BREAKING NEWS

J&K : सुरक्षाबलों ने आतंकवादी मॉड्यूल का किया भंडाफोड़, एक महिला सहित 3 गिरफ्तार, IED बरामद ◾ नवनीत राणा और रवि राणा का आज नागपुर में हनुमान चालीसा पाठ, क्या राज्य में फिर हो सकता है बवाल◾एलन मस्क ने दिया बयान- भारत में मिले बिक्री की मंजूरी, फिर टेस्ला का संयत्र लगाने का लेंगे फैसला◾ कथावाचक देवकी नंदन ने प्लेसेस ऑफ वर्शिप एक्ट के खिलाफ SC में दायर की याचिका, अब तक कुल 7 अर्जी दाखिल◾ WEATHER UPDATE: दिल्ली समेत देश के इन इलाकों में बारिश के आसार, यहां जानें मौसम का मिजाज◾ जमीयत की बैठक में भावुक हुए मुस्लिम धर्मगुरू मदनी, बोले- जुल्म सह लेंगे लेकिन वतन पर आंच नहीं आने देंगे...◾श्रीलंका में 50वें दिन भी जारी है प्रदर्शन, राष्ट्रपति के इस्तीफे की मांग को लेकर सड़कों पर बैठे हैं लोग ◾ऐसा काम नहीं किया जिससे लोगों का सिर शर्म से झुक जाए, देश सेवा में नहीं छोड़ी कोई कसर : PM मोदी ◾म्यांमार की मौजूदा स्थिति को लेकर हुई बैठक, रूस और चीन ने जारी नहीं होने दिया UN का बयान ◾BSF ने पाकिस्तानी तस्करों की साजिश को किया नाकाम, ड्रोन पर की गोलीबारी, भागने पर हुआ मजबूर ◾पंजाब : CM मान ने वापस ली 424 वीआईपी लोगों की सुरक्षा, जानिए क्यों लिया यह फैसला ◾कर्नाटक : शिक्षा मंत्री बी.सी. नागेश ने हिजाब विवाद पर दिया बयान, केवल यूनिफॉर्म की है अनुमति◾उत्तराखंड : CM धामी के लिए आज चुनाव प्रचार करेंगे मुख्यमंत्री योगी, टनकपुर में जनता से मांगेगे वोट ◾India Covid Update : पिछले 24 घंटे में आए 2,685 नए केस, 33 मरीजों की हुई मौत◾राजस्थान : CM गहलोत से मुलाकात के बाद बदले चांदना के सुर, BJP को दी यह नसीहत ◾PM मोदी ने वीर सावरकर की जयंती पर वीडियो शेयर कर दी श्रद्धांजलि, गृह मंत्री शाह ने किया नमन ◾World Corona : 52.83 करोड़ के पार पहुंचे मामले, अब तक 11.38 अरब लोगों का हुआ टीकाकरण ◾आज का राशिफल ( 28 मई 2022)◾आर्यन खान ड्रग्स मामला : NCB ने क्रूज मामले की बेहद ढीली जांच की - SIT◾RR vs RCB ( IPL 2022) : बटलर के चौथे शतक से राजस्थान रॉयल्स फाइनल में , 29 मई को गुजरात से होगा मुकाबला ◾

मोदी जी का सपना लोकल फॉर वोकल और मेक इन इंडिया से ही देश मजबूत होगा : किरण चोपड़ा

ग्वालियर (मनीष शर्मा) स्वदेशी केवल वस्तुओं तक सीमित नहीं है इससे हर घर परिवार में एक बीज मंत्र के रूप में काम लेना होगा । इसी से हम अपने परिवार समाज एवं राष्ट्र को आर्थिक बल प्रदान कर सकते हैं ।स्वदेशी देश की ज़रूरत एवं आत्मा है। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जो सपना है लोकल फॉर वोकल और मेक इन इंडिया यह भारत के लिए वरदान साबित हो सकता है। नरेंद्र मोदी देश को स्वदेशी के जरिए मजबूत बना रहे हैं। उक्त उद्गार राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अनुषांगिक संगठन स्वदेशी जागरण मंच की 15वीं राष्ट्रीय सभा के उद्घाटन सत्र का भव्य शुभारंभ करते हुए कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि राष्ट्रीय दैनिक पंजाब केसरी के निदेशक एवं वरिष्ठ समाजसेवी का श्रीमती किरण चोपड़ा ने व्यक्त किए।

उन्होंने चीन का उदाहरण देते हुए कहा कि जिस प्रकार चीन ने अपने देश के उद्योग धंधों को पनपा  कर पूरे विश्व में अग्रणी रूप धारण किया । वैसे ही हमारे यहाँ भी सभी जनमानस को स्वदेशी की ओर लौटना ही होगा। उससे ही हम हमारे एम एस एम ई सेक्टर को बचाकर, रोज़गार एवं आर्थिक उन्नति की ओर ले जा सकते हैं ।भारत को पुनः सोने की चिड़िया बनाना है तो छोटे-छोटे उद्योग एवं व्यापार को घर-घर स्थापित करना पड़ेगा। एमएसएमई उद्योगों पर ध्यान केंद्रित करके हम विश्व में अपनी पहचान बना सकते हैं। श्रीमती चोपड़ा ने कहा कि माइक्रो इंडस्ट्रीज को घर-घर तक पहुंचाना होगा क्योंकि कोरोना ने हमें बहुत सारे चैलेंज दिए हैं, जान का तो नुकसान हो ही रहा है बेरोजगारी बढ़ी है। इस इस समस्या को खत्म करने का मूल मंत्र सिर्फ स्वदेशी है यदि घर घर व्यापार शुरू हो जाए तो हमारी अर्थव्यवस्था मजबूत होगी। उन्होंने कहा कि जिस तरह चीन हमको आंख दिखाता है हमको भी उसको आंख दिखाना है उसे मारना नहीं है उसको कमजोर करना है तो उसकी अर्थव्यवस्था को पटरी से उतारना होगा। जो सामान वह सस्ता करके हमारे देश में भेजता था वैसे ही हमें सामान बनाकर पूरी दुनिया में भेजना है। अपने देश को पहले हमें आत्मनिर्भर बनाना है फिर दूसरे देशों को हम पर डिपेंड करना है यही हमारे स्वदेशी का मूल मंत्र है।

श्रीमती किरण चोपड़ा ने कहा कि स्वदेशी जागरण मंच को इस बात का ध्यान रखना होगी जो हमारी प्रतिभाएं हैं वह पढ़ लिख कर देश के बाहर जाती है उन्हें अपने देश के प्रति जागरूक कर भारत में ही व्यापार करने के लिए प्रेरित करना होगा तथा संसाधन उपलब्ध कराने होंगे। विश्व के कई देशों में डॉक्टर साइंटिस्ट यहां तक कि नासा तक में हमारे लोग कार्य कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि जैसे कोरोनावायरस ने  हमें देसी बातों पर ध्यान देना सिखाया है वैसे ही आयुर्वेद से जुड़ी तथा देसी चीजों को बढ़ावा देना पड़ेगा तथा उन्हें व्यापार के रूप में आगे बढ़ाकर उन्हें संसाधन उपलब्ध कराने होंगे। श्रीमती चोपड़ा ने कहा कि एमएसएमई में प्रोडक्ट की क्वालिटी और उच्च गुणवत्ता वाली पैकिंग पर भी ध्यान देना होगा। उन्होंने मशहूर फैशन डिजाइनर रितु बेरी का उदाहरण देते हुए कहा कि खादी के पोशाक डिजाइन करके उन्होंने एक विशिष्ट पहचान बनाई है।

श्रीमती चोपड़ा ने कहा कि मेरे दादा ससुर एवं पिता ससुर तथा मेरे पति श्री अश्विनी कुमार ने देश के नाम अपना पूरा जीवन समर्पित कर दिया। पूरे परिवार को बहुत प्रताड़ना दी गई, हमारे समाचार पत्र की बिजली काट दी गई लेकिन हमने स्वदेशी ट्रैक्टर से अखबार निकालकर स्वदेशी को जिंदा रखा। श्रीमती चोपड़ा ने कहा कि स्वदेशी जागरण मंच का उद्देश्य स्वदेशी एक नारा नहीं है, एक देश की जरूरत है। एक तंत्र है इसी जीवन का एक मंत्र है सुखी जीवन का, एक यंत्र क्रांति के जीवन का, एक समाधान है बेरोजगारी का, एक आधारित समाज सेवा का, एक उत्थान है समाज और राष्ट्र का।एल एन आई पी ई के सभागार में स्वदेशी जागरण मंच की पंद्रहवीं राष्ट्रीय सभा मैं मंच के राष्ट्रीय संयोजक श्री आर सुंदरम ने मंच की वर्ष वर्ग की गतिविधियों का लेखा जोखा प्रस्तुत किया। उन्होंने जानकारी दी कि स्वदेशी जागरण मंच के कोरोना वैक्सीन को पेटेंट मुक्त करवाने हेतु चलाए गए अभियान में देशभर के 14, लाख लोगों ने हस्ताक्षर किए। 22,000 प्रमुख बुद्धिजीवियों सहित साठ देशों के नागरिकों ने अपनी सहमति दर्ज करायी। 19 देशों व देश के 715 ज़िलों में प्रदर्शन हुआ। भूमि बचाने और जैविक कृषि को बढ़ाने के लिए मंच द्वारा भूमि सुख पोषण अभियान चलाया गया। जिसमें देश के 15 सौ से अधिक स्थानों पर इस अभियान को पूर्ण किया गया। 

मंच ने तीन दिवसीय अर्थचिंतन कार्यक्रम किया जिसमें केंद्रीय मंत्रियों, नीति आयोग के उपाध्यक्ष व उद्योगपतियों, संत-समाज सहित देश के 800 से अधिक विश्वविद्यालय के प्रोफेसरों ने हिस्सा लिया।स्वदेशी जागरण मंच देश के 450 ज़िलों में अपना काम खड़ा करने में सक्षम हुआ है।उन्होंने जानकारी दी कि देश भर में स्वदेशी चिंतन के लिए वर्तमान की आवश्यकताओं के अनुरूप स्वदेशी शोध अध्ययन करने के लिए दिल्ली मेंआठ मंज़िला शोध केंद्र स्वदेशी जागरण मंच स्थापित करने जा रहा है। जिसमें देश की पुरा सम्पत्तियों,साहित्यों, वेद- वेदांग का अध्ययन कर वर्तमान वैश्विक आवश्यकता अनुसार आलेख रिपोर्ट तैयार कर प्रस्तुत किए जाने का काम किया जाएगा। देश की एवं राज्यों की सरकारों के लिए नीति निर्धारित करने हेतु इस टैक्नीकल इनपुट देने का कार्य भी किया जाएगा।

 उद्घाटन सत्र में मुख्य वक्ता के रूप में बोलते हुए देश के प्रसिद्ध अर्थशास्त्री एवं स्वदेशी जागरण मंच के राष्ट्रीय सह संयोजक अश्विनी महाजन ने उपस्थित स्वदेशी कार्यकर्ताओ एवं समाज के प्रबुद्ध जनों को विश्व व्यापार संगठन कृिपटो करंसी से आर्थिक तंत्र में हो रहे बदलाव को अध्ययन करने की आवश्यकता पर बल दिया है। उन्होंने कहा बड़ी मल्टीनैशनल कंपनियां बीज एवं अन्य चीज़ों का पेटेंट करवा कर हमारे संसाधनों के साथ खिलवाड़ कर रही है। विशेष क़िस्म के आलू वोने पर मध्य प्रदेश गुजरात में पेप्सी कंपनी द्वारा किसानों के साथ किये गये क़ानूनी अत्याचार का भी ज़िक्र किया । स्वदेशी जागरण मंच ने आह्वान किया की खेती में बड़ी कंपनियों के पेटेंट रूप  में भी हस्तक्षेप कर किसानों को बीज एवं आवश्यक वस्तुएँ सस्ती एवं सुलभ कराने की ओर क़दम बढ़ाने की आवश्यकता है।मंच ने आर सी ई पी समझौता प्रधानमंत्री द्वारा रद्द किए जाने को भी स्वदेशी एवं लघु उद्योगों के हित में उठाया गया एक बहुत बड़ा क़दम माना। रिटेल क्षेत्र में F DI एवं ई कॉमर्स कंपनियों की ग़ैर क़ानूनी दख़ल को मंच की राष्ट्रीय सभा में निंदा के साथ सामने लाया गया। 

उद्घाटन सत्र में लाल पिटारा गौशाला के स्वामी श्री ऋषभ देवाआनंद जी महाराज ने गाै माता,धरतीमाता एवं भारत माता को सदैव सर्वोपरि मानते हुए उनके उत्थान के लिए सोचने की बात कही ।उद्घाटन सत्र में वर्ग के वर्ग प्रबंधक RP माहेश्वरी ने स्वागत उद्बोधन दिया। वर्ग के सह व्यवस्था प्रमुख संजीव गोयल ने व्यवस्थाओं की जानकारी के विषय को विस्तृत रूप में रखा।उद्घाटन सत्र में वान्या महेश्वरी द्वारा स्वदेशी गीत की प्रस्तुति विशेष आकर्षण का केंद्र रहा।कार्यक्रम का संचालन स्वदेशी जागरण मंच के मध्य भारत प्रांत के प्रांत संयोजक श्रीकांत श्रीकांत बुधोलिया ने किया वहीं धन्यवाद साकेत सिंह राठौड़ द्वारा दिया गया।स्वदेशी जागरण मंच की राष्ट्रीय सभा के प्रथम दिवस मैं हुए कार्यक्रमों की जानकारी देते हुए सभा के प्रचार प्रमुख डॉक्टर धर्मेन्द्र दुबे ने बताया कि राष्ट्रीय सभा के प्रथम दिन स्वदेशी जागरण मंच द्वारा इस स्वावलंबी भारत अभियान को लेकर विशेष चर्चा सत्र का आयोजन किया गया । जिसको मंच के राष्ट्रीय सह संगठन सतीश कुमार ने रखा । इस स्वावलंबी भारत अभियान को देश भर मैं किस प्रकार संचालित किया जाना है ।उस पर सभी प्रमुख कार्यकर्ताओं द्वारा गहन चिंतन मंथन किया गया ।

मंच के दक्षिण,दक्षिण मध्य, पश्चिम,मध्य क्षेत्र राजस्थान, उत्तर पश्चिम उत्तर प्रदेश,पूर्वी उत्तर प्रदेश क्षेत्रों का व्रत भी क्षेत्र संयोजकों द्वारा प्रस्तुत किया गया। स्वदेशी जागरण मंच की राष्ट्रीय सभा में अंतरराष्ट्रीय बौद्धिक संपदा अधिकार विशेषज्ञ डॉक्टर धनपत राम अग्रवाल द्वारा पर्यावरण विषय पर प्रस्ताव,पठन एवं चर्चा प्रस्तुत किया गया ।पर्यावरण को बचाने के लिए सरकारों द्वारा बनायी जा रही नीतियों ए एवं जनजागरण क्षेत्र में तुरंत कार्य करने की आवश्यकता पर बल देते हुए मंच ने यह प्रस्ताव पास किया ।जिसके अनुसार पर्यावरण हमारा प्रमुख बिंदु है।विश्व स्तर पर भारत पर लगाए जा रहे पर्यावरण दौहन के आरोपों को विशिष्ट अध्ययन कर सही तरीक़े से विश्व के सामने रखने की आवश्यकता को बल देने के लिए कहा गया।

मंच ने भारत सरकार द्वारा शीघ्र ही लाए जाने वाले क्रिपटो करेंसी पर नीतियों को लेकर भी गहन चर्चा की । जिस पर डॉक्टर अश्विनी महाजनद्वारा एक प्रस्ताव लाया गया।आज स्वदेशी जागरण मंच की राष्ट्रीय सभा में आए हुए सभी कार्यकर्ता ग्वालियर की सड़कों पर रैली के रूप में संदेश यात्रा निकालेंगे।यह यात्रा शाम 3 बजे से फूल बाग़ चौराहे से शुरू होकर लक्ष्मीबाई राष्ट्रीय शारीरिक प्रशिक्षण संस्थान ग्वालियर तकजाएंगीलक्ष्मीबाई राष्ट्रीय शारीरिक प्रशिक्षण संस्थान के सभागार मैं आज स्वदेशी शंखनाद सभा का आयोजन भी किया जाएगा ।शाम 4 बजे होने वाले इस आयोजन में स्वावलंबी भारत अभियान का शंखनाद आम जनों के बीच किया जाएगा ।इस सभा में केन्द्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर भी भाग लेंगे।