BREAKING NEWS

फांसी से बचने के लिए निर्भया के आरोपी विनय ने चला एक और पैंतरा, चुनाव आयोग में दी अर्जी◾उपहार त्रासदी : अंसल बंधुओं को SC से मिली राहत, पीड़ितों की क्यूरेटिव पेटिशन हुई खारिज ◾बिहार में लगे राहुल गांधी के पोस्टर, लिखा-आरक्षण खत्म करने का सपना नहीं होगा सच◾आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत बोले- 'राष्ट्रवाद' शब्द में हिटलर की झलक◾निर्भया मामला : दोषी विनय ने तिहाड़ जेल में दीवार पर सिर मारकर खुद को नुकसान पहुंचाने की कोशिश की◾चीन में कोरोना वायरस का कहर जारी, मरने वालों की संख्या 2000 के पार◾मनमोहन ने की Modi सरकार की आलोचना, कहा - सरकार आर्थिक मंदी को स्वीकार नहीं कर रही है◾अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की भारत यात्रा के मद्देनजर J&K में सुरक्षा बल सतर्क◾राम मंदिर का मॉडल वही रहेगा, थोड़ा बदलाव किया जाएगा : नृत्यगोपाल दास ◾मुंबई के कई बड़े होटलों को बम से उड़ाने की धमकी, ई-मेल भेजने वाला लश्कर-ए-तैयबा का सदस्य◾‘हिंदू आतंकवाद’ की साजिश वाली बात को मारिया ने 12 साल तक क्यों नहीं किया सार्वजनिक - कांग्रेस◾सरकार को अयोध्या में मस्जिद के लिए ट्रस्ट और धन उपलब्ध कराना चाहिए - शरद पवार◾संसदीय क्षेत्र वाराणसी में फलों फूलों की प्रदर्शनी देख PM मोदी हुए अभिभूत, साझा की तस्वीरें !◾दुनिया भर में कोरोना वायरस का प्रकोप, विश्व में अब तक 75,000 से अधिक लोग वायरस से संक्रमित◾आर्मी हेडक्वार्टर को साउथ ब्लॉक से दिल्ली कैंट ले जाया जाएगा : सूत्र◾INDO-US के बीच व्यापार समझौता ‘अटका’ नहीं है : डोनाल्ड ट्रंप ने कहा - जल्दबाजी में यह नहीं किया जाना चाहिये◾कन्हैया ने BJP पर साधा निशाना , कहा - CAA से गरीबों एवं कमजोर वर्गों की नागरिकता खत्म करना चाहती है Modi सरकार◾महंत नृत्य गोपाल दास बने श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष , नृपेंद्र मिश्रा को निर्माण समिति की कमान◾पंजाब में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले सिद्धू के AAP में जाने की अटकलें , भगवंत बोले- कोई वार्ता नहीं हुई◾पंजाब में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले नवजोत सिद्धू AAP में जाने की अटकलें , भगवंत बोले- कोई वार्ता नहीं हुई◾

अश्विनी कुमार चोपड़ा - जिंदगी का सफर, अब स्मृतियां ही शेष...

दैनिक पंजाब केसरी ( Punjab Kesari ) के एडिटर इन चीफ अश्विनी कुमार ( Ashwini Kumar Chopra ) अपने मजबूत इरादों के लिए जाने जाते थे और जब-जब आर्टिकल लिखते तो हमेशा लोगों की आवाज बन जाते थे। 

अपने इस अंदाज के लिए ही वह सत्ता से लेकर विपक्ष तक हर किसी के दिल में बसे थे। पाठक तो उनके विशेष सम्पादकीय का हर सुबह बेसब्री से इंतजार करते थे।

नन्हें बालक ​‘मिन्ना’ का बचपन परम श्रद्धेय लाला जगत नारायण और पिता श्री रमेश चन्द्र जी द्वारा प्रदत्त संस्कारों में पला। लाला जी की तरह टोपी पहनकर यह चित्र ‘मिन्ना’ जी के बचपन का है।

तत्कालीन राष्ट्रपति वी.वी. गिरी जब जालंधर परम श्रद्धेय श्री लाला जगत नारायण जी से भेंट करने आए तो बालक मिन्ना एक परछाईं की तरह उनके साथ रहे और आगे चलकर सेवा को ही उन्होंने जीवन की किताब में उतारा।

अपने माता-पिता और भाई-बहनों के साथ बालक मिन्ना।

एक क्रिकेटर के रूप में अश्विनी कुमार की एक पहचान लेग स्पिनर की थी। वह गेंद को इस तरह से घुमाते थे कि अच्छे-अच्छे बल्लेबाज चकमा खा जाते थे। यह चित्र ईरानी ट्रॉफी के मैच का है।

किरण चोपड़ा के साथ विवाह के अवसर पर लाला जी अपने पोते को सेहरा बांधते हुए तथा दाएं पिता रमेश चन्द्र पुत्र को आशीर्वाद देते हुए।

पंजाब के तत्कालीन मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने वर-वधू को आशीर्वाद दिया।

अश्विनी कुमार अपनी अर्द्धांगिनी किरण चोपड़ा और उनके मम्मी-पापा के साथ।

विवाहित जीवन के दौरान श्रीनगर में श्रीमती और श्री अश्विनी कुमार।

जब दादा श्री लाला जगत नारायण जी गोलियों से छलनी कर दिए गए तो अश्विनी कुमार उनके शरीर पर लगे गोलियों के निशान देखते हुए।

एक और ट्रेजडी का अश्विनी कुमार को सामना करना पड़ा जब उनके पिताश्री रमेश चन्द्र जी की जालंधर में उनकी कार में निर्मम हत्या कर दी गई

राजनीतिक सफर 


एक संपादक के पद पर रहते हुए अश्विनी कुमार जब सांसद बने तो पीएम नरेन्द्र मोदी ने उन्हें खुद बधाई दी। श्रीमती किरण चोपड़ा उनके साथ हैं।

राष्ट्रपति भवन में हुए एक समारोह के दौरान तत्कालीन राष्ट्रपति ज्ञानी जैल सिंह अश्विनी कुमार को सम्मानित करते हुए।

राष्ट्रपति भवन में अमरीका के पावरफुल राष्ट्रपति रहे बराक ओबामा के साथ भेंट करते हुए अश्विनी कुमार।

पीएम पद पर रहते हुए वाजपेयी अश्विनी कुमार को अक्सर गहन मंथन के लिए बुलाते थे।

वित्तमंत्री रहे स्व. अ​रुण जेटली और कांग्रेस की महासचिव ​प्रियंका गांधी के साथ एक समारोह में अश्विनी कुमार। 

जब उनके यहां आकाश और अर्जुन के रूप में जुड़वां बच्चे हुए तो पारिवारिक दायित्व निभाने में अश्विनी कुमार अपनी धर्मपत्नी किरण चोपड़ा व ज्येष्ठ पुत्र आदित्य चोपड़ा के साथ।

करनाल में चुनाव प्रचार के दौरान एक रैली के मंच पर अश्विनी कुमार से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी गुफ्तगू करते हुए। 

किरण चोपड़ा द्वारा लिखित बेटियां पुस्तक के विमोचन पर पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी और साथ में है संपादक अश्विनी कुमार।

एक समारोह में पंजाब के सीएम कैप्टन अमरेन्दर और राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत के साथ अश्विनी कुमार

वयोवृद्ध पत्रकार सरदार खुशवंत सिंह ने अश्विनी कुमार के जन्मदिन पर केक काटकर उन्हंे बधाई दी साथ में किरण चोपड़ा।

भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा जब दिसम्बर में अश्विनी कुमार का हालचाल पूछने उनके घर आए तो वह खुशी से फूले न समाए।

जेआर मीडिया इंस्टीट्यूट के पांचवें सेशन के शुभारंभ पर वयोवृद्ध श्री कुलदीप नैयर का स्वागत करते हुए अश्विनी कुमार, श्रीमती किरण चोपड़ा और उनके सपुत्र आदित्य नारायण चोपड़ा। 

एक समारोह में केन्द्रीय मंत्री नितिन गड़करी के साथ संपादक अश्विनी कुमार 

एक समारोह में जम्मू-कश्मीर के सीएम रहे फारुक अब्दुल्ला के साथ अश्विनी कुमार।

नई दिल्ली में पंजाब केसरी कार्यालय परिसर में अश्विनी कुमार के पार्थिव शरीर पर पुष्पांजलि के बाद कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा श्रीमती किरण चोपड़ा को गले लगाकर ढांढस बंधाती हुईं। 

साथ में हैं दैनिक पंजाब केसरी दिल्ली के निदेशक आदित्य नारायण चोपड़ा और उनकी धर्म पत्नी श्रीमती सोनम चोपड़ा, आकाश चोपड़ा और अर्जुन चोपड़ा।