सात अगस्त को पूछताछ के लिए बुलाया ◾एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में जांच करेगी सीबीआई, केंद्र ने जारी की अधिसूचना ◾चीन का बड़बोलापन : जम्मू-कश्मीर में धारा 370 हटाना अवैध और अमान्य, एकतरफा बदलाव अस्वीकार्य◾भूमि पूजन के बाद भावविभोर हुए योगी, बोले : 'रामराज्य' और 'नए भारत निर्माण' के युग का प्रारंभ◾अयोध्या : भूमि पूजन के दौरान चरम पर पहुंचा रामभक्तों का उत्साह, भावुक हुए श्रद्धालु◾भूमिपूजन पर बोले ओवैसी-यह लोकतंत्र की हार और हिंदुत्व की सफलता का दिन◾अयोध्या में सुनहरा अध्याय रच रहा है भारत, राष्ट्रीय एकता और राष्ट्रीय भावना का प्रतीक बनेगा राम मंदिर : PM मोदी ◾भूमि पूजन के बाद बोले मोहन भागवत-आज देश में सदियों की आस पूरी होने का आनंद◾राम मंदिर भूमि पूजन के बाद राहुल का तंज- घृणा और क्रूरता से प्रकट नहीं हो सकते राम◾500 साल का लंबा इंतजार खत्म, भूमि पूजन के साथ साकार हुआ भव्य राम मंदिर का सपना◾सुशांत सुसाइड केस : केंद्र ने CBI जांच संबंधी सिफारिश की स्वीकार, SC ने कहा- मामले का सच सामने आना चाहिए◾राम मंदिर भूमि पूजन : अयोध्या में PM मोदी ने रामलला के किए दर्शन, कार्यक्रम की हुई शुरुआत ◾अनुच्छेद 370 को निरस्त किए जाने का एक वर्ष पूरा, लाल चौक पर BJP कार्यकर्ता रम्यसा रफीक ने लहराया तिरंगा◾World Corona : विश्व में संक्रमितों का आंकड़ा 1 करोड़ 85 लाख के पार, 7 लाख से अधिक लोगों की मौत ◾देश में कोरोना संक्रमण के 52 हजार 509 नए मामलों की पुष्टि, संक्रमितों की संख्या 19 लाख के पार◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

अपराधी को घूस लेकर छोड़ने का आरोप, पुलिस महानिरीक्षक के खिलाफ दिए जांच के आदेश

यू पी के एक शीर्ष पुलिस अधिकारी के खिलाफ योगी सरकार ने जांच के आदेश दिए हैं। पुलिस अधिकारी पर पंजाब की नाभा जेल ब्रेक के मास्‍टरमाइंड गोपी घनश्यामपुरा को घूस लेकर छोड़ने का आरोप लग रहा है। घनश्यामपुरा को छोड़ने के लिए पुलिस अधिकारी ने एक करोड़ रुपये की रकम ली थी. इस मामले की जब मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ को जानकारी मिली । तो उन्‍होंने मंगलवार शाम प्रमुख सचिव गृह अरविंद कुमार और पुलिस महानिदेशक सुलखान सिंह को तलब किया। योगी सरकार के निर्देश पर प्रमुख सचिव गृह ने एडीजी के नेतृत्व में मामले की उच्च स्तरीय जांच के आदेश दिए हैं ।

आधिकारिक सूत्रों के अनुसार एक पुलिस महानिरीक्षक पर इस मामले में एक करोड़ रुपये लेकर उसे भगाने में मदद करने का आरोप लग रहा है, हालांकि इस मामले की उच्चस्तरीय जांच के आदेश दे दिये गये हैं।

उधर, शक के दायरे में आये पुलिस महानिरीक्षक ने कहा कि वह अभी इस मामले में कुछ नहीं बोलेंगे, क्योंकि जांच के आदेश हो गये हैं। उनका इस मामले से कोई लेना देना नहीं है और न ही शासन प्रशासन के किसी अधिकारी ने इस बारे में उनसे कुछ कहा है। वह समझ नहीं पा रहे हैं कि उन पर क्यों उंगली उठायी जा रही है।

इस मामले में गृह विभाग के प्रमुख सचिव अरविन्द कुमार ने अपर पुलिस निदेशक (कानून व्यवस्था) के नेतृत्व में उच्चस्तरीय जांच के आदेश दिये है।

इसी बीच, ऊर्जा मंत्री एवं राज्य सरकार के प्रवक्ता श्रीकांत शर्मा ने कहा कि पूरे मामले की जांच अपर पुलिस महानिदेशक (कानून व्यवस्था) से करायी जा रही है। दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जायेगी। सरकार का लक्ष्य जीरो टालरेंस है। एक पुलिस महानिरीक्षक का नाम इस मामले में सामने आने की बात पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि अधिकारी चाहे जिस स्तर का हो किसी दोषी को नहीं छोड़ा जायेगा।

गौरतलब है कि पंजाब के पटियाला में नाभा जेल तोडकर भागने की घटना 27 नवंबर 2016 को हुई थी। अपराधियों ने फायरिंग करके बब्बर खालसा ग्रुप के हरमिंदर सिंह मिंटू , विक्की गोंदर, गुरुप्रीत सिंह राखो उर्फ सोनू मुटकी, कुलप्रीत सिंह उर्फ नीता देओल, अमनदीप धोतिया और कश्मीर सिंह को छुड़ा लिया था। इस घटना में पहली गिरफ्तारी सहारनपुर से हुई थी। इसका मास्टर माइंड गोपी घनश्यामपुरा था।