BREAKING NEWS

बंगाल में BJP कार्यकर्ता की हत्या, तृणमूल पर लगाया आरोप◾CM योगी ने नड्डा,शाह से की मुलाकात◾कांग्रेस ने ‘पार्टी विरोधी’ गतिविधियों के लिए रोशन बेग को किया सस्पेंड◾तृणमूल के विधायक, कई पार्षदों ने थामा BJP का दामन◾‘एक राष्ट्र, एक चुनाव’ पर बुधवार सुबह निर्णय लेंगे कांग्रेस और सहयोगी दल ◾अधीर रंजन चौधरी लोकसभा में कांग्रेस के बने नेता◾स्पीकर के चुनाव में बिड़ला का समर्थन करेगा UPA, ''एक राष्ट्र, एक चुनाव'' पर अभी निर्णय नहीं ◾बजट से पहले मोदी के साथ महत्वपूर्ण विभागों के सचिवों की बैठक ◾J&K : पुलवामा में पुलिस थाने पर ग्रेनेड हमला, 5 घायल, 2 की हालत गंभीर◾PM मोदी ने 19 जून को बुलाई सर्वदलीय बैठक, 'एक राष्ट्र एक चुनाव' पर करेंगे चर्चा◾मेरठ : गमगीन माहौल में हुआ शहीद मेजर का अंतिम संस्कार, अंतिम दर्शन को उमड़ा जनसैलाब ◾WORLD CUP 2019, ENG VS AFG : इंग्लैंड ने अफगानिस्तान के खिलाफ रिकार्डों की झड़ी लगाई ◾विपक्ष ने महाराष्ट्र के वित्त मंत्री के ट्विटर हैंडल पर बजट लीक को लेकर की सरकार आलोचना की◾Top 20 News - 18 June : आज की 20 सबसे बड़ी ख़बरें◾बिहार के CM नीतीश ने एईएस पीड़ित बच्चों को लेकर दिए आवश्यक निर्देश ◾लोकसभा अध्यक्ष पद के लिए NDA उम्मीदवार ओम बिड़ला को मिला BJD का समर्थन ◾मेरठ पहुंचा शहीद मेजर का पार्थिव शरीर, झलक पाने को उमड़ी भारी भीड़ ◾2005 अयोध्या आतंकी हमले में 4 आरोपियों को उम्रकैद, एक बरी◾सोनिया गांधी, हेमा मालिनी और मेनका गांधी ने ली लोकसभा सदस्यता की शपथ ◾रक्षा मंत्री राजनाथ ने मेजर केतन को दी श्रद्धांजलि ◾

देश

मोदी ने वैज्ञानिकों से कहा - विज्ञान संबंधी संवाद में भारतीय भाषाओं का करें प्रयोग

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विज्ञान संबंधी संवाद में बड़े पैमाने पर भारतीय भाषाओं का इस्तेमाल करने की वकालत की ताकि युवाओं में विज्ञान के लिए प्रेम विकसित किया जा सके। उन्होंने कहा कि इस दिशा में भाषा को अवरोधक नहीं बल्कि प्रेरक बनना चाहिए।

कोलकाता में प्रोफेसर सत्येन्द्र नाथ बोस की 125वीं जयंती के कर्टन-रेजर समारोह को वीडियो-कांफ्रेंसिंग के जरिए संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि बोस भारतीय भाषाओं में विज्ञान की शिक्षा देने वाले महान व्यक्ति थे और उन्होंने बांग्ला भाषा में एक विज्ञान पत्रिका की शुरूआत भी की थी।

मोदी ने कहा, युवाओं के बीच विज्ञान की समझ और उसके प्रति प्रेम बढ़ने के लिए, यह महत्वपूर्ण है कि हम विज्ञान से जुड़ संवाद को बड़े पैमाने पर प्रोत्साहित करें। इस संबंध में भाषा को अवरोधक नहीं, बल्कि इसे बढ़ावा देने वाला बनना चाहिए। प्रधानमंत्री ने वैज्ञानिकों से कहा कि वह अपने मूल ज्ञान का प्रयोग जनता की रोजर्मा की जिन्दगी को बेहतर बनाने के लिए करें।

उन्होंने कहा कि मौजूदा स्थिति में यह महत्वपूर्ण है कि किसी भी नवोन्मेष या अध्ययन के परिणाम को उसके माध्यम से गरीबों के जीवन पर पड़े अच्छे प्रभाव के आधार पर आंका जाये। उन्होंने सवाल किया, क्या आपके नवोन्मेष के जरिए किसी गरीब का जीवन आसान हो रहा है, क्या मध्यम वर्ग की परेशानियां कम हो रही हैं?

मोदी ने वैज्ञानिकों से कहा कि वे लोग देश के समक्ष मौजूद सामाजिक-आर्थिक चुनौतियों को ध्यान में रखते हुए अपने अनुसंधान का विषय तय करें। एक जनवरी, 1894 को जन्मे बोस 1920 के दशक में मैकेनिक्स के क्षेत्र में अपने कार्य के लिए जाने जाते हैं। अल्बर्ट आइंस्टिन के साथ काम कर चुके बोस ने बोसॉन कण की खोज की है।

हमारी मुख्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें।