BREAKING NEWS

शेख हसीना के साथ बैठक सौहार्दपूर्ण रही : ममता ◾राजनाथ ने डीआरडीओ और घरेलू रक्षा उद्योगों के बीच सामंजस्य बनाने की अपील की ◾चुनावी बॉन्ड पर सरकार के पास जवाब नहीं : प्रियंका गांधी वाड्रा◾ कांग्रेस नेता अहमद पटेल बोले- बैठक अभी अधूरी है, कल हम फिर करेंगे बैठक ◾BHU में प्रो. फिरोज खान नियुक्ति विवाद पर छात्रों का धरना समाप्त,विरोध जारी◾राज्यसभा में उठा जेएनयू में फीस बढ़ोतरी का मुद्दा ◾TOP 20 NEWS 22 NOV : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾कांग्रेस, NCP और शिवसेना गठबंधन पर बोले गडकरी- वे महाराष्ट्र को एक स्थिर सरकार नहीं दे पाएंगे◾मुंबई में शिवसेना ने मारी बाजी, किशोरी पेडनेकर बीएमसी की नई मेयर चुनीं गईं◾प्रकाश जावड़ेकर बोले- बीजिंग से कम समय में दिल्ली में प्रदूषण से निपट लेंगे◾CM केजरीवाल का बड़ा ऐलान, बोले-पानी और सीवर के नए कनेक्शन पर देने होंगे 2,310 रुपये ◾NCP ने ली भाजपा की चुटकी, कहा- 'शरद पवार ने राजनीति के चाणक्य को दी मात'◾महाराष्ट्र : सरकार गठन को लेकर मुंबई में शाम 4 बजे होगी शिवसेना, NCP और कांग्रेस की बैठक◾संसद परिसर में कांग्रेस ने 'Electoral Bond' के खिलाफ किया प्रदर्शन◾गठबंधन पर संजय निरुपम तंज, कहा- 'तीन तिगाड़े काम बिगाड़े' वाली सरकार चलेगी कब तक?◾महाराष्ट्र में 5 साल के लिए शिवसेना का ही होगा मुख्यमंत्री : संजय राउत◾इजराइल के PM बेंजामिन नेतन्याहू पर भ्रष्टाचार, धोखाधड़ी और विश्वासघात मामले में आरोप तय◾सत्यपाल मलिक बोले- अयोध्या में बनने वाले राम मंदिर में केवट-शबरी की भी हों मूर्तियां, ट्रस्ट को लिखूंगा चिट्ठी◾झारखंड चुनाव: भाजपा के 'बागी' सरयू राय के बहाने नीतीश ने 'तीर' से साधे कई निशाने◾अयोध्या विवाद पर आए फैसले पर दूसरे देशों से संवाद बहुत सफल रहा : विदेश मंत्रालय◾

देश

हिमाचल प्रदेश में भारी बारिश और भूस्खलन के कारण कई नेशनल हाईवे क्षतिग्रस्त

 himachal

देश के विभिन्न हिस्सों में बारिश, बाढ़ एवं भूस्खलन की घटनाओं में मरने वालों की संख्या 269 तक पहुंच गई है जबकि 42 अन्य लापता हैं। भारी बारिश के कारण आई बाढ़ और भूस्खलन से केरल, कर्नाटक, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश समेत देश के 9 राज्य प्रभावित है। 

हिमाचल प्रदेश के कई हिस्सों में भूस्खलन और भारी बारिश के बाद नेशनल हाईवे पर अवरोध उत्पन्न हुआ है। वहीं उत्तराखंड में बादल फटने की भी खबरें सामने आ रही हैं। निचले इलाकों में बाढ़ की स्थिति बनी हुई है।

हिमाचल प्रदेश के नाली और कुल्लू के बीच नेशनल हाईवे 3 पर भूस्खलन और भारी बारिश के कारण आंशिक रूप से क्षतिग्रस्त हो गया। हाईवे से भारी वाहनों की आवाजाही बंद कर दी गई है, वहीं हल्के वाहन अभी भी चल रहे हैं। रिब्बा और किन्नौर हाईवे पर भी भारी बारिश के बाद आए भूस्खलन के बाद से हाईवे बंद है। 

मंडी जिले के बालीचोकी इलाके में सड़क का कुछ हिस्सा क्षेत्र में लगातार बारिश के कारण क्षतिग्रस्त हो गया। कुल्लू के अखाड़ा बाजार में ब्यास नदी पर बना एक पुल नदी के पानी का स्तर बढ़ने के कारण रात को ढह गया। 

उत्तरकाशी के जिला मजिस्ट्रेट आशीष चौहान ने कहा, हमने भारी बारिश के कारण मकुड़ी और डिगोली में घरों में फंसे कुछ लोगों और कुछ घरों को नुकसान पहुंचने की जानकारी प्राप्त की हुई है। बचाव और निकासी के लिए एसडीआरएफ, रेडक्रॉस, आईटीबीपी और एनडीआरएफ की टीमों को स्थानांतरित कर दिया गया है।

बारिश, बाढ़ एवं भूस्खलन के कारण विभिन्न राज्यों में कई लाख लोग प्रभावित हुए हैं और अधिकतर लोगों को राहत शिविरों में विस्थापितों के समान जिंदगी व्यतीत करनी पड़ रही है, लेकिन पानी घटने पर लोग राहत शिविरों से अपने-अपने घर लौटने लगे हैं। केरल और कर्नाटक के कुछ हिस्सों में बाढ़ और भूस्खलन के कारण सबसे अधिक नुकसान हुआ है। 

केरल में अब तक 115, कर्नाटक में 62, गुजरात में 35, महाराष्ट्र में 30, उत्तराखंड और ओडिशा में आठ-आठ तथा हिमाचल प्रदेश में दो तथा आंध, प्रदेश में नाव डूबने से एक लड़की की मौत हो चुकी है। इसके अलावा पश्चिम बंगाल में भारी बारिश के बीच बिजली गिरने से कम से कम आठ लोगों जान गयी है। 

केरल और कर्नाटक में भारी बारिश एवं बाढ़ के कारण हुए भूस्खलन की घटनाओं के बाद से 44 लोग अब भी लापता हैं। केरल में जहां 27 लोगों के मलबे में दबे होने की आशंका है, वहीं कर्नाटक में 15 लोग लापता हैं।