BREAKING NEWS

ट्रैक्टर परेड को नाकाम करने की पाक ने बनायी साजिश, पाक ने 300 से अधिक ट्विटर अकाउंट बनाए ◾नेपाल: ‘प्रचंड’ के नेतृत्व वाले गुट ने प्रधानमंत्री ओली को पार्टी की सदस्यता से निष्कासित किया ◾UP के BJP विधायक का विवादित बयान, कहा- ‘राक्षसी’ संस्कृति की है ममता बनर्जी, उनके डीएनए में दोष◾किसानों की परेशानियों को सुनने और समझने की बजाए सरकार उन्हें आतंकवादी कहती है : राहुल गांधी◾लालू प्रसाद की बिगड़ी तबीयत पर बोले मुख्यमंत्री नीतीश- वे जल्द ठीक हों, मेरी शुभकामना उनके साथ◾असम में गरजे अमित शाह- कांग्रेस बताए इतने सालों तक रक्तरंजित क्यों रहा राज्य◾कृषि कानून को लेकर 60वें दिन आंदोलन जारी, 26 जनवरी पर ट्रैक्टर रैली की तैयारी में जुटे किसान ◾LAC विवाद : भारत और चीन के बीच कॉर्प्स कमांडर स्तर की बैठक मोल्डो में जारी ◾दिल्ली में आधी रात को लगे 'पाकिस्तान जिंदाबाद' के नारे, छह लोगों को पूछताछ के बाद छोड़ा◾गणतंत्र दिवस पर 2 बजे के बाद खुलेगी कनॉट प्लेस मार्केट, बंद रहेंगे ये 4 मेट्रो स्टेशन◾उत्तर भारत में सर्दी का सितम जारी, शीतलहर से फिर कांपेगी राजधानी दिल्ली ◾राहुल गांधी का तंज- जनता महंगाई से त्रस्त, मोदी सरकार टैक्स वसूली में मस्त◾CM उद्धव ठाकरे की साइन की हुई फाइल से छेड़छाड़, PWD इंजीनियर के खिलाफ जांच के दिए थे आदेश◾BJP सांसद साक्षी महाराज का आरोप-कांग्रेस ने कराई थी नेताजी की हत्या◾देश में कोरोना के 14849 नए मामलों की पुष्टि, पॉजिटिव केस 1 करोड़ 65 लाख के पार ◾TOP 5 NEWS 24 JANUARY : आज की 5 सबसे बड़ी खबरें ◾दुनियाभर में कोरोना वायरस का प्रकोप जारी, संक्रमितों का आंकड़ा 9.86 करोड़ तक पहुंचा◾ममता बनर्जी के लिये ‘जय श्री राम’ का नारा सांड को लाल कपड़ा दिखाने के समान है : अनिल विज◾ सात और राज्य अगले सप्ताह से स्वदेशी तौर पर विकसित ‘कोवैक्सीन’ टीका लगाएंगे : स्वास्थ्य मंत्रालय ◾ वायुसेना प्रमुख भदौरिया बोले- भारत पांचवीं पीढ़ी के लड़ाकू विमानों पर काम कर रहा है◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

राज्यसभा से निलंबित सांसदों के समर्थन में आए NCP प्रमुख, बोले- मैं भी रखूंगा एक दिन का उपवास

राकांपा प्रमुख शरद पवार ने मंगलवार को कहा कि वह उच्च सदन के आठ राज्यसभा सदस्यों के निलंबन के विरोध में एक दिन का उपवास रखेंगे। रविवार को उच्च सदन में कृषि संबंधी विधेयकों को पारित किए जाने के दौरान ‘‘अमर्यादित व्यवहार’’ के कारण इन सदस्यों को मानसून सत्र की शेष अवधि के लिए निलंबित किया गया है।

वहीं राज्यसभा सदस्य पवार ने कहा कि "मैं भी उनके (आठ निलंबित राज्यसभा सांसदों) आंदोलन में हिस्सा लूंगा और उनके समर्थन में एक दिन का उपवास रखूंगा।" उन्होंने कहा, "मैंने प्रदर्शन कर रहे सांसदों के समर्थन में एक दिन उपवास रखने का फैसला किया है।" पवार ने कहा कि सरकार की नीयत भले ही सही हो, लेकिन उन्होंने कभी भी इस तरह से बिलों को पास होते नहीं देखा। बिल पास कराने में जल्दबाजी दिखाई गई, ऐसा तब हुआ जब सांसद कृषि बिलों को लेकर सवाल उठा रहे थे। 

पवार ने कहा, "सदस्य बिलों पर ज्यादा प्रश्न पूछना चाहते थे। ऐसा लगा रहा था कि वे चर्चा करना नहीं चाहते थे। जब सांसदों को जवाब नहीं मिला तो वे सदन की वेल में पहुंच गए।"राकांपा प्रमुख ने कहा, "राज्यसभा के उपसभापति नियमों से परे नहीं है और राज्यसभा के सदस्यों को उनके विचार प्रकट करने के लिए निलंबित किया गया है।"

गौरतलब है कि विपक्षी दलों ने रविवार को राज्यसभा में हुए हंगामे के चलते सोमवार को आठ विपक्षी सदस्यों को निलंबित किए जाने को लेकर सरकार पर निशाना साधा था तथा इस कदम के विरोध में वे संसद भवन परिसर में ‘‘अनिश्चितकालीन’’ धरने पर बैठ गए थे। हालांकि आज यानी मंगलवार को उन्होंने धरना खत्म कर दिया। निलंबित किए गए आठ सांसदों में कांग्रेस, मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा), तृणमूल कांग्रेस और आम आदमी पार्टी (आप) के सदस्य शामिल हैं।

निलंबित किए गए सदस्यों में तृणमूल कांग्रेस के डेरेक ओ ब्रायन और डोला सेन, कांगेस के राजीव सातव, सैयद नजीर हुसैन और रिपुन बोरा, आप के संजय सिंह, माकपा के केके रागेश और इलामारम करीम शामिल हैं। उच्च सदन में कृषि संबंधी विधेयकों को पारित किए जाने के दौरान ‘‘अमर्यादित व्यवहार’’ के कारण इन सदस्यों को मानसून सत्र की शेष अवधि के लिए निलंबित किया गया था।

बता दें कि राज्यसभा के उप सभापति हरिवंश ने विपक्षी सदस्यों के आपत्तिजनक आचरण पर गहरी पीड़ा जताते हुए मंगलवार को घोषणा की कि वह 24 घंटे का उपवास करेंगे। इसके साथ ही उन्होंने उम्मीद जतायी कि इससे आपत्तिजनक आचरण करने वाले सदस्यों में "आत्म-शुद्धि" का भाव जागृत होगा।

राज्यसभा में अनियंत्रित व्यवहार के खिलाफ उपवास पर बैठे उपसभापति, बोले- अपमान से पूरी रात सो नहीं पाया