BREAKING NEWS

संगीत सोम का मंच से धमकी भरा बयान, कहा-'मैं अभी गया नहीं, अब भी 100 विधायकों के बराबर हूं'◾बीजेपी के निशाने पर कांग्रेस, सोशल मीडिया पोस्ट के जरिए आतंकवाद, भ्रष्टाचार और परिवारवाद का लगाया आरोप ◾एक्सप्रेस ट्रेन और मालगाड़ी में जोरदार टक्कर,चार पहिए पटरी से उतरे, मची अफरा-तफरी ◾महाराष्ट्र : आज से शुरू होगा विधानसभा का मानसून सत्र, पहली बार विपक्ष में बैठेंगे आदित्य ठाकरे◾Coronavirus : 24 घंटे में दर्ज हुए 9 हजार केस, 2.49% रहा डेली पॉजिटिविटी रेट◾Jammu Kashmir: सुरक्षाबलों पर ग्रेनेड फेंक फरार हुए आतंकी, सर्च अभियान में हथियार-गोलाबारूद बरामद◾मुश्किलों में फंस सकते है कांग्रेस नेता केसी वेणुगोपाल, सीबीआई कसेगी शिकंजा ◾आज का राशिफल (17 अगस्त 2022)◾बिहार में मिशन 35 प्लस के लक्ष्य के साथ नीतीश-तेजस्वी सरकार के खिलाफ मैदान में उतरेगी भाजपा◾PM मोदी और मैक्रों ने भू-राजनीतिक चुनौतियों, असैन्य परमाणु ऊर्जा सहयोग पर चर्चा की◾अपने अंतिम दिनों में, ठाकरे सरकार ने जल्दबाजी में लिए फैसले : CM शिंदे◾ चीनी पोत पहुंचा श्रीलंका हम्बनटोटा बंदरगाह , भारत ने जताई जासूसी की आशंका◾चीनी ‘जासूसी पोत’ पहुंचा श्रीलंकाई बंदरगाह , बीजिंग बोला-जहाज किसी के सुरक्षा हितों के लिए खतरा नहीं◾दिल्ली में फिर से आया कोरोना, 917 नए मामले आये सामने , तीन की मौत◾कांग्रेस संगठन में बड़ा बदलाव, रसूल वानी बने जम्मू-कश्मीर कांग्रेस के अध्यक्ष◾AAP सरकार के पांच महीने पूरे होने पर 5 मंत्रियों ने पेश किया रिपोर्ट कार्ड◾मुंबई पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, गुजरात की फैक्ट्री में मारा छापा, 1026 करोड़ का नशीला पदार्थ जब्त◾गुजरात दंगों में बिल्कीस बानो दुष्कर्म के दोषी जेल से रिहा, राजनीति का शिकार होने का किया बड़ा दावा◾दिल्ली सरकार ने कोविड संबंधी आंकड़ों के प्रबंधन के लिए बनाई दो टीम, एक सरकारी आदेश में दी जानकारी ◾टारगेट किलिंग पर ओवैसी का फूटा गुस्सा, केंद्र पर निशाना साधते हुए कहा- पंडितों को सुरक्षा प्रदान करने में विफल रहा◾

Winter Session: लखीमपुर केस में इस्तीफे पर विपक्षी दल कल निकालेंगे गांधी प्रतिमा से विजय चौक तक मार्च

विपक्षी दलों के लोकसभा और राज्यसभा के सांसद मंगलवार को लखीमपुर मामले पर गृह राज्य मंत्री के इस्तीफे की मांग को लेकर संसद परिसर की गांधी प्रतिमा से विजय चौक तक मार्च करेंगे। दरअसल केंद्र सरकार ने सोमवार सुबह 10 बजे बैठक बुलाई थी। केंद्र सरकार की ओर से इस बैठक में उन दलों को बुलाया था, जिनके सांसद निलंबित किये गए हैं। संसद में शीतकालीन सत्र के पहले दिन राज्यसभा से विपक्ष के 12 सांसदों को निलंबित गया था।

केंद्र सरकार के रवैये को खड़गे ने बताया दुर्भाग्यपूर्ण

वहीं इस मामले पर अब विवाद भी शुरू हो गया है। राज्यसभा में विपक्ष के नेता और कांग्रेस सांसद मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि केंद्र सरकार ने सभी विपक्षी दलों के नेताओं को आमंत्रित करने के बजाए केवल 4 या 5 दलों के नेताओं को ही आमंत्रित किया है जो अनुचित और दुर्भाग्यपूर्ण व्यवहार है। उन्होंने कहा कि पूरा विपक्ष इस मुद्दे पर एकजुट है। ये विपक्ष को बांटने की साजिश है। हमने केंद्र को सर्वदलीय बैठक बुलाने की मांग करते हुए पत्र लिखा है।

इस सम्बंध में कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस, भाकपा-माकपा और शिवसेना के फ्लोर नेताओं ने पुष्टि की है कि उन्हें केंद्रीय संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी से बैठक बुलाने के लिए संदेश मिले थे। सोमवार को इस मसले पर विपक्षी पार्टियों की बैठक में राज्यसभा के 12 सांसदों के निलंबन, लखीमपुर खीरी हिंसा पर गृह राज्य मंत्री का इस्तीफा,संसदीय कार्य राज्य मंत्री द्वारा बैठक में बुलाए जाने पर भी चर्चा की गई है। 

मार्च में 18 विपक्षी दाल के नेता हो सकते हैं शामिल 

इस बैठक में ये निर्णय लिया गया है कि सभी विपक्षी पार्टी के लोकसभा और राज्यसभा के सांसद मंगलवार को लखीमपुर मामले पर गृह राज्य मंत्री अजय टेनी के इस्तीफे की मांग को लेकर संसद परिसर की गांधी प्रतिमा से विजय चौक तक मार्च करेंगे। इस मार्च के माध्यम से विपक्षी दल अपनी बात संसद से सड़क तक रखेंगे, ताकि केंद्र सरकार पर एक दबाव बनाया जा सके। 

मुख्य विपक्षी दल होने के नाते कांग्रेस पार्टी की ओर से ही उम्मीद लगाई जा रही है कि इस मार्च में 18 विपक्षी दल के नेता शामिल होंगे। इससे पहले विपक्षी दलों ने संसद के शीतकालीन सत्र में संसद से लेकर विजय चौक तक एक अन्य मार्च निकाला था जिसमें कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी भी शामिल हुए थे।

राहुल गांधी बोले-लोकतंत्र पर हो रहा हमला, सदन चलाना विपक्ष की नहीं, सरकार की जिम्मेदारी है