BREAKING NEWS

रामपुर में पहले नहीं होते थे चुनाव, थानों और बूथों पर रहता था सपा के गुंडों का कब्जा : बृजेश पाठक ◾J&K : आजाद बोले- धार्मिक राजनीति ने देश को पहुंचाया गहरा नुकसान, वोट डालने से पहले जांचे 'ट्रैक रिकॉर्ड'◾पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा- विनिर्माण की दुनिया में लगातार आगे बढ़ रहा है भारत◾Assam: सीएम शर्मा ने कहा- डिब्रूगढ़ विवि ने रैगिंग की घटना छिपाने की कोशिश की या नहीं, जांच पुलिस करेगी◾'मोदी सरकार' पर निशाना साधते हुए राहुल बोले- नोटबंदी, GST ने लोगों और छोटे व्यापारियों की कमर तोड़ी◾Gujarat: गुजरात में मिली जहरीली शराब पर भड़के राहुल गांधी- राज्य में फैल हुआ 'मोदी मॉडल'◾ लड़की के साथ दरिंदगी, तीन लोगों ने मिलकर किया दुष्कर्म, पुलिस ने आरोपियों को दबोचा, जानें पूरा मामला ◾Goa: सीएम प्रमोद सांवत ने कहा- ‘द कश्मीर फाइल्स’ पर इफ्फी के जूरी प्रमुख का बयान कश्मीरी हिंदुओं का अपमान◾Air India: एयर इंडिया-विस्तारा के विलय को मिली मंजूरी...सिंगापुर एयरलाइंस की होगी इतनी हिस्सेदारी◾सोशल मीडिया ने देश को आगे बढ़ाया... लेकिन फेक न्यूज का भी तेजी से हुआ चलन, बोले केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ◾BWF Rankings: बीडब्ल्यूएफ रैंकिंग में छठे स्थान पर पहुंचे लक्ष्य सेन, टॉप-20 में गायत्री-त्रिशा ◾MCD पर केजरीवाल का चुनावी एजेंडा, कहा- 'आप पार्टी' को वोट दें.....राजधानी को बनाएंगे स्वच्छ और सुंदर ◾Digital Rupee: RBI का बड़ा ऐलान- 1 दिसंबर को लॉन्च होगा डिजिटल रूपया ◾भाजपा के गुजरात मॉडल पर योगी मॉडल की छाप, छात्राओं को देंगे तमाम तोहफे◾Corruption case: देशमुख की जमानत याचिका पर अदालत ने सुनवाई को 2 दिसंबर तक किया स्थगित ◾10वीं छात्रा के साथ दुष्कर्म, पांच सहपाठियों ने लड़की को दबोचा, किया गैंगरेप, वीडियो बनाकर कर रहे थे blackmail ◾ Akhilesh Yadav: भाजपा के विवादित बयान पर 'सपा' का पलटवार , अखिलेश का ट्वीट- पिक्चर अभी बाकी है ◾Gujarat Assembly Election: सोशल मीडिया पर ‘आप’ सबसे ज्यादा सक्रिय, BJP और कांग्रेस पीछे◾PM मोदी पर मल्लिकार्जुन खरगे ने कसा तंज कहा, आपके रावण के जैसे 100 सिर हैं क्या?◾हैरतअंगेज करने वाला वीडियो, महिला के ऊपर से गुजरी ट्रेन...फिर भी फोन पर करती रही बात, यूजर्स की फट गई आंखे◾

12वीं की किताब से हटेगा 2002 गुजरात दंगों से जुड़ा अध्याय, NCERT ने लिया निर्णय

12वीं कक्षा की पाठ्यपुस्तक से साल 2002 में गुजरात में हुए दंगों से जुड़े अध्याय को हटा दिया जाएगा। राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद (एनसीईआरटी) ने ये निर्णय लिया है। इसके साथ ही एनसीईआरटी ने शीत युद्ध और मुगल अदालतों के बारे में लिखे अध्यायों को भी अपनी पुस्तकों से हटा दिया है। एनसीईआरटी ने अपने इस फैसले को लेकर लिए तर्क भी दिए हैं। 

एनसीईआरटी के मुताबिक दंगों के साथ-साथ नक्सली आंदोलन का इतिहास और इमरजेंसी विवाद को भी किताब से हटाने का फैसला किया गया है। कोरोना महामारी के बाद छात्रों के सिलेबस में समुचित कटौती के लिए यह कदम उठाया गया है। एनसीईआरटी के मुताबिक कोविड महामारी के मद्देनजर छात्रों के सिलेबस को कम करने के लिए कुछ महत्वपूर्ण कदम उठाए गए हैं इसके अंतर्गत कक्षा 6 से 12 के पाठ्यक्रम में परिवर्तन किया गया है। 

इससे पहले सीबीएसई बोर्ड ने कक्षा 9, 10, 11 और 12 के लिए नया सिलेबस घोषित किया था। सिलेबस में किए गए बदलाव के तहत दसवीं के सामाजिक विज्ञान के पाठ्यक्रम से उर्दू शायर फैज अहमद फैज की नज्मों को हटा दिया गया है। सीबीएसई ने कक्षा 11 वीं की पुस्तक से इस्लाम की स्थापना, उसके उदय और विस्तार की कहानी बताने वाले अध्याय 'सेंट्रल इस्लामिक लैंड्स' को हटाया है। वहीं 12वीं कक्षा की पुस्तक से मुगल साम्राज्य से जुड़े पाठ्यक्रम में बदलाव किया गया है।

सीबीएसई कक्षा 10, 12 का संशोधित पाठ्यक्रम आधिकारिक वेबसाइट पर उपलब्ध है। सीबीएसई से संबंधित स्कूलों के कुछ शिक्षकों ने बताया कि बोर्ड ने सिलेबस में से कुछ अध्याय और इकाइयों को हटा दिया है। इसी तरह पहले हटाए गए कुछ हिस्सा को वापस जोड़ दिया गया है। 

दसवीं कक्षा की पुस्तक 'लोकतांत्रिक राजनीति' की पृष्ठ संख्या 46,48, 49 पर मौजूद तस्वीरों को सिलेबस से हटाया गया था। इनमें दो पोस्टर और एक पॉलिटिकल कार्टून है। इस पुस्तक में 'धर्म, सांप्रदायिकता और राजनीति' के अंतर्गत सांप्रदायिकता में राजनीति की भूमिका समझाने के लिए तीन कार्टून दिए थे। यहां दो कार्टून में फैज की नज्में भी थीं। 

गौरतलब है कि कॉलेजों में अंडर ग्रेजुएट पाठ्यक्रमों हेतु बारहवीं कक्षा के सिलेबस के आधार पर ही सेंट्रल यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट (सीयूईटी) भी लिया जाएगा। कॉलेजों में दाखिले के लिए अन्य किसी कक्षा के सिलेबस के आधार पर एंट्रेंस टेस्ट में प्रश्न नहीं पूछे जाएंगे। परीक्षा में हासिल किए गए अंको की मैरिट के आधार पर दाखिले होंगे।