BREAKING NEWS

CM केजरीवाल का एलान- कार्यालय में अंबेडकर और भगत सिंह की लगेंगी तस्वीरें, जानें इसके पीछे के सभी समीकरण◾राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर उप राष्ट्रपति ने दिया बयान, अगले लोकसभा चुनाव में कम से कम 75 % होना चाहिए मतदान ◾राहुल का हाथ छोड़ अब BJP का कमल खिलाएंगे RPN, कांग्रेस बोली- 'कायर' नहीं लड़ सकते हमारी लड़ाई... ◾अपना दल ने पहले और दूसरे चरण के लिए स्टार प्रचारकों की लिस्ट जारी की, जानें- किन किन नेताओं का है नाम?◾नमो ऐप के जरिए बोले पीएम मोदी- पहले देश, फिर दल, यह हमेशा हमारे कार्यकर्ताओं के लिए भाजपा का मंत्र रहा है◾Himachal: शादी में बर्फबारी बनी रोड़ा, तो शादी करने JCB लेकर पहुंचा दूल्हा◾RPN ने चुनावी मजधार में छोड़ा कांग्रेस का साथ, सोनिया को भेजा इस्तीफा, बोले- नए अध्याय की शुरुआत ◾यूपी चुनाव : BSP प्रमुख फरवरी से करेंगी चुनाव प्रचार का आगाज, इस जिले में होगी पहली जनसभा ◾कर्नाटक: मंत्रिमंडल विस्तार पर मचा बवाल, BJP नेता अपना रहे बागी रुख, कांग्रेस में हो सकते हैं शामिल ◾यूपी: CM योगी ने अखिलेश पर किया जुबानी हमला, कहा- सपा के नेता समाजवादी नहीं बल्कि तमंचावादी हैं ◾दिल्ली: कोरोना के दैनिक मामलों में दर्ज हुई गिरावट, CM केजरीवाल बोले- जल्द मिलेगी प्रतिबंधों से राहत ◾दिल्ली में शराब प्रेमियों के लिए अच्छी खबर, सालभर में 21 की जगह अब सिर्फ 3 Dry Day◾यूपी: AIMIM ने उमैर मदनी को मैदान में उतारा, चुनावी घमासान में तेज हुई मुस्लिम वोटों के लिए खींचतान◾फिर आमने-सामने शिवसेना और BJP, राउत बोले-हिंदुत्व के मुद्दे पर सबसे पहले हमने लड़ा था चुनाव◾कांग्रेस को लगेगा बहुत बड़ा झटका! स्टार प्रचारक RPN हो सकते हैं BJP में शामिल, स्वामी मौर्य की बढ़ेंगी मुश्किलें ◾राष्ट्रपति और PM मोदी समेत इन नेताओं ने दी हिमाचल के स्थापना दिवस पर राज्यवासियों को बधाई◾BJP सांसद गौतम गंभीर हुए कोरोना पॉजिटिव, संपर्क में आए लोगों से की टेस्ट कराने की अपील ◾मायावती का विरोधियों पर निशाना, कहा- बसपा को छोड़ बाकी सभी सरकारों ने किया राजनीति का अपराधीकरण ◾महाराष्ट्र : पुल से गिरी कार, भीषण सड़क हादसे में BJP विधायक के बेटे समेत 7 छात्रों की मौत◾Corona Update : कोरोना केस में गिरावट, 2 लाख 55 हज़ार नए मामले, एक्टिव केस 22 लाख से ज्यादा◾

दोनों त्योहारों के जुलूसों के लिए अलग-अलग मार्गों का किया जाये प्रबंध : कलकत्ता HC

कलकत्ता उच्च न्यायालय ने ममता सरकार के मुहर्रम के मद्देनजर दुर्गा प्रतिमा विसर्जन टाले जाने संबंधी आदेश को खारिज करते हुए आज दोनों त्योहारों के जुलूसों के लिए अलग-अलग मार्गों का प्रबंध करने का राज्य सरकार को फरमान सुनाया।

ममता सरकार ने पहले मुहर्रम को देखते हुए एक अक्टूबर को दुर्गा प्रतिमा विसर्जन नहीं करने के आदेश दिये थे। न्यायालय ने अपने आदेश में कहा कि प्रतिमाओं का विसर्जन सभी दिन होगा। न्यायालय ने राज्य सरकार को आदेश दिया कि वह मुहर्रम और दुर्गा प्रतिमा विसर्जन के लिए अलग-अलग मार्गों का प्रबंध करे।

इससे पहले उच्च न्यायालय ने दुर्गा प्रतिमा विसर्जन को टाले जाने संबंधी आदेश को लेकर राज्य सरकार को फटकार लगाते हुए कहा कि बिना किसी आधार के ताकत का इस्तेमाल गलत है। आखिरी विकल्प का फैसला बाद में करना चाहिए।

न्यायालय ने कहा कि सरकार के पास अधिकार हैं, लेकिन असीमित नहीं है। बिना किसी आधार के ताकत का इस्तेमाल गलत है, आखिरी विकल्प का फैसला सबसे बाद में करना चाहिए 1Þ राज्य सरकार ने मुर्हरम को देखते हुए एक अक्टूबर को मूर्ति विसर्जन पर रोक लगायी थी। सरकार के इस फैसले के खिलाफ उच्च न्यायालय में जनहित याचिका दायर की गयी थी। इसी मामले की सुनवाई के दौरान न्यायालय ने कल भी कड़ा रुख अपनाया था।