नयी दिल्ली : विपक्षी दलों के नेताओं के यहां तेदेपा प्रमुख एन चंद्रबाबू नायडू की भूख हड़ताल के समर्थन में जुटने पर भाजपा ने सोमवार को दावा किया कि उसके प्रतिद्वंद्वियों के हाथ मिलाने से उसे मदद मिलेगी क्योंकि ये सभी एक से अधिक आरोपों के ‘कटघरे में’ हैं। भाजपा प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा राव ने यहां संवाददाताओं से कहा कि उनकी पार्टी के विरोधी अपना राजनीतिक अस्तित्व बचाने के लिए ‘ईमानदार’ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ एकजुट हो रहे हैं।

उन्होंने कहा ‘ इससे हमें मदद ही मिलेगी। ये सभी आरोपों के कटघरे में हैं। उनके पास न कोई एजेंडा है और न ही कोई नेता।’ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा विपक्षी नेताओं के एक साथ आने को लेकर इस्तेमाल किए गए एक वाक्य का प्रयोग करते हुए राव ने कहा कि ‘यह महामिलावट का एक नजारा है।’

राव ने आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू पर निशाना साधते हुए उनकी भूख हड़ताल को एक ‘नाटक’ करार दिया और कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव में वह सत्ता से बाहर हो जाएंगे। नायडू ने आंध्र प्रदेश के लिए विशेष राज्य के दर्जे की मांग को लेकर एक दिन की भूख हड़ताल की।