BREAKING NEWS

लोकसभा में नागरिकता संशोधन विधेयक पारित, पक्ष में पड़े 311 वोट, विपक्ष में 80◾जब तक मोदी प्रधानमंत्री हैं, किसी भी धर्म के लोगों को डरने की जरूरत नहीं : शाह ◾महिलाओं के खिलाफ अत्याचार, चिंताजनक और शर्मनाक : नायडू ◾ओवैसी ने लोकसभा में नागरिकता विधेयक की प्रति फाड़ी भाजपा सदस्यों ने संसद का अपमान बताया ◾पूर्वोत्तर के अधिकतर राज्यों के दलों ने नागरिकता संशोधन विधेयक का समर्थन किया ◾अनुच्छेद 370 को रद्द किये जाने के खिलाफ याचिकाओं पर संविधान पीठ कल से करेगी सुनवाई ◾दुष्कर्म की राजधानी बना भारत, फिर भी चुप हैं मोदी : राहुल गांधी◾कांग्रेस कभी गठबंधन के भरोसे पर खरा नहीं उतरती : नरेन्द्र मोदी ◾TOP 20 NEWS 09 December : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾भीकाजी कामा प्लेस मेट्रो स्टेशन के नजदीक जेएनयू के छात्रों पर पुलिस ने किया लाठीचार्ज ◾नागरिकता संशोधन विधेयक भाजपा के घोषणापत्र का हिस्सा रहा, जनता ने इसे मंजूर किया : अमित शाह◾कर्नाटक उपचुनाव : BJP को 12 सीटों पर जीत मिली, विधानसभा में मिला स्पष्ट बहुमत ◾कर्नाटक : सिद्धारमैया ने कांग्रेस विधायक दल के नेता पद से दिया इस्तीफा◾JNU छात्रों ने राष्ट्रपति भवन तक शुरू किया मार्च, पुलिस ने की शांतिपूर्ण प्रदर्शन की अपील◾रॉबर्ट वाड्रा को कोर्ट से बड़ी राहत, मेडिकल ट्रीटमेंट के लिए विदेश जाने की मिली अनुमति◾बीजेपी ने छह सीटें जीतने के साथ कर्नाटक विधानसभा में बहुमत किया हासिल ◾झारखंड में बोले राहुल- सत्ता में आने पर लोगों को जल, जंगल और जमीन लौटाया जाएगा◾कांग्रेस ने धर्म के आधार पर देश विभाजन किया जिसके कारण नागरिकता कानून में संशोधन की जरूरत पड़ी : अमित शाह◾अखिलेश यादव ने नागरिकता संशोधन विधेयक को बताया भारत और संविधान का अपमान◾झारखंड में बोले PM मोदी- कांग्रेस कभी भी गठबंधन के भरोसे पर खरा नहीं उतरी◾

देश

नकवी ने अमेरिकी प्रतिनिधिमंडल से की मुलाकात, बोले-भारत में अल्पसंख्यक सुरक्षित

 naqvi

केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने बुधवार को अमेरिका के एक प्रतिनिधिमंडल के साथ मुलाकात में कहा कि भारत में अल्पसंख्यक पूरी तरह सुरक्षित हैं और सहिष्णुता एवं सामाजिक सद्भाव भारत के बहुसंख्यक समाज के डीएनए में है। 

सूत्रों के मुताबिक, नकवी ने अंतरराष्ट्रीय धार्मिक स्वतंत्रता विषय पर शीर्ष अमेरिकी राजदूत सैमुअल ब्राउनबैक के नेतृत्व वाले प्रतिनिधिमंडल को अपने मंत्रालय की ओर से चलाई जा रही योजनाओं एवं उनके सकारात्मक प्रभाव के बारे में भी अवगत कराया। 

इस मुलाकात के बाद नकवी ने ट्वीट कर कहा, ‘‘ अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय द्वारा चलाये जा रहे विभिन्न सामाजिक-आर्थिक-शैक्षिक सशक्तिकरण एवं रोजगारपरक कौशल विकास कार्यक्रमों पर विस्तृत चर्चा हुई।’’ मंत्रालय से जुड़े सूत्रों ने बताया कि अमेरिकी प्रतिनिधिमंडल के साथ करीब एक घंटे तक चली मुलाकात के दौरान नकवी ने अल्पसंख्यक समुदायों के बच्चों, खासकर लड़कियों के शैक्षणिक सशक्तीकरण के लिए चलाए जा रहे छात्रवृत्ति कार्यक्रमों के बारे में सूचित किया। 

एक सूत्र ने बताया, ‘‘मंत्री ने प्रतिनिधिमंडल को यह जानकारी भी दी कि मोदी सरकार के प्रयासों के चलते पिछले पांच वर्षों में अल्पसंख्यकों में स्कूल की पढ़ाई बीच में ही छोड़ देने की दर 70 फीसदी से गिरकर करीब 35 फीसदी तक पहुंच गयी है तथा इसे पूरी तरह खत्म करने के प्रयास जारी हैं।’’ 

मंत्रालय के सूत्र के मुताबिक इस मुलाकात के दौरान नकवी ने कहा कि सांप्रदायिक सद्भाव और सहिष्णुता भारत के बहुसंख्यक समाज के डीएनए में है तथा भारत में अल्पसंख्यकों के सामाजिक, धार्मिक एवं संवैधानिक अधिकार पूरी तरह सुरक्षित हैं। नकवी ने यह भी कहा, ‘‘भारत अल्पसंख्यकों के लिए स्वर्ग और पाकिस्तान नर्क है। भारत में कई भाषाएं, धर्म, आस्थाएं और संस्कृति पूरी दुनिया के लिए विविधता में एकता की मिसाल हैं।’’ 

सूत्रों के अनुसार, मंत्री ने अमेरिकी प्रतिनिधिमंडल को बताया कि 2014 में नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद भारत में कोई बड़ा सांप्रदायिक दंगा नहीं हुआ और अगर कहीं कुछ छिटपुट घटनाएं हुईं तो उनमें कानूनी कार्रवाई सुनिश्चित की गई। सूत्रों ने यह भी बताया कि अमेरिकी प्रतिनिधिमंडल ने मोदी सरकार में अल्पसंख्यकों के लिए चल रही योजनाओं एवं कार्यक्रमों की सराहना की।