BREAKING NEWS

आज का राशिफल (03 फरवरी 2023)◾पाकिस्तान: PM शहबाज शरीफ ने कराची में परमाणु संयंत्र की तीसरी इकाई का उद्घाटन किया◾वीरेन्द्र सचदेवा ने कहा- 'दिल्ली के LG पर गैरजिम्मेदाराना टिप्पणी करना उचित नहीं'◾यूपी: राम जन्मभूमि स्थल को बम से उड़ाने की 'धमकी', पुलिस सतर्क◾दिल्ली: HC का जेल अधिकारियों को निर्देश, PFI के पूर्व प्रमुख अबूबकर को प्रभावी इलाज कराया जाए उपलब्ध ◾CM योगी बोले- सप्तऋषि की तरह देश का मार्गदर्शन करेगा केंद्रीय बजट, यूपी को होगा विशेष लाभ◾महाराष्ट्र एटीएस ने PFI के पांच गिरफ्तार सदस्यों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल किया ◾CM केजरीवाल ने कहा- मेरी अंग्रेजी इतनी अच्छी नहीं है, जितनी अच्छी हमारे स्कूलों के बच्चे बोलते हैं◾बिहार : 'वीडियो बंद करिए न', खगड़िया में महिला हेल्थ ऑफिसर से फेस मसाज कराने का वीडियो वायरल, जानें पूरा मामला ◾स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा- अपमानजनक टिप्पणियों का दर्द केवल महिलाएं और शूद्र ही समझ सकते हैं◾उम्मीद है कि सुप्रीम कोर्ट GNCTD संशोधन अधिनियम को खत्म कर देगा : मुख्यमंत्री केजरीवाल◾लश्कर के आतंकी के पास से पहली बार मिला 'Perfume Bomb', सरकारी स्कूल में पढ़ाता था आतंकी◾छत्तीसगढ़: CRPF ने नक्सल प्रभावित जिले में स्थापित किया शिविर◾बाल विवाह के खिलाफ असम में 4000 से ज्यादा मुकदमे, CM himant biswa लेंगे एक्शन◾रामचरितमानस विवाद: VHP की सपा व राजद की मान्यता रद्द करने की मांग, सीईसी से मिलने का समय मांगा◾कांग्रेस के नेतृत्व वाली विपक्षी दलों ने Adani group के मामले में JPC जांच की मांग की◾मनीष सिसोदिया ने कहा- LG वीके सक्सेना के दखल की वजह से दिल्ली सरकार शिक्षकों को प्रशिक्षण के लिए विदेश नहीं भेज पा रही◾पाकिस्तान में बलूचिस्तान के लासबेला में भूकंप के झटके महसूस किए गए◾बिहार में बड़ा रेल हादसा : दो हिस्सों में बटी सत्याग्रह एक्सप्रेस, बाल-बाल बचे यात्री◾अडानी पर हमलावर हुआ विपक्ष, पवन खेड़ा ने कहा- PM मोदी ने एक गुब्बारा फुलाया और वो फुस्स हो गया◾

कांग्रेस के अलावा 6 अन्य विपक्षी ने भी राष्ट्रपति कोविंद को लिखा पत्र, दिल्ली हिंसा के आरोपियों पर दर्ज हो FIR

गैर कांग्रेसी छह विपक्षी दलों ने राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद से दिल्ली हिंसा के आरोपी एवम भड़काऊ भाषण देने वाले नेताओं के खिलाफ तत्काल प्राथमिकी दर्ज करने की मांग की है और राहत शिविर खोलने का अनुरोध किया है। 

कोविंद ने इन दलों को जब मिलने के लिए समय नहीं दिया तो मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) महासचिव सीताराम येचुरी, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) महासचिव डी. राजा, राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के मनोज झा, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के प्रफुल पटेल, आम आदमी पार्टी (आप) के संजय सिंह, द्रविड मुनेत्र कषगम (द्रमुक) के टी.आर.बालू और लोकतांत्रिक जनता दल (लोजप) के शरद यादव ने उन्हें पत्र लिखकर यह मांग की। 

पत्र में इन नेताओं ने कोविंद से कहा कि वे राजधानी में हिंसा की घटनाओं से काफी व्यथित हैं जिसमें 42 लोग मारे गए। इसलिए आपसे मिलकर हम लोग कुछ बातें कहना चाहते थे और आप से इस मामले में हस्तक्षेप करने की मांग करना चाहते थे लेकिन हमें बताया गया कि आप 28 फरवरी से दो मार्च के बीच हमलोगों से मिलने वास्ते उपलब्ध नहीं हैं तो हम लोग इस पत्र के जरिये आपसे कुछ बातें कहना चाहेंगे। 

पत्र में कहा गया है , 'दिल्ली में पिछले दिनों जो घटनाएं घटी वो बहुत ही शर्मनाक है और इस घटनाओं में 42 लोग मारे गये और 200 घायल हो गए। लोगों के घर - दुकानें जलाई गई। इसकी हम कड़ी निंदा करते हैं और आपसे मांग करते है कि जिन लोगों ने भड़काऊ भाषण दिए उनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज होनी चाहिए। '

साथ ही मांग की गयी है कि दंगे से प्रभावितों के लिए राहत शिविर स्थापित किये जायें और उप राज्यपाल को निर्देश दिया जाए कि स्थिति को जल्द से जल्द सामान्य बनाया जाए। जो हताहत हुए है और त्रिनकी दुकान जली हैं उन्हें उचित मुआवजा दिया जाए। पत्र में इन नेताओं ने कहा कि हिंसाग्रस्त इलाकों में उन्हें मार्च कर शान्ति बहाल करने में सहयोग करने की अनुमति दी जाए।

भड़काऊ बयानबाजी को लेकर दायर याचिका पर दिल्ली हाई कोर्ट का केंद्र और दिल्ली सरकार को नोटिस