BREAKING NEWS

कम्युनिस्ट विचारधारा में कन्हैया की नहीं थी कोई आस्था, पार्टी के प्रति नहीं थे ईमानदार : CPI महासचिव◾ पंजाब में लगी इस्तीफों की झड़ी, योगिंदर ढींगरा ने भी महासचिव पद छोड़ा◾कोलकाता ने दिल्ली कैपिटल्स को 3 विकेट से हराया, KKR की प्ले ऑफ में पहुंचने की उम्मीदें जिंदा◾कोरोना सार्वजनिक स्वास्थ्य चुनौती, केंद्र ने कोविड-19 नियंत्रण संबंधित दिशा-निर्देशों को 31 अक्टूबर तक बढ़ाया◾ क्या BJP में शामिल होंगे कैप्टन ? दिल्ली आने की बताई यह खास वजह ◾UP चुनाव में एक साथ लड़ेंगे BJP-JDU! गठबंधन बनाने के लिए आरसीपी सिंह को मिली जिम्मेदारी◾कांग्रेस में शामिल हुए कन्हैया कुमार, कहा- आज देश को बचाना जरूरी, सत्ता के लिए परंपरा भूली BJP ◾सिद्धू के इस्तीफे से कांग्रेस में हड़कंप, कई नेता बोले- पार्टी की राजनीति के लिए घातक है फैसला ◾नवजोत सिंह सिद्धू के इस्तीफे पर बोले CM चन्नी-मुझे इसकी कोई जानकारी नहीं◾अमेरिका ने फिर की इमरान खान की बेइज्जती, मिन्नतों के बाद भी बाइडन नहीं दे रहे मिलने का मौका ◾उरी में भारतीय सेना को मिली बड़ी कामयाबी, पकड़ा गया पाकिस्तान का 19 साल का जिंदा आतंकी ◾पंजाब कांग्रेस में फिर घमासान : सिद्धू ने अध्यक्ष पद से दिया इस्तीफा, BJP ने ली चुटकी ◾पंजाब: CM चन्नी ने किया विभागों का वितरण, जानें किसे मिला कौनसा मंत्रालय◾पंजाब के पूर्व CM अमरिंदर सिंह आज पहुंच रहे हैं दिल्ली, अमित शाह और नड्डा से करेंगे मुलाकात◾योगी के नए मंत्रिमंडल में 67% मंत्री सवर्ण और पिछड़े समाज से सिर्फ़ 29% : ओवैसी◾क्या कांग्रेस में यूथ लीडरों की एंट्री होगी मास्टरस्ट्रोक, पार्टी मुख्यालय पर लगे कन्हैया और जिग्नेश के पोस्टर◾कन्हैया के पार्टी जॉइनिंग पर मनीष तिवारी का कटाक्ष- अब शायद फिर से पलटे जाएं ‘कम्युनिस्ट्स इन कांग्रेस’ के पन्ने ◾PM मोदी ने विशेष लक्षणों वाली फसलों की 35 किस्मों का किया लोकार्पण , कुपोषण पर होगा प्रहार ◾जम्मू-कश्मीर : उरी सेक्टर में पकड़ा गया पाकिस्तानी घुसपैठिया, एक आतंकवादी ढेर ◾बिहार: केंद्र से झल्लाई JDU, कहा - हमलोग थक चुके हैं, अब नहीं करेंगे विशेष राज्य का दर्जा देंगे की मांग◾

मोदी सरकार के 50 दिन के फैसले 50 सालों से बेहतर : जेपी नड्डा

भारतीय जनता पार्टी के कार्यकारी उपाध्यक्ष जेपी नड्डा ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन कर मोदी सरकार 2 के पिछले 50 दिनमें लिए गए फैसलों की जानकारी दी। इस दौरान उन्होंने कहा कि मोदी सरकार के 50 दिन के फैसले 50 सालों से बेहतर रहे हैं। इतनी अल्प अवधि में जो फैसले लिए वो अभूतपूर्व हैं और पिछली सरकारों से बिल्कुल अलग हैं। 

उन्होंने कहा कि बुनियादी ढांचे में परिवर्तन करते हुए जो फैसले लिए गए हैं उनपर ध्यान देने की जरूरत है। नड्डा ने कहा कि गांव, गरीब, किसान, वंचित तबकों को मुख्यधारा में शामिल करते हुए देश को कैसे आगे ले जाया जा सकता है इसपर मोदी सरकार को मुख्य फोकस है।

मायावती ने की आजम के बयान की निंदा, कहा-सभी महिलाओं से मांगें माफी

 उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस में सरकार की तरफ से पूर्व में की गई कई घोषणाओं का उल्लेख किया और बताया कि वे किस तरह से देश की तरक्की में अहम भूमिका निभाएंगे। उन्होंने मोदी सरकार की उपलब्धियों का जिक्र करते हुए आगे कहा कि छोटे दुकानदार जिनका सालाना टर्नओवर 1.5 करोड़ होगा। उन्हें प्रधानमंत्री मानधन योजना से जोड़ा जाएगा। इस फैसले से करीब 3 करोड़ छोटे कारोबारियों को लाभ मिलने वाला है। 

जेपी नड्डा ने कहा, एक परंपरा है कि रिपोर्ट कार्ड 100 दिनों के बाद जारी किया जाता है, लेकिन मोदी जी ने देश के सामने 50 दिन का रिपोर्ट कार्ड देने का फैसला किया है। महत्वपूर्ण निर्णय यह है कि 2022 तक 1.95 करोड़ घर बनाए जाएंगे। शुद्ध पेयजल सुविधा के साथ। 

नड्डा ने कहा कि सबसे महत्वपूर्ण फैसला सबको घर, सबको गैस देने का फ़ैसला है। हम 2024 तक सभी ग्रामीण क्षेत्रों के घरों को नल का साफ जल देंगे। यह बहुत क्रांतिकारी निर्णय मोदी सरकार ने लिया है। उन्होंने कहा कि 'प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना’ के तहत 1.25 लाख किलोमीटर सड़क बनाने का फ़ैसला लिया गया है। 

हम गांवों को मज़बूत करने का प्रयास कर रहे हैं। कार्यकारी अध्यक्ष ने कहा कि वित्तीय धोखाधड़ी से लोगों को बचाने का प्रावधान किया गया है। हमने श्रमिक सुधार के क्षेत्र में पहल की है जिससे करोड़ों कामगारों को लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा कि किसानों के लिए 14 सूत्रीय कार्यक्रम बनाया है। 

नड्डा ने कहा कि छोटे दुकानदार जिनका सालाना टर्नओवर 1.5 करोड़ रुपये का होगा, उन्हें प्रधानमंत्री मानधन योजना से जोड़ा जाएगा। इस फैसले से करीब 3 करोड़ छोटे कारोबारियों को लाभ मिलने वाला है। उन्होंने कहा कि पांच साल में देश की अर्थव्यवस्था 5000 अरब डॉलर तक पहुंचाने का जो लक्ष्य रखा गया है उसमें एक लाख करोड़ का निवेश आधारभूत ढांचा क्षेत्र में किया जाएगा।

उन्होंने लोकसभा और राज्यसभा में कामकाज की उत्पादकता में वृद्धि होने का भी जिक्र किया और कहा कि यह राजनीतिक इच्छाशक्ति के कारण ही संभव हो रहा है। नड्डा ने कहा कि हम 50 दिनों में यह महसूस कर सकते हैं कि यह सरकार काम कर रही है । हम अपने किए सारे वादे पूरे करेंगे। नड्डा ने कहा कि 100 दिनों के कामकाज का ब्योरा देने की प्रथा है पर हम पहली बार 50 दिनों का ब्योरा दे रहे हैं। 

उमर अब्दुल्ला के बयान पर बोलते हुए उन्होंने कहा,  "अगर चुनाव का बहिष्कार होता है, तो बीजेपी त्राल जीत सकती है"। इन दलों का रुख देश के बजाय उनकी राजनीति से ज्यादा चिंतित है, यह समय-समय पर बदलता रहता है। यह वही पार्टी है जिसने कहा था कि वे पंचायत चुनावों का बहिष्कार करेंगे और फिर भाग लेंगे।