BREAKING NEWS

ममता बनर्जी ने गोवा में गठबंधन के लिये सोनिया से किया था संपर्क - TMC◾कोरोना वायरस टीके की बूस्टर खुराक अब लोगों को दी जानी चाहिए - WHO◾स्वास्थ्य मंत्रालय ने दी जानकारी ; को-विन पोर्टल से कोई डेटा लीक नहीं हुआ है◾कांग्रेस आलाकमान की हरी झंडी के बाद हरक सिंह रावत की पार्टी में हुई वापसी ◾अमेरिका-कनाडा सीमा पर 4 भारतीयों की मौत : विदेश मंत्री ने भारतीय राजदूतों से तत्काल कदम उठाने को कहा ◾अमर जवान ज्योति को लेकर गरमाई राजनीति, BJP ने साधा राहुल पर निशाना◾PM मोदी कल विभिन्न जिलों के DM के साथ करेंगे बातचीत , सरकारी योजनाओं का लेंगे फीडबैक ◾DELHI CORONA UPDATE: सामने आए 10756 नए केस, 38 की हुई मौत◾केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह से नौसेना प्रमुख ने की मुलाकात, डीप ओशन मिशन के तौर-तरीकों पर हुई चर्चा◾गोवा: उत्पल पर्रिकर ने भाजपा छोड़ी, पणजी से निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर लड़ेंगे चुनाव ◾BJP ने 85 उम्‍मीदवारों की दूसरी लिस्ट जारी की, कांग्रेस छोड़कर आईं अदिति सिंह को रायबरेली से मिला टिकट◾उत्तर प्रदेश : मुख्‍यमंत्री योगी ने किया चुनावी गीत जारी, यूपी फ‍िर मांगें भाजपा सरकार◾ भारत सरकार ने पाक की नापाक साजिश को एक बार फिर किया बेनकाब, देश विरोधी कंटेंट फैलाने वाले 35 यूट्यूब चैनल किए बंद ◾भाजपा ने पंजाब विधानसभा चुनाव के लिए 34 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी की ◾मणिपुर के 50 वें स्थापना दिवस पर पीएम ने दिया बयान, राज्य को भारत का खेल महाशक्ति बनाना चाहती है सरकार ◾15-18 आयु के चार करोड़ से अधिक किशोरों को मिली कोविड की पहली डोज, स्वास्थ्य मंत्रालय ने दी जानकारी ◾शाह ने साधा वाम दलों पर निशाना, कहा- कम्युनिस्टों का सियासी प्रतिद्वंद्वियों के खिलाफ हिंसा का रहा इतिहास ◾UP चुनाव को लेकर बिहार में गरमाई सियासत, तेजस्वी शुरू करेंगे SP के समर्थन में प्रचार, BJP पर कसा तंज... ◾ कर्नाटक सरकार ने खत्म किया कोरोना का वीकेंड कर्फ्यू, लेकिन ये पाबंदी लागू ◾नेशनल वॉर मेमोरियल में जल रही लौ में मिली इंडिया गेट की अमर जवान ज्‍योति◾

एनआईसी की E-mail प्रणाली पर कोई साइबर हमला नहीं हुआ : केंद्र

केंद्र सरकार ने रविवार को कहा कि उसकी ईमेल प्रणाली पर कोई साइबर हमला नहीं हुआ है जिसका नेशनल इंफोर्मेटिक्स सेंटर (एनआईसी) रखरखाव करता है। इलेक्ट्रॉनिक और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने एक आधिकारिक विज्ञप्ति में इस तरह की एक खबर को खारिज करते हुए कहा गया कि ईमेल प्रणाली पूरी तरह से सुरक्षित है।

खबर में दावा किया गया था कि एयर इंडिया, बिग बास्केट और डोमिनोज जैसे संगठनों के डेटा में सेंध लगने से एनआईसी के ईमेल खाते और पासवर्ड हैकर के पास चले गए हैं। विज्ञप्ति में कहा गया, इसे देखते हुए यह साफ करना जरूरी है कि भारत सरकार की उस ईमेल प्रणाली पर कोई साइबर हमला नहीं हुआ जिसका एनआईसी रखरखाव करता है। 

मेल प्रणाली पूरी तरह से सुरक्षित है। इसमें यह भी कहा गया कि बाहरी पोर्टल पर साइबर हमले से सरकार की ईमेल सेवा के उपयोगकर्ताओं पर शायद कोई असर न पड़े और असर तभी पड़ेगा अगर उपयोगकर्ताओं ने इन पोर्टल पर अपने आधिकारिक ईमेल पते और उसी पासवर्ड का इस्तेमाल किया हो जो सरकारी ईमेल खाते से जुड़ा है।

विज्ञप्ति के अनुसार एनआईसी ईमेल प्रणाली में टू-फैक्टर ऑथेंटिफिकेशन और 90 दिनों के भीतर पासवर्ड बदलने जैसे कई सुरक्षा उपाए किए गए हैं।

साथ ही एनआईसी ईमेल का पासवर्ड बदलने के लिए मोबाइल ओटीपी (वन टाइम पासवर्ड) की जरूरत होती है और गलत मोबाइल ओटीपी डालने पर पासवर्ड बदलना संभव नहीं होगा। इसमें कहा गया कि एनआईसी समय-समय पर जागरुकता अभियान चलाता है और उपयोगकर्ताओं को संभावित खतरों एवं सुरक्षा प्रोटोकॉल की जानकारी देता है।