BREAKING NEWS

71वां गणतंत्र दिवस के मोके पर राष्ट्रपति कोविंद राजपथ पर फहराया तिरंगा◾गणतंत्र दिवस पर सैन्य शक्ति, सांस्कृतिक विरासत और सामाजिक-आर्थिक प्रगति का होगा भव्य प्रदर्शन◾अदनान सामी को पद्मश्री पुरस्कार मिलने पर हरदीप सिंह पुरी ने दी बधाई ◾पूर्व मंत्रियों अरूण जेटली, सुषमा स्वराज और जार्ज फर्नांडीज को पद्म विभूषण से किया गया सम्मानित, देखें पूरी लिस्ट !◾कोरोना विषाणु का खतरा : करीब 100 लोग निगरानी में रखे गए, PMO ने की तैयारियों की समीक्षा◾गणतंत्र दिवस : चार मेट्रो स्टेशनों पर प्रवेश एवं निकास कुछ घंटों के लिए रहेगा बंद ◾ISRO की उपलब्धियों पर सभी देशवासियों को गर्व है : राष्ट्रपति ◾भाजपा ने पहले भी मुश्किल लगने वाले चुनाव जीते हैं : शाह◾यमुना को इतना साफ कर देंगे कि लोग नदी में डुबकी लगा सकेंगे : केजरीवाल◾उमर की नयी तस्वीर सामने आई, ममता ने स्थिति को दुर्भाग्यपूर्ण बताया◾ओम बिरला ने देशवासियों को गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं दी◾PM मोदी ने पद्म पुरस्कार पाने वालों को दी बधाई◾भारत और ब्राजील आतंकवाद के खिलाफ आपसी सहयोग बढ़ाने का किया फैसला◾370 के खात्मे के बाद कश्मीर में शान से फहरेगा तिरंगा : अमित शाह◾देशवासियों को बांटने, संविधान को कमजोर करने की हो रही साजिश : सोनिया◾PM मोदी और नेतन्याहू ने फोन पर वैश्विक और क्षेत्रीय मामलों पर चर्चा की◾गांधी शांति यात्रा पहुंची आगरा ◾भारत-नेपाल सीमा पर पहुंचा कोरोना वायरस, बॉर्डर पर होगी स्क्रीनिंग◾ दिल्ली चुनाव : 250 नेता, हर दिन 500 जनसभाएं, इस तरह माहौल बनाने में जुटी है भाजपा◾आर्थिक विकास के लिए संविधान के मुताबिक चलना होगा - कोविंद◾

निपाह वायरस का प्रकोप सिर्फ केरल तक सीमित : हर्षवर्धन

पशुओं से मनुष्यों में संक्रमण फैलाने वाले निपाह वायरस का प्रकोप भारत में अब तक दो राज्यों (पश्चिम बंगाल और केरल) तक ही सीमित रहा है। राज्यसभा में मंगलवार को सरकार की ओर से यह जानकारी दी गयी। स्वास्थ्य मंत्री डा. हर्षवर्धन ने राज्यसभा में प्रश्नकाल के दौरान बताया कि पूरे देश में निपाह वायरस के प्रसार पर सतर्क निगरानी तंत्र के कारण इस साल भी इसका संक्रमण सिर्फ केरल तक ही सीमित है।

उन्होंने बताया कि चमगादड़ और सूअर या अन्य जानवरों से होने वाले इस वायरस का संक्रमण सबसे पहले 1998-1999 में मलेशिया में हुआ। इसके बाद 2001 और 2007 में निपाह वायरस का पहली बार भारत में संक्रमण पश्चिम बंगाल में देखने को मिला। केरल में पिछले साल इसका प्रकोप सामने आने के बाद इस साल फिर से निपाह के मामले केरल में सामने आये हैं। उन्होंने बताया कि केरल के एर्णाकुलम जिले में इस साल सिर्फ एक मामला सामने आया। इस दौरान किसी अन्य राज्य में अब तक इसके संक्रमण के मामले सामने नहीं आये हैं। 

डा. हर्षवर्धन ने बताया इसके संक्रमण को रोकने के स्थायी समाधान के तौर पर देश भर में सघन निगरानी तंत्र कार्यरत है। उन्होंने बताया कि इस दिशा में व्यापक शोधकार्य भी चल रहा है जिससे इसके प्रतिरूप एवं अन्य माध्यमों से संक्रमण की संभावनाओं को समय रहते निष्प्रभावी बनाया जा सके। 

स्वास्थ्य सेवाओं के प्रसार से जुड़े एक अन्य सवाल के जवाब में डा. हर्षवर्धन ने बताया कि ग्रामीण और शहरी क्षत्रों में 1.5 लाख हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर बनाये जा रहे हैं। इनमें सामान्य बीमारियों के मरीजों की सभी प्रकार की जांच और दवा वितरण की सुविधा होगी। उन्होंने बताया कि अब तक लगभग 19 हजार सेंटर बन गये हैं और 2022 तक 1.5 लाख सेंटर बन जायेंगे।