BREAKING NEWS

कृष्ण जन्मभूमि मामला : Court मस्जिद हटाने का अनुरोध करने वाली याचिका पर करेगी विचार ◾आज का राशिफल ( 20 मई 2022) ◾RCB vs GT ( IPL 2022 ) : कोहली के बल्ले से निकली आरसीबी की जीत और प्लेऑफ की उम्मीद◾पंजाब में कांग्रेस को पड़ी दोहरी मार : सिद्धू को एक साल की सजा, जाखड़ ने थामा भाजपा का दामन◾भारतीय मुक्केबाज निकहत जरीन बनीं विश्व चैंपियन , PM मोदी ने दी बधाई ◾ इंडोनेशिया के ऐलान से भारत को राहत, जल्द ही कम हो सकते हैं खाने के तेल के दाम◾ अदालत में दाखिल याचिका को लेकर भड़के ओवैसी, बोले- मुसलमानों के खिलाफ अविश्वास पैदा करने की हो रही कोशिश◾Gyanvapi News: ज्ञानवापी मस्जिद पर अभिनेत्री कंगना बोलीं- काशी के कण- कण में बसे हुए हैं भगवान शिव◾ RCB vs GT: गुजरात टाइटंस ने टॉस जीतकर किया बल्लेबाजी का फैसला, यहां देखे दोनो टीमों की प्लेइंग इलेवन◾Quad Summit 2022: टोक्यो में शुरू होगा मोदी का मिशन, 24 मई को जाएंगे जापान, दिग्गज नेताओं के साथ होगी बातचीत ◾UP: स्वतंत्रता सेनानियों पर भावुक होकर योगी बोले- पिछली सरकारो ने इनके आदर्शों पर नहीं किया काम◾DU को संबोधित करते हुए शाह ने कहा: नहीं होनी चाहिए राजनीतिक लड़ाई, जिक्र किया- रक्षा नीति का.... ◾Gyanvapi Survey: वाराणसी अदालत में 23 मई को होगी अगली सुनवाई, दर्ज की जा चुकी है सर्वे रिपोर्ट ◾ अमित शाह से मिले CM भगवंत मान, PAK से ड्रोन घुसपैठ को लेकर MHA से की ये बड़ी मांग◾1988 रोड रेज केस : एक साल की सजा पर बोले सिद्धू-कानून का सम्मान करूंगा◾Delhi High Court ने लगाई घर-घर राशन योजना पर रोक, कहा: दिल्ली सरकार नहीं कर सकती केंद्र के राशन का इस्तेमाल ◾'कुछ नेता ही कांग्रेस के राष्ट्रीय नेतृत्व को कर रहे हैं गुमराह', इस्तीफे के बाद बोले हार्दिक◾जिसका शिवपाल को था इंतजार.. वो घड़ी आ गई! आजम की जमानत का चाचा-भतीजे पर कैसा होगा असर? ◾SC से रिहाई के बाद फिर जेल जा सकते हैं आजम खान, जानिए किस मामले में फंस सकते हैं SP नेता ◾Delhi News: राजधानी फिर हुई धुआं-धुंआ! मुस्तफाबाद की फैक्ट्री में लगी भीषण आग, दमकल की गाड़ियां मौके पर मौजूद◾

NPR गणनाकार लोगों के जन्म का माह पता लगाने में अंग्रेजी महीनों, त्यौहारों का जिक्र करेंगे

नयी दिल्ली : गृह मंत्रालय ने रविवार को कहा कि राष्ट्रीय जनसंख्या पंजी (एनपीआर) के गणनाकार अंग्रेजी या ग्रेगोरी कैलेंडर और महत्वपूर्ण भारतीय त्यौहारों का जिक्र करके लोगों के जन्म का माह पता लगाने की कोशिश करेंगे। 

गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने एनपीआर गणनाकारों की नियम पुस्तिका में किसी मुस्लिम त्यौहार को शामिल नहीं किए जाने संबंधी बात को तवज्जो नहीं देते हुए कहा कि इसमें जनगणना 2011 और एनपीआर 2010 के मानकों के अनुसार भारतीय त्यौहारों की सूची शामिल की गई है। 

अधिकारी ने बताया कि यह बात गौर करने योग्य है कि त्यौहारों संबंधी पृष्ठ को नियम पुस्तिका के उन पृष्ठों के साथ पढ़ा जाए जिनमें जन्मतिथि संबंध प्रश्न का जिक्र किया गया है। उन्होंने कहा कि इस पृष्ठ का उद्देश्य गणनाकारों की मदद करना है ताकि वे उत्तर देने वालों के जन्म के माह का अंदाजा लगा सकें। 

नियम पुस्तिका के अनुसार जब उत्तर देने वाले को केवल जन्म का साल पता होता है तो गणनाकारों को चरणबद्ध नजरिया अपनाना होता है और इसके तहत वे जन्म के समय के मौसम एवं त्यौहारों के बारे में पूछकर अंदाज लगा सकता है।