BREAKING NEWS

कामकाज पर हो चर्चा, संसद चलाना सरकार की जिम्मेदारी- कांग्रेस ◾राहुल गांधी ने ओम बिरला से किया आग्रह, कहा- मेरे खिलाफ मंत्रियों ने बेबुनियाद आरोप लगाए, जवाब देने का मौका मिले◾दिल्ली: BJP विधायक विजेंद्र गुप्ता पर एक्शन, सदन से एक साल के लिए सस्पेंड, जानें वजह ◾JPC की मांग पर अड़े विपक्षी दल , संसद भवन के गलियारे में किया प्रदर्शन, ‘वी वांट जेपीसी’ के लगाए जोरदार नारे ◾PTI पर प्रतिबंध लगाने के लिए, पाकिस्तान में सत्तारूढ़ गठबंधन ने दिए संकेत◾अमृतपाल सिंह के खिलाफ एक्शन पर CM केजरीवाल ने कहा- शांति भंग करने पर होगी कड़ी कार्रवाई◾एलन मस्क ने कहा - 'ट्विटर जल्द ही लंबे फॉर्म वाले ट्वीट्स को 10 हजार अक्षरों तक बढ़ाएगा'◾यूपी: पूर्वांचल के किसानों को PM मोदी की सौगात, मिलेगा इंटीग्रेटेड पैक हाउस, जानें इसके फायदे◾कांग्रेस का भाजपा IT cell पर पलटवार, कहा- PM मोदी ने देश में खड़ी की जुमलेबाजी की इमारत◾केंद्र सरकार के खिलाफ राज्य प्रति भेदभावपूर्ण व्यवहार के विरोध में धरना प्रदर्शन करेगी ममता बनर्जी◾कर्नाटक उच्च न्यायालय का निर्देश, अवैध होर्डिंग्स पर अनुपालन रिपोर्ट आंखों में धूल झोंकने वाली है◾बांग्लादेश में एक नए नौसैनिक पनडुब्बी बेस का किया गया उद्घाटन◾अमृतपाल के चाचा हरजीत सिंह को लाया गया डिब्रूगढ़ जेल... क्या कुछ बड़ा होने वाला है? जानिए ◾यूएन ने किया खुलासा, ग्लोबल वार्मिंग से भारत के खाद्य उत्पादन में आ सकती है भारी कमी◾केरल विधानसभा में विपक्ष का जोरदार हंगामा, सदन अनिश्चितकाल के लिए स्थगित◾दिल्ली आबकारी केस: ED के सामने तीसरी बार पेश हुईं कविता, अब तक 12 लोग हो चुके हैं अरेस्ट ◾CM योगी का बड़ा ऐलान, कहा- 500 से अधिक खिलाड़ियों को यूपी की विभिन्न सेवाओं में मिलेगा स्थान◾श्रीलंका को IMF से मिला 2.9 बिलियन डॉलर का बेलआउट पैकेज, राष्ट्रपति रानिल विक्रमसिंघे किया आभार व्यक्त◾West Bengal: हावड़ा में दर्दनाक सड़क हादसा, बस से टकराई कार, 3 की मौत◾झारखंड में कोविड वायरस के दस मामले और H3N2 के दो मामले मिले◾

मंगलयान मिशन खत्म, इसरो ने की पुष्टि, जानिए अब तक यान ने दिए क्या-क्या उपहार?

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन ने सोमवार को पुष्टि की है कि मंगलयान का जमीनी स्टेशन से संपर्क टूट गया है, जिसे बहाल नहीं किया जा सकता और इस तरह इस मिशन की जीवन अवधि अब पूरी हो गई है।

6 महीने की अवधि के बावजूद आठ साल तक टिका रहा मंगलयान 

दरअसल, इसरो ने इसके बारे में अद्यतन जानकारी दी है। जिसने मंगल ग्रह की कक्षा में मार्स ऑर्बिटर मिशन के आठ साल पूरे होने के अवसर पर 27 सितंबर को एक राष्ट्रीय बैठक आयोजित की थी। बता दें कि मंगलयान की अवधि केवल 6 महीने थी जिसके बावजूद उसने आठ साल तक काम किया। इसरो ने एक बयान में कहा कि यान से अब संपर्क बहाल नहीं किया जा सकता और यह अपना जीवनकाल पूरा कर चुका है।

मंगलयान ने दिए हैं ये बड़े उपहार 

गौरतलब है कि मंगलयान को पांच नवंबर 2013 को प्रक्षेपित किया गया था और इसे 24 सितंबर 2014 को मंगल की कक्षा में सफलतापूर्वक स्थापित कर दिया गया था। इसरो ने कहा है कि इन आठ वर्षों के दौरान पांच वैज्ञानिक उपकरणों से लैस इस यान ने मंगल ग्रह की सतह की विशेषताओं, इसके आकृति विज्ञान, मंगल ग्रह के वातावरण और इसके बाह्यमंडल पर महत्वपूर्ण वैज्ञानिक समझ का उपहार दिया।