BREAKING NEWS

अनिल मेनन बनेंगे नासा एस्ट्रोनॉट, बन सकते हैं चांद पर पहुंचने वाले पहले भारतीय◾PM मोदी ने SP पर साधा निशाना , कहा - लाल टोपी वाले लोग खतरे की घंटी,आतंकवादियों को जेल से छुड़ाने के लिए चाहते हैं सत्ता◾ किसान आंदोलन को खत्म करने के लिए राकेश टिकैत ने कही ये बात◾DRDO ने जमीन से हवा में मार करने वाली VL-SRSAM मिसाइल का किया सफल परीक्षण◾बिना कांग्रेस के विपक्ष का कोई भी फ्रंट बनना संभव नहीं, संजय राउत राहुल गांधी से मुलाकात के बाद बोले◾केंद्र की गलत नीतियों के कारण देश में महंगाई बढ़ रही, NDA सरकार के पतन की शुरूआत होगी जयपुर की रैली: गहलोत◾अमरिंदर ने कांग्रेस पर साधा निशाना, अजय माकन को स्क्रीनिंग कमेटी का अध्यक्ष नियुक्त करने पर उठाए सवाल◾SKM की बैठक खत्म, क्या समाप्त होगा आंदोलन या रहेगा जारी? कल फाइनल मीटिंग◾महाराष्ट्र: आदित्य ठाकरे ने 'ओमिक्रॉन' से बचने के लिए तीन सुझाव सरकार को बताए, केंद्र को भेजा पत्र◾गांधी का भारत अब गोडसे के भारत में बदल रहा है..महबूबा ने केंद्र सरकार को फिर किया कटघरे में खड़ा, पूर्व PM के लिए कही ये बात◾UP चुनाव: सपा-रालोद आई एक साथ, क्या राज्य में बनेगी डबल इंजन की सरकार, रैली में उमड़ा जनसैलाब ◾बेंगलुरु का डॉक्टर रिकवरी के बाद फिर हुआ कोरोना पॉजिटिव, देश में ओमीक्रॉन के 23 मामलों की हुई पुष्टि ◾समाजवादी पार्टी पर PM मोदी का हमला, बोले-'लाल टोपी' वालों को सिर्फ 'लाल बत्ती' से मतलब◾पीेएम मोदी ने पूर्वांचल को दी 10 हजार करोड़ रुपये की परियोजनाओं की सौगात, सपा के लिए कही ये बात◾सदन में पैदा हो रही अड़चनों के लिए सरकार जिम्मेदार : मल्लिकार्जुन खड़गे◾UP चुनाव में BJP कस रही धर्म का फंदा? आनन्द शुक्ल बोले- 'सफेद भवन' को हिंदुओं के हवाले कर दें मुसलमान... ◾नगालैंड गोलीबारी केस में सेना ने नगारिकों की नहीं की पहचान, शवों को ‘छिपाने’ का किया प्रयास ◾विवाद के बाद गेरुआ से फिर सफेद हो रही वाराणसी की मस्जिद, मुस्लिम समुदाय ने लगाए थे तानाशाही के आरोप ◾लोकसभा में बोले राहुल-मेरे पास मृतक किसानों की लिस्ट......, मुआवजा दे सरकार◾प्रधानमंत्री मोदी ने सांसदों को दी कड़ी नसीहत-बच्चों को बार-बार टोका जाए तो उन्हें भी अच्छा नहीं लगता ...◾

पूरे उत्तर भारत में पारा लुढ़का, दिल्ली में न्यूनतम तापमान 3.9 डिग्री सेल्सियस रहा

पूरे उत्तर भारत में जारी शीत लहर के चलते शनिवार को भी अधिकतर भागों में ठंड का प्रकोप बरकरार रहा। इस बीच, राष्ट्रीय राजधानी में शनिवार को न्यूनतम तापमान गिरकर 3.9 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया। इसी तरह, श्रीनगर में भी इस मौसम का सबसे न्यूनतम तापमान दर्ज किया गया। वहीं, हिमाचल प्रदेश के केलांग में तापमान शून्य से नीचे 12.1 डिग्री सेल्सियस पर चला गया। पंजाब और हरियाणा में भी शीतलहर तेज हुई और आदमपुर में पारा शून्य से 1.9 डिग्री सेल्सियस नीचे तक लुढ़क गया जोकि दोनों राज्यों में सबसे कम दर्ज किया गया। 

उधर, राजस्थान के ज्यादातर इलाकों में भी कड़ाके की सर्दी पड़ रही है और माउंट आबू में न्यूनतम तापमान शून्य से 1.4 डिग्री सेल्सियस कम व चुरू में शून्य से 0.1 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया। इसी तरह, उत्तर प्रदेश के सुदूर क्षेत्रों में भी कड़ाके की सर्दी का सितम जारी रहा। मौसम विज्ञान विभाग ने शनिवार को बताया कि जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, गिलगित-बल्तिस्तान, मुजफ्फराबाद, उत्तराखंड, पश्चिमी उत्तर प्रदेश के अलावा मध्य प्रदेश में भी शीत लहर का प्रकोप जारी है। 

इसके मुताबिक, पंजाब, पूर्वी उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पश्चिम बंगाल के हिमालयी क्षेत्र, मेघालय और त्रिपुरा में कई स्थानों पर घना कोहरा छाया रहा। इससे पहले आईएमडी ने कहा कि उत्तर भारत में अगले सप्ताह भी रात का तापमान सामान्य से कम बना रहेगा। उन्होंने 17-24 दिसंबर और 24-30 दिसंबर के पूर्वानुमान को लेकर कहा कि उत्तर-पश्चिम, मध्य एवं पूर्वी भारत के अधिकतर भागों में न्यूनतम तापमान सामान्य से 2-6 डिग्री सेल्सियस नीचे रह सकता है। आईएमडी की ओर से बताया गया कि बर्फ से ढंके पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र से चलने वाली बर्फीली हवाओं के कारण राष्ट्रीय राजधानी में शीत लहर का प्रकोप जारी है। 

राष्ट्रीय राजधानी में शनिवार को न्यूनतम तापमान गिरकर 3.9 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया। आईएमडी के एक अधिकारी ने कहा, “सफदरजंग वेधशाला में तापमान सामान्य से चार डिग्री नीचे 3.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। अधिकतम तापमान 21.8 डिग्री सेल्सियस रहा।” शहर में बृहस्पतिवार को “बेहद” ठंडा दिन दर्ज किया था क्योंकि अधिकतम तापमान गिरकर 15.2 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया था, जो कि सामान्य से सात डिग्री कम था और इस मौसम का सबसे कम तापमान था। 

वहीं, श्रीनगर में शनिवार की रात इस मौसम की सबसे सर्द रात रही और शहर में पारा लगातार शून्य से नीचे दर्ज किया जा रहा है। घाटी में सोमवार से ‘चिल्लई-कलां’ शुरू हो रहा है। यह 40 दिन की अवधि होती है और इस दौरान तापमान में अधिकतम गिरावट आती है और बर्फ गिरने की संभावना काफी होती है। अधिकारियों ने बताया कि दक्षिणी कश्मीर के पहलगाम में पारा शून्य से 9.5 डिग्री सेल्सियस नीचे जबकिगुलमर्ग में न्यूनतम तापमान शून्य से 9.2 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया। अधिकारियों ने बताया कि काजीगुंड में न्यूनतम तापमान शून्य से 5.9 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया। वहीं कुपवाड़ा में न्यूनतम तापमान शून्य से छह डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया। 

मौसम विभाग ने कहा कि इस महीने के अंत तक बड़ी बर्फबारी का पूर्वानुमान नहीं है। हालांकि सोमवार और मंगलवार को कश्मीर के दूरदराज इलाकों में हल्की से मध्यम बर्फबारी हो सकती है। इस बीच, हिमाचल प्रदेश के केलांग, कल्पा, मनाली, सोलन, चंबा और मंडी में बीते 24 घंटे के दौरान तापमान शून्य से नीचे चला गया है। शिमला मौसम केन्द्र के निदेशक मनमोहन सिंह ने कहा कि जनजातीय बहुल लाहौल-स्पीति जिले का प्रशासनिक केन्द्र केलांग शून्य से 12. 1 डिग्री सेल्सियस कम तापमान के साथ सबसे ठंडा इलाका बना हुआ है। उन्होंने कहा कि किन्नौर के कल्पा में न्यूनतम तापमान शून्य से 3 डिग्री सेल्सियस नीचे पहुंच गया है। वहीं मनाली में न्यूनतम तापमान शून्य से एक डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया है। 

सिंह ने बताया कि सोलन में शून्य से 1.3 डिग्री सेल्सियस कम, मंडी में शून्य से 1.1 डिग्री सेल्सियस कम और चंबा में शून्य से 0.4 डिग्री सेल्सियस नीचे तापमान दर्ज किया गया है। शिमला में न्यूनतम तापमान 4.4 डिग्री सेल्सियस रहा। वहीं, पंजाब और हरियाणा भी शनिवार को शीतलहर की चपेट में रहे और आदमपुर क्षेत्र में पारा शून्य से 1.9 डिग्री सेल्सियस नीचे तक लुढ़क गया। राज्यों की साझा राजधानी चंडीगढ़ में न्यूनतम तापमान 4.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो सामान्य से दो डिग्री सेल्सियस कम है। 

विभाग के अनुसार पंजाब में शून्य से 1.9 डिग्री सेल्सियस नीचे तापमान के साथ आदमपुर सबसे ठंडा स्थान रहा। वहीं अमृतसर का न्यूनतम तापमान 0.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। फरीदकोट, पठानकोट, बठिंडा, लुधियाना, पटियाला और गुरदासपुर का न्यूनतम तापमान क्रमश: 1.0, 2.2, 2.6, 2.8, 4 और 4.1 डिग्री सेल्सियस रहा। पड़ोसी राज्य हरियाणा में अंबाला का न्यूनतम तापमान 4.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जबकि हिसार और करनाल का न्यूनतम तापमान क्रमश: 2.8 और 2.3 डिग्री सेल्सियस रहा। नारनौल, रोहतक, भिवानी और सिरसा में न्यूनतम तापमान क्रमश: 2.2, 3.8, 3.9 और 4.9 डिग्री सेल्सियस रहा। 

राजस्थान के कई हिस्सों में भी लोग शनिवार को ठंड से ठिठुरते रहे। माउंट आबू में शुक्रवार रात न्यूनतम तापमान शून्य से 1.4 डिग्री सेल्सियस कम व चुरू में शून्य से 0.1 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया। मौसम विभाग ने अभी कई दिन राज्य में शीतलहर जारी रहने का अनुमान व्यक्त किया है। विभाग ने बताया कि मैदानी इलाकों में चुरू में यह शून्य से 0.1 डिग्री सेल्सियस नीचे रहा। इसके अलावा भीलवाड़ा में यह 1.6 डिग्री सेल्सियस, चित्तौड़गढ़ में 2.5 डिग्री सेल्सियस, पिलानी में 3.0 डिग्री सेल्सियस, सीकर में 3.5 डिग्री सेल्सियस, वनस्थली में 4.2 डिग्री सेल्सियस, गंगानगर में 4.5 डिग्री सेल्सियस व कोटा में 4.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। 

राज्य में कई जगह दिन का अधिकतम तापमान भी 20 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहा। राजधानी जयपुर में रात का न्यूनतम तापमान 6.6 डिग्री सेल्सियस रहा हालांकि शनिवार सुबह से राजधानी में अच्छी धूप खिली रही। मौसम विभाग ने राज्य के कई हिस्सों में शीतलहर की चेतावनी जारी की है। विभाग के अनुसार राज्य के गंगानगर, हनुमानगढ़, बीकानेर, चुरू, जैसलमेर, सीकर व झुंझुनू जिले में आगामी चौबीस घंटे में शीतलहर चलने की संभावना है। उधर, उत्तर प्रदेश में पिछले 24 घंटो में मौसम सामान्यत: खुश्क रहा। वहीं, लखनऊ,प्रयागराज और कानपुर जैसे शहरों में सर्दी का सितम जारी है। 

मौसम विभाग द्वारा शनिवार को जारी एक बयान के मुताबिक, राजधानी लखनऊ में न्यूनतम तापमान 4.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जबकि प्रयागराज और कानपुर का न्यूनतम तापमान 5.6 डिग्री सेल्सियस रहा। प्रदेश में सबसे कम तापमान फुरसतगंज (रायबरेली) और चुर्क (सोनभद्र) में दर्ज किया गया। दोनों स्थानों पर पारा 2.6 डिग्री सेल्सियस तक लुढ़क गया। मध्य प्रदेश के रीवा, शहडोल, सागर, जबलपुर, ग्वालियर और चंबल संभागों में पिछले 24 घंटे से शीत लहर चल रही है। इनमें से कई स्थानों पर रविवार सुबह तक सर्द मौसम बना रहने का पूर्वानुमान व्यक्त किया गया है। आईएमडी के भोपाल कार्यालय के वरिष्ठ मौसम विज्ञानी जीडी मिश्रा ने शनिवार को बताया कि ग्वालियर, चंबल और शहडोल के साथ ही रीवा, सतना, सागर और छतरपुर में कुछ स्थानों पर रविवार सुबह तक शीत लहर चलेगी। 

उन्होंने कहा, ‘‘ मध्य प्रदेश के 30 में से नौ मौसम केंद्रों में शनिवार सुबह साढ़े आठ बजे तक समाप्त 24 घंटे की अवधि में तीन डिग्री सेल्सियस (उमरिया में) से पांच डिग्री सेल्सियस के बीच तापमान दर्ज किया गया। कई केंद्रों पर न्यूनतम तापमान तीन से लेकर 10 डिग्री सेल्सियस तक दर्ज किया गया। भोपाल का न्यूनतम तापमान 6.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।’’