BREAKING NEWS

CM केजरीवाल ने ममता बनर्जी से की मुलाकात, राजनीतिक मुद्दों पर की चर्चा◾अमरनाथ गुफा के पास फटा बादल, शाह ने उपराज्यपाल मनोज सिन्हा से की बात◾बैंक डूबे या बंद हो, 90 दिन में ग्राहकों को मिल जाएगी 5 लाख तक की बीमा की रकम : सरकार◾सुप्रीम कोर्ट की हिदायत ने मानते हुए बकरीद के मौके पर छूट देने से केरल में एकदम बढ़ा कोरोना - भाजपा ◾इमरान खान ने खुद बताया की उन्हें 'तालिबान खान' क्यों कहा जाता है, खुद ही खोल दी अपनी पोल ◾जेपी नड्डा का विरोधियों पर निशाना - केवल प्रेस कांफ्रेंस या ट्विटर पर ही नजर आते हैं विपक्षी नेता ◾सुप्रीम कोर्ट के आदेश और नियमों को ताक पर रखकर राकेश अस्थाना को बनाया गया दिल्ली का पुलिस कमिश्नर : कांग्रेस◾सोनिया गांधी से मिलीं ममता बनर्जी, कहा - बिल्ली के गले में घंटी बांधने के लिए चाहिए सबका साथ ◾पोर्नोग्राफी केस में राज कुंद्रा को बड़ा झटका, कोर्ट ने खारिज की जमानत याचिका◾अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन बोले- सभी को अपनी सरकार में राय देने का और सम्मान पाने का हक◾ममता का केंद्र पर तीखा वार- इमरजेंसी से भी गंभीर हालात, अब पूरे देश में 'खेला होबे'◾राहुल का अर्थ ही है गैर जिम्मेदार, अगर उनके फोन में डाला गया पेगासस हथियार तो क्यों बैठे रहे चुप : BJP◾विदेश मंत्री एस जयशंकर और ब्लिंकन ने मुलाकात कर कई मुद्दों पर की चर्चा, चीन की बढ़ी टेंशन ◾पेगसास केस पर विपक्ष हमलावर, राउत बोले- यह राष्ट्रीय सुरक्षा का मामला, सरकार ने किया विश्वासघात ◾लोकसभा में कांग्रेस सांसदों ने फाड़े पर्चे, अनुराग ठाकुर बोले- सदन की इज्जत को तार-तार क्यों कर रहा है विपक्ष ◾नीतीश ने बाराबंकी हादसे पर जताया दुख, मृतकों के परिजनों को 2-2 लाख रुपये मुआवजे का किया ऐलान ◾एंटनी ब्लिंकन ने अजित डोभाल के साथ की बातचीत, दोनों देशों के द्विपक्षीय और क्षेत्रीय मुद्दों पर हुई चर्चा ◾किश्तवाड़ में बादल फटने की घटना पर बोले मोदी- स्थिति पर केंद्र की कड़ी निगरानी, शाह ने राज्यपाल, DGP से की बात ◾पेगासस केस को लेकर विपक्ष के तेवर तीखे, कांग्रेस समेत 14 दलों ने सरकार को घेरने की रणनीति पर की चर्चा◾BJP के वरिष्ठ नेता बसवराज बोम्मई बने कर्नाटक के नए CM, मुख्यमंत्री पद की ली शपथ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

AMC-SSC के सेवानिवृत्त 400 चिकित्सा अधिकारी होंगे भर्ती, रक्षा मंत्रालय ने जारी किए आदेश

देश में कोरोना की दूसरी लहर के बीच स्वास्थ्य कर्मियों की कमी के चलते सरकार ने सशस्त्र बल चिकित्सा सेवा (एएफएमएस) को सैन्य मेडिकल कोर (एएमसी) और शॉर्ट सर्विस कमीशन (एसएससी) के 400 सेवानिवृत्त चिकित्सा अधिकारियों की भर्ती करने का आदेश जारी किया है।

रक्षा मंत्रालय के बयान में कहा गया है, ‘‘टूर ऑफ ड्यूटी योजना के तहत, 400 पूर्व-एएमसी या एसएससी चिकित्सा अधिकारियों को अधिकतम 11 महीनों के लिए अनुबंध के आधार पर भर्ती किए जाने की उम्मीद है, जिनकी सेवाएं 2017 और 2021 के बीच समाप्त हुई थीं।’’

इसमें कहा गया है कि इन चिकित्सा अधिकारियों को एक निश्चित एकमुश्त मासिक राशि का भुगतान किया जाएगा, जिसकी गणना सेवानिवृत्ति के समय लिये गए वेतन से मूल पेंशन में कटौती करके की जाएगी। उसने कहा कि अगर विशेषज्ञों के लिए कोई अतिरिक्त भुगतान है तो वह इस एकमुश्त राशि के ऊपर से किया जाएगा।

इसमें उल्लेख किया गया है कि अनुबंध की अवधि के दौरान राशि अपरिवर्तित रहेगी और किसी अन्य भत्ते का भुगतान नहीं किया जाएगा। भर्ती किए जाने वाले चिकित्सा अधिकारियों को असैन्य मानकों के अनुसार चिकित्सकीय रूप से फिट होना आवश्यक है।

एएफएमएस ने पहले ही कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर से निपटने के लिए विभिन्न अस्पतालों में विशेषज्ञों, सुपर विशेषज्ञों और पैरामेडिकल कर्मियों सहित अतिरिक्त डॉक्टरों को तैनात किया है। एएफएमएस के एसएससी डॉक्टरों को 31 दिसंबर तक के लिए सेवा विस्तार दिया गया है, जिससे 238 और डॉक्टरों की बढ़ोतरी हुई है।