BREAKING NEWS

ऑड-ईवन योजना विस्तार पर निर्णय सोमवार को : केजरीवाल ◾कश्मीर में हालात हो रहे सामान्य, हिरासत से नेताओं को रिहा किया जाएगा, समयसीमा तय नहीं : गृह मंत्रालय ◾शिवसेना 25 सालों तक राज करेगी : संजय राउत ◾भाजपा ने कांग्रेस मुख्यालय पर लगाए नारे, राहुल ने क्या किया, देश को किया शर्मसार◾शिवसेना-राकांपा-कांग्रेस सरकार कार्यकाल पूरा करेगी : पवार ◾शीतकालीन सत्र के लिए सरकार के एजेंडा में नागरिकता विधेयक ◾कश्मीर में आतंकियों एवं शहरी नक्सलियों के खिलाफ प्रभावी एवं निर्णायक कार्रवाई करे सीआरपीएफ : शाह ◾पाकिस्तान अगर भारत से अच्छे संबंध चाहता है तो वांछित भारतीय अपराधियों को सौंपे : जयशंकर ◾बाबरी मस्जिद के पास रहने वाले परिवार ने खोलीं अयोध्या विवाद की परतें ◾दिल्ली -NCR में प्रदूषण पर बैठक से सांसद गंभीर और शीर्ष अधिकारी गैरहाजिर रहे ◾दिल्ली की जिला अदालतों में वकीलों की हड़ताल खत्म ◾CJI गोगोई ने सेवानिवृत्त होने से पहले अयोध्या पर फैसले के साथ इतिहास के पन्नों में नाम दर्ज कराया ◾प्रधानमंत्री ने प्रदूषण की ‘आपात स्थिति’ पर मुख्यमंत्रियों के साथ कितनी बैठकें कीं?: कांग्रेस ◾दिल्ली में प्रदूषण से निपटने के लिए सभी एजेंसियों को साथ मिलकर काम करना होगा : जावड़ेकर ◾प्रदूषण पर संसदीय समिति की बैठक में नहीं आने पर गंभीर की सफाई◾महाराष्ट्र : चन्द्रकांत पाटिल बोले- भाजपा के पास 119 विधायकों का समर्थन, जल्दी ही सरकार बनाएंगे◾TOP 20 NEWS 15 NOV : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾प्रियंका गांधी बोली- भाजपा सरकार भी डींगें हांकने के लिए डाटा छिपाने में लगी है◾प्रदूषण को लेकर SC ने 4 राज्यों के चीफ सेक्रेटरी को किया तलब, कहा- ऑड-ईवन स्थायी समाधान नहीं◾INX मीडिया : दिल्ली हाई कोर्ट ने खारिज की चिदंबरम की जमानत याचिका ◾

देश

एनएससीएन (आईएम) ने मोदी पर जताया भरोसा

नागा राजनीतिक समस्या का जल्द से जल्द समाधान निकाले जाने का केन्द्र सरकार का संदेश मिलने के एक दिन बाद शनिवार को नेशनल सोशलिस्ट काउंसिल ऑफ नागालैंड (एनएससीएन-आईएम) ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर भरोसा जताते हुए कहा कि यह समय नागा लोगों के एकजुट होने का है। 

एनएससीएन (आईएम) के अध्यक्ष कहेजू टुक्कु ने एक बयान में कहा, ‘‘प्रिय नागा भाइयों, यह समय नागा लोगों के एकजुट होने का है। हम खून, इतिहास, संस्कृति, विश्वास, राजनीति से एक हैं और सबसे बड़ बात कि हम ईश्वर के लोग हैं।’’ 

एनएससीएन (आईएम) के अध्यक्ष ने कहा कि कि अगस्त 2015 में एनएससीएन(आईएम नेताओं और नागा शांति प्रक्रिया के वार्ताकार आर एन रवि के बीच फ्रेमवर्क समझौते पर हस्ताक्षर होने का मतलब ‘दो विरोधी दलों का मिलना था’। उन्होंने विश्वास जताया कि यह समझौता लंबे संमय से चले आ रहो भारत-नागा राजनीतिक संघर्ष का सम्मानजनक और स्वीकार्य समाधान करेगा। 

बयान में कहा गया कि समझौते में भारत की सुरक्षा संबंधी चिंताएं और नागाओं के ऐतिहासिक और राजनीति अधिकारों का मुद्दा शामिल है। 

बयान में शांति की पूरी प्रक्रिया में प्रधानमंत्री नरेंद, मोदी की भूमिका की सरहाना की गई और कहा गया कि, ‘‘नागा लोगों के पास श्री मोदी और दूरदर्शी एवं उदार भारतीय अधिकारियों की सराहना करने और उन्हें धन्यवाद देने के कारण हैं।’’