BREAKING NEWS

अमेरिका : जॉर्ज फ्लॉयड की मौत पर व्हाइट हाउस के बाहर हिंसक प्रदर्शन, बंकर में ले जाए गए थे राष्ट्रपति ट्रंप◾विश्व में महामारी का कहर जारी, अब तक कोरोना मरीजों का आंकड़ा 61 लाख के पार हुआ ◾कोविड-19 : देश में संक्रमितों का आंकड़ा 1 लाख 90 हजार के पार, अब तक करीब 5400 लोगों की मौत ◾चीन के साथ सीमा विवाद को लेकर गृह मंत्री शाह बोले- समस्या के हल के लिए राजनयिक व सैन्य वार्ता जारी◾Lockdown 5.0 का आज पहला दिन, एक क्लिक में पढ़िए किस राज्य में क्या मिलेगी छूट, क्या रहेगा बंद◾लॉकडाउन के बीच, आज से पटरी पर दौड़ेंगी 200 नॉन एसी ट्रेनें, पहले दिन 1.45 लाख से ज्यादा यात्री करेंगे सफर ◾तनाव के बीच लद्दाख सीमा पर चीन ने भारी सैन्य उपकरण - तोप किये तैनात, भारत ने भी बढ़ाई सेना ◾जासूसी के आरोप में पाक उच्चायोग के दो अफसर गिरफ्तार, 24 घंटे के अंदर देश छोड़ने का आदेश ◾महाराष्ट्र में कोरोना का कहर जारी, आज सामने आए 2,487 नए मामले, संक्रमितों का आंकड़ा 67 हजार के पार ◾दिल्ली से नोएडा-गाजियाबाद जाने पर जारी रहेगी पाबंदी, बॉर्डर सील करने के आदेश लागू रहेंगे◾महाराष्ट्र सरकार का ‘मिशन बिगिन अगेन’, जानिये नए लॉकडाउन में कहां मिली राहत और क्या रहेगा बंद ◾Covid-19 : दिल्ली में पिछले 24 घंटे में 1295 मामलों की पुष्टि, संक्रमितों का आंकड़ा 20 हजार के करीब ◾वीडियो कन्फ्रेंसिंग के जरिये मंगलवार को पीएम नरेंद्र मोदी उद्योग जगत को देंगे वृद्धि की राह का मंत्र◾UP अनलॉक-1 : योगी सरकार ने जारी की गाइडलाइन, खुलेंगें सैलून और पार्लर, साप्ताहिक बाजारों को भी अनुमति◾श्रमिक स्पेशल ट्रेनों में 80 मजदूरों की मौत पर बोलीं प्रियंका-शुरू से की गई उपेक्षा◾कपिल सिब्बल का प्रधानमंत्री पर वार, कहा-PM Cares Fund से प्रवासी मजदूरों को कितने रुपए दिए बताएं◾कोरोना संकट : दिल्ली सरकार ने राजस्व की कमी के कारण केंद्र से मांगी 5000 करोड़ रुपए की मदद ◾मन की बात में PM मोदी ने योग के महत्व का किया जिक्र, बोले- भारत की इस धरोहर को आशा से देख रहा है विश्व◾'मन की बात' में PM मोदी ने देशवासियों की सेवाशक्ति को कोरोना जंग में बताया सबसे बड़ी ताकत◾तमिलनाडु सरकार ने 30 जून तक बढ़ाया लॉकडाउन, सार्वजनिक परिवहन की आंशिक बहाली की दी अनुमति ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

राज्यसभा में बोले नायडू : सदन में सदस्यों की उपस्थिति सुनिश्चित करने के लिए जारी किया गया व्हिप

सभापति एम वेंकैया नायडू ने आज राज्यसभा में बीजेपी द्वारा व्हिप जारी किए जाने के बाद चल रही अटकलों पर विराम लगाते हुए कहा कि व्हिप ‘सदन की सेहत’ की खातिर जारी किया गया है। नायडू ने कहा कि आम और पर बजट सत्र के पहले चरण के आखिरी दिन सदस्यों की उपस्थिति बहुत ही कम होती है और इससे लोगों के बीच अच्छा संदेश नहीं जाता।गौरतलब है कि संसद का बजट सत्र 31 जनवरी से शुरू हुआ है। इसका पहला चरण मंगलवार यानी आज तक है और अवकाश के बाद दूसरा चरण दो मार्च से शुरू होगा। 

सदन की बैठक शुरू होने पर सभापति ने कहा कि आज कोई विधेयक नहीं लिया जाएगा और केवल बजट पर ही चर्चा होगी तथा वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण चर्चा के बाद जवाब देंगी। भाजपा ने सोमवार को व्हिप जारी कर अपने सदस्यों को आज उनसे सदनों में उपस्थिति रहने के लिए कहा था। इसके बाद अटकलें लगाई जाने लगीं कि शायद सरकार की ओर से कोई महत्वपूर्ण विधेयक सदन में लाया जा रहा है। 

नायडू ने कहा ‘‘यह सदन की सेहत के लिए किया गया क्योंकि आज बजट सत्र के पहले चरण का आखिरी दिन है और पहले हमने देखा है कि आखिरी दिन सदस्यों की उपस्थिति बहुत कम होती है। इससे गलत संदेश जाता है कि सदस्य सदन में बजट पर दिलचस्पी नहीं लेते।’’ सभापति ने कहा ‘‘अगर पूरे सत्र में नियमित रूप से व्हिप जारी किया जाए तो मुझे बहुत खुशी होगी क्योंकि तब सदस्य सदन में उपस्थित रहेंगे।’’ 

कांग्रेस ने सीएम केजरीवाल को दी बधाई, कहा- दिल्ली जनादेश स्वीकार करती है, नवनिर्माण का संकल्प लिया

इससे पहले, बैठक शुरू होते ही द्रमुक, कांग्रेस और वाम सदस्यों ने कोई मुद्दा उठाना चाहा। सभापति ने उन्हें इसकी अनुमति नहीं दी और बजट पर चर्चा आरंभ करने के लिए अन्नाद्रमुक सदस्य के मुत्तुकरप्पन का नाम पुकारा। मुत्तुकरप्पन ने बोलना शुरू किया। इस बीच द्रमुक, कांग्रेस, वाम सदस्य और एमडीएमके के वाइको अपना मुद्दा उठाने का प्रयास करते रहे। सभापति ने कहा कि कुछ भी रिकॉर्ड में नहीं जाएगा। 

नायडू की इस व्यवस्था के बाद कांग्रेस और वाम सदस्य बैठ गए लेकिन द्रमुक सदस्य और वाइको अपना मुद्दा उठाने की मांग करते रहे। सभापति के इंकार करने पर द्रमुक सदस्य विरोध जताते हुए सदन से बहिर्गमन कर गए। अपना मुद्दा उठाने की मांग कर रहे वाइको को सभापति ने आगाह किया कि उन्हें सत्र की शेष अवधि में बोलने का अवसर नहीं मिलेगा। सभापति ने यह भी कहा कि वह कार्यवाही के लिए वाइको का नाम लेंगे। इस पर विरोध जताते हुए वाइको सदन से चले गए। हालांकि कुछ देर बाद द्रमुक के तिरुचि शिवा और वाइको सदन में लौट आए।