BREAKING NEWS

PM मोदी ने शपथ लेने पर जो बाइडेन और कमला हैरिस को दी बधाई ◾केंद्र सरकार के प्रस्ताव पर किसान नेताओं का रुख सकारात्मक, बोले- विचार करेंगे ◾लोकतंत्र की जीत हुई है : अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने पहले भाषण में कहा ◾जो बाइडेन बने अमेरिका के 46 वें राष्ट्रपति ◾कमला देवी हैरिस ने अमेरिका की उपराष्ट्रपति के रूप में शपथ लेकर रचा इतिहास ◾सरकार एक से डेढ़ साल तक भी कानून के क्रियान्वयन को स्थगित करने के लिए तैयार : नरेंद्र सिंह तोमर◾कृषि कानूनों पर रोक को तैयार हुई सरकार, अगली बैठक 22 जनवरी को◾TMC कार्यकर्ताओं ने रैली में की विवादित नारेबाजी, नारे से तृणमूल ने खुद को किया अलग◾चुनावों से पहले ममता को एक और झटका, BJP में शामिल हुए अरिंदम भट्टाचार्य◾कृषि कानूनों के खिलाफ टिकरी बॉर्डर पर धरना दे रहे किसान ने खाया जहर, इलाज़ के दौरान हुई मौत◾PM वास्तविकता के प्रति आंखे खोले, शौचालय, आवास और ओडीएफ के 'आंकड़े' को नहीं दोहराना चाहिए : चिदंबरम ◾क्या 26 जनवरी को निकलेगी किसानों की ट्रैक्टर रैली? कमेटी पर उठ रहे सवालों पर CJI सख्त◾आवास योजना के तहत PM मोदी ने जारी की वित्तीय मदद, 2022 तक सबको घर देने का रखा लक्ष्य◾बंगाल : जलपाईगुड़ी सड़क हादसे में 13 की मौत और 18 गंभीर रूप से घायल, PM मोदी ने जताया शोक◾बजट से पहले मोदी कैबिनेट की तैयारी, 30 जनवरी को बुलाई सर्वदलीय बैठक ◾जम्मू-कश्मीर में भारतीय सेना ने तीन घुसपैठियों को मार गिराया, 4 जवान घायल ◾अमेरिका के 46वें राष्ट्रपति के तौर पर बाइडन आज लेंगे शपथ, बयान देते समय हुए भावुक ◾TOP 5 NEWS 20 JANUARY : आज की 5 सबसे बड़ी खबरें ◾कोरोना के खिलाफ टीकाकरण अभियान में अब तक 6.31 लाख स्वास्थ्यकर्मियों को टीका लगाया गया◾मोदी आज प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के लाभार्थियों को जारी करेंगे वित्तीय सहायता ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

निर्भया मामला : दिल्ली हाई कोर्ट ने दोषियों के NHRC वाली याचिका पर सुनवाई से किया इनकार

दिल्ली हाई कोर्ट ने निर्भया मामले के चारों दोषियों के मानसिक, शारीरिक स्वास्थ्य की जांच कराने के लिए एनएचआरसी को निर्देश देने की मांग वाली याचिका पर सुनवाई से इनकार कर किया। मुख्य न्यायाधीश डी एन पटेल और न्यायमूर्ति सी. हरि शंकर की पीठ ने कहा कि याचिका सुनवाई योग्य नहीं है क्योंकि इसे सबसे पहले एनएचआरसी के समक्ष पेश किया जाना चाहिए। 

इससे पहले सोमवार को पटियाला हाउस कोर्ट ने निर्भया सामूहिक दुष्कर्म और हत्या मामले में मृत्युदंड की सजा पाए चारों दोषियों की फांसी पर अगले आदेश तक रोक लगा दी थी । यह रोक तब तक रहेगी जब तक कि दोषियों की दया याचिका पर फैसला नहीं हो जाता। 

बीते छह हफ्तों में यह तीसरा मौका है जब चारों आरोपियों की फांसी की टाली गई है। चारों दोषियों को मंगलवार सुबह छह बजे एक साथ फांसी दी जानी थी। अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश धर्मेंद्र राणा ने कहा कि दोषी पवन गुप्ता की दया याचिका के निस्तारण तक मौत की सजा नहीं दी जा सकती। 

MP की कमलनाथ सरकार ने BJP पर लगाया कांग्रेस के 8 विधायकों को बंधक बनाने का आरोप

गौरतलब है कि 16-17 दिसंबर 2012 की रात फिथिजियोरेपी की 23 वर्षीय छात्रा से दक्षिणी दिल्ली में चलती बस में सामूहिक बलात्कार किया गया था और लगभग 15 दिन बाद मौत हो गई थी। बाद में मृतक को निर्भया नाम दिया गया था। इस मामले में मुकेश, पवन , विनय, अक्षय कुमार और एक किशोर समेत छह लोग आरोपी थे। छठे आरोपी राम सिंह ने मामले की सुनवाई शुरू होने के बाद कथित रूप से तिहाड़ जेल में आत्महत्या कर ली थी। वहीं किशोर को तीन साल सुधार गृह में रखने के बाद 2015 में रिहा कर दिया गया था।