BREAKING NEWS

बिना थके डटे रहे PM मोदी, अमेरिका के 65 घंटे के दौरे पर की 20 बैठकें◾योगी मंत्रिमंडल का विस्तार आज, जितिन प्रसाद समेत ये 7 नए मंत्री लेंगे शपथ◾डल लेक पर वायुसेना के विमानों ने किया शक्ति प्रदर्शन, 'अपने सपनों को पंख दो' विषय के साथ युवाओं को किया प्रेरित ◾US से वतन लौटे PM, पार्टी ने किया भव्य स्वागत, नड्डा बोले- मोदी ने दुनिया में भारत का डंका बजाया....◾'मन की बात' में बोले PM मोदी- डिजिटल लेनदेन से देश की अर्थव्यवस्था में आ रही स्वच्छता और पारदर्शिता◾सीएम चन्नी आज करेंगे मंत्रिमंडल का विस्तार, शामिल होंगे 15 नए मंत्री ◾ मायावती ने किसानों के ‘भारत बंद’ का किया समर्थन, केंद्र सरकार से की कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग ◾देश में पिछले 24 घंटे में संक्रमण के 28326 नए मामलों की पुष्टि, 260 और लोगों की मौत◾UNGA में PM मोदी के भाषण से जयशंकर ने बताईं 12 बड़ी नीतिगत बातें, भारत को बताया 'लोकतंत्र की जननी'◾दुनियाभर में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 23.14 करोड़ से ज्यादा हुए, अब तक 47.4 लाख से अधिक लोगों की हुई मौत ◾जम्मू-कश्मीर के बांदीपुरा में आतंकवादियों ने सुरक्षाबलों पर चलाई गोलियां, मुठभेड़ शुरू ◾तालिबान शासन अपने वादों को पूरा करे और विशेष रूप से एक वास्तविक प्रतिनिधि सरकार बनाये : रूस◾आंध्र प्रदेश और ओडिशा के तटों से आज टकराएगा चक्रवात ‘गुलाब’, तूफान की तीव्रता बढ़ी, ऑरेंज अलर्ट जारी ◾PM मोदी अपने साथ अमेरिका से लेकर आएंगे 157 प्राचीन कलाकृतियां व वस्तुएं◾यूएनएससी में स्थायी सीट भारत की शीर्ष प्राथमिकता : विदेश सचिव श्रृंगला◾भारत ने पहला डीएनए टीका विकसित किया, 12 साल से अधिक उम्र के सभी लोगों को दिया जा सकता है : PM मोदी◾PM मोदी अमेरिका की ‘ऐतिहासिक यात्रा’ के बाद भारत रवाना◾भाजपा-कांग्रेस समर्थकों मे मारपीट : सांसद ने लगाया मारपीट का आरोप, कांग्रेस नेताओं पर मामला दर्ज◾जब हम एकजुट हैं, तो हम अधिक शक्तिशाली और बेहतर हैं - PM मोदी◾कमला हैरिस की टिप्पणी को लेकर राहुल का PM मोदी पर तंज, कहा- क्या उन्हें समझ आया◾

मायावती ने केंद्र और राज्य सरकारों पर साधा निशाना, कहा- प्रवासी मजदूरों को लेकर नहीं हैं चिंतित

प्रवासी मजदूरों के मुद्दों पर राजनीति थमने का नाम नहीं ले रहा है। इस बीच बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की अध्यक्ष मायावती ने गुरुवार को प्रवासी श्रमिकों को लेकर एक बार फिर केन्द्र व राज्य सरकारों पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि सरकारें घर वापसी को लेकर मजबूर श्रमिकों को लेकर चिंतित नहीं है। उन्होंने केंद्र और राज्य सरकारों पर प्रवासी मजदूरों को अनदेखा करने का आरोप लगाया और कहा कि इस संबंध में अदालतों का जवाब तलब करना संतोष देता है।

मायावती ने ट्वीट किया, "जिस प्रकार से लॉकडाउन से पीड़ित व घर वापसी को लेकर मजबूर प्रवासी श्रमिकों की बदहाली व रास्ते में उनकी मौत आदि के कड़वे सच मीडिया के माध्यम से देश-दुनिया के सामने है, वह पुन:स्थापित करते हैं कि केन्द्र व राज्य सरकारों को इनकी बिल्कुल भी चिन्ता नहीं है, यह अति-दु:खद है।"

PM मोदी ने की बिजली क्षेत्र की समीक्षा, उपभोक्ताओं की संतुष्टि को दी प्राथमिकता

उन्होंने एक अन्य ट्वीट में लिखा, "देश में लॉकडाउन का आज 65वां दिन है और यह थोड़ी राहत की खबर है कि माननीय न्यायलयों ने कोरोनावायरस की जांच-इलाज में सरकारी अस्पतालों की बदहाली, निजी अस्पतालों की उपेक्षा व प्रवासी मजदूरों की बढ़ती दुर्दशा व मौतों के सम्बंध में केन्द्र व राज्य सरकारों से सवाल-जवाब करना शुरू कर दिया हैं।"

इससे पहले उन्होंने लिखा था कि केन्द्र व महाराष्ट्र सरकार के बीच विवाद के कारण लाखों प्रवासी श्रमिक अभी भी बहुत बुरी तरह से पिस रहे हैं जो अति-दु:खद व दुर्भाग्यपूर्ण है। जरूरी है कि आरोप-प्रत्यारोप छोड़कर इन मजलूमों पर ध्यान दें ताकि कोरोना की चपेट में फंसकर इन लोगों की जिन्दगी पूरी तरह बर्बाद होने से बच सके।